Top
पंजाब

पंजाब में भाजपा के 10 वरिष्ठ पदाधिकारियों ने छोड़ी भगवा पार्टी, शिरोमणि अकाली दल में हुए शामिल

Janjwar Desk
16 Jan 2021 2:13 PM GMT
पंजाब में भाजपा के 10 वरिष्ठ पदाधिकारियों ने छोड़ी भगवा पार्टी, शिरोमणि अकाली दल में हुए शामिल
x
शिरोमणि अकाली दल में शामिल होने के दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में उन्होंने यह फैसला लिया है....

जनज्वार ब्यूरो/बठिंडा। भारतीय जनता पार्टी को शुक्रवार 15 जनवरी मालवा क्षेत्र में उस समय बड़े झटके का सामना करना पड़ा जब दस वरिष्ठ पदाधिकारियों ने सुखबीर सिंह बादल की मौजूदगी में भगवा पार्टी को छोड़कर शिरोमणि अकाली दल में शामिल हो गए।

शिरोमणि अकाली दल में शामिल होने वालों में बलविंदर सिंह (पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष किसान मोर्चा, भाजपा), सुखदेव सिंह फरमाही (भाजपा के पूर्व मनसा जिला अध्यक्ष), बलकार सिंह सहोता, जगतार सिंह तारी (पूर्व जिला अध्यक्ष एससी मोर्चा, भाजपा), सुरजीत कौर (पूर्व महिला मोर्चा और मनसा जिले की अध्यक्ष), राजिंदर कुमार राजी, बलजीत सिंह चहल, बहादुर खान, रविंदर कुमार शर्मा और बघेल सिंह (भाजपा बीसी मोर्चा सदस्य) शामिल हैं।

शिरोमणि अकाली दल में शामिल होने के दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में यह निर्णय लिया गया है।

शिरोमणि अकाली दल के नेताओं ने कहा कि भाजपा के दस नेताओं के शामिल होने के साथ ही बड़ी संख्या में उनके समर्थक भी शामिल होंगे। शिअद के नेताओं ने कहा कि उन्होंने शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष को आश्वासन दिया है कि जल्द ही और समर्थक शिअद में शामिल होंगे और वे इसके लिए एक समारोह का आयोजन करेंगे।

बलविंदर सिंह और सुखदेव सिंह फरमाही ने कहा, 'हमने राज्य की भाजपा ईकाई को आगाह किया था कि यदि वह किसान विरोधी कदम वापस नहीं लेते हैं तो वह गांव में किसी भी कार्यर्ता को नहीं छोड़ेंगे। हालांकि, जब पार्टी ने हमारी सलाह को मानने से इनकार कर दिया और इसके बजाय हमसे नफरत वाले कृषि कानूनों का बचाव करने के लिए कहा, तो हमने अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनी और पार्टी छोड़ने का फैसला किया। अब हम किसान आंदोलन के साथ-साथ शिअद और सुखबीर सिंह बादल के हाथों को मजबूत करेंगे।'

शिअद में शामिल हुए भाजपा नेताओं का स्वागत करते हुए शिअद अध्यक्ष ने कहा कि यह जिले में शिअद को और मजबूत करेगा। उन्होंने उन्हें पार्टी में उचित सम्मान देने का भी आश्वासन दिया।

मीडियाकर्मियों से बातचीत में शिअद अध्यक्ष ने कहा कि अगले कुछ दिनों में बीजेपी को एक और बड़ा झटका लगेगा क्योंकि मालवा से अन्य कई नेता पार्टी में शामिल होने का मन बना रहे हैं।


Next Story

विविध

Share it