राजस्थान

Rajasthan News: चित्तौड़गढ़ के नारकोटिक्स विभाग में फूटा BJP सांसद का गुस्सा, कर्मचारी को जड़ा जोरदार थप्पड़

Janjwar Desk
3 Nov 2022 7:23 AM GMT
Rajasthan News: चित्तौड़गढ़ के नारकोटिक्स विभाग में फूटा BJP सांसद का गुस्सा, कर्मचारी को जड़ा जोरदार थप्पड़
x

Rajasthan News: चित्तौड़गढ़ के नारकोटिक्स विभाग में फूटा BJP सांसद का गुस्सा, कर्मचारी को जड़ा जोरदार थप्पड़

Rajasthan News: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से BJP सांसद CP Joshi द्वारा एक सरकारी कर्मचारी को थप्पड़ मारने का वीडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा कि सांसद सीपी जोशी नारकोटिक्स कर्मचारी द्वारा कथित वसूली की शिकायत लेकर बुधवार को ऑफिस पहुँचे थे...

Rajasthan News: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से BJP सांसद चंद्र प्रकाश जोशी (CP Joshi) द्वारा एक सरकारी कर्मचारी को थप्पड़ मारने का वीडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा कि सांसद सीपी जोशी नारकोटिक्स कर्मचारी द्वारा कथित वसूली की शिकायत लेकर बुधवार को ऑफिस पहुँचे थे। यहां एक सरकारी कर्मचारी से बात करने के बाद सांसद ने उसे अचानक थप्पड़ जड़ दिया।

पूरा मामला प्रतापगढ़ का बताया जा रहा है। जहां नारकोटिक्स विभाग में पट्टा नामांतरण को लेकर रिश्वत मांगे जाने कि शिकायत सांसद को मिली थी। Viral Video में सांसद अफीम के पट्टे वितरण में दलालों द्वारा लिए जा रहे पैसे पर गहरी नाराजगी जाहिर करते रहे। थप्पड़ मारने के दौरान मौके पर कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

क्या है पूरा मामला?

प्रतापगढ़ जिले में अफीम पट्टों के नामांतरण का काम चल रहा है। जहां इस काम को करवाने की एवज में एक सख्श से रिश्वत मांगने का मामला सामने आया था। शिकायत की गई थी कि कर्मचारी अफीम पट्टों के नामांतरण के लिए रिश्वत मांग रहे हैं। जब इस शिकायत का जानकारी सांसद सीपी जोशी को मिला तो वह नारकोटिक्स कार्यालय प्रतापगढ़ पहुँच गये। यहां अधिकारियों कर्मचारियों से रिश्वत मामले की पूछताछ की।

नारकोटिक्स कार्यालय पहुँचे भाजपा सांसद ने उस कर्मचारी को बुलाने के लिए कहा जिसके खिलाफ शिकायत मिली थी। कर्मचारी के आते ही जोशी ने उससे रिश्वत की बात पूछी और फिर अचानक थप्पड़ जड़ दिया। साथ ही सांसद जोशी ने वहां मौजूद अन्य कर्मचारियों को भी फटकारा।

अधिकारियों को दो टूक

किसानों को अफीम पट्टों के नाम पर लूटे जाने की बात पर नाराज सांसद ने पुलिस के सामने अधिकारियों को दो टूक समझाया कि किसी भी प्रकार से किसानों से पैसा न लिया जाए। जो पैसा ले रहा है उसपर तुरत कार्रवाई की जाए। बताया जा रहा है कि थप्पड़ खाने वाला कार्मिक ठेका कर्मचारी है।

कमाई का जरिया अफीम

गौरतलब है कि अफीम नीति की लोगों के लिए कमाई का जरिया बन गई है। जिसमें इस वक्त कई दलाल भी सक्रिय हैं। अफीम के पट्टे दिलवाने के लिए दलाल 20 से 80 हजार रूपये वसूल रहे हैं। मध्य प्रदेश और राजस्थान के अफीम उत्पादक जिलों में बीते दिनों ऐसे कई मामले सामने आये हैं।

Next Story