Top
राजस्थान

राजस्थान में अब भाजपा को सता रहा खरीद फरोख्त का डर, 18-20 विधायकों को गुजरात भेजा

Janjwar Desk
9 Aug 2020 2:30 AM GMT
राजस्थान में अब भाजपा को सता रहा खरीद फरोख्त का डर, 18-20 विधायकों को गुजरात भेजा
x

Photo Credit : Dev Ankur Wadhawan

जालौर, सिरोही और उदयपुर संभाग के करीब एक दर्जन विधायकों को अहमदाबाद के एक रिसॉर्ट में शुक्रवार रात को शिफ्ट किया गया है, वहीं छह विधायकों के समूह को जयपुर एयरपोर्ट से चार्टर्ड प्लेन से पोरबंदर भेजा गया...

जयपुर। यह केवल कांग्रेस नहीं है जिसे राजस्थान में भाजपा से विधायकों के खरीद-फरोख्त का डर है, बल्कि भाजपा भी अपने विधायकों को एकजुट रखने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस द्वारा उसके विधायकों को होटल भेजे जाने पर आपत्ति उठाने वाली, विपक्षी पार्टी ने अपने 18-20 विधायकों को भाजपा शासित गुजरात भेज दिया है।

जालौर, सिरोही और उदयपुर संभाग के करीब एक दर्जन विधायकों को अहमदाबाद के एक रिसॉर्ट में शुक्रवार रात को शिफ्ट किया गया है, वहीं छह विधायकों के समूह को जयपुर एयरपोर्ट से चार्टर्ड प्लेन से पोरबंदर भेजा जा रहा था।

राजस्थान भाजपा के प्रमुख सतीश पुनिया ने पार्टी विधायकों को बाहर भेजे जाने को भ्रमण यात्रा बताया, जबकि यह स्वीकार भी किया कि उन्हें कांग्रेस और राज्य के वरिष्ठ अधिकारी प्रलोभन दे रहे हैं। इसलिए उन्हें टूर पर भेजा जा रहा है।

पुनिया ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि सत्तारूढ़ कांग्रेस अपने फायदे के लिए राजस्थान में सरकारी मशीनरी को दुरुपयोग कर रही है।

उन्होंने कहा कि कई अधिकारियों ने हमारे ट्राइबल बेल्ट के विधायकों से मुलाकात की और उन्हें कई तरह से लुभाने की कोशिश की। हमारे विधायक अवसाद और तनाव में थे, इसलिए उन्हें हमने यात्रा पर भेजने का निर्णय लिया।

भाजपा नेता ने हालांकि भाजपा विधायकों के लिए कैपिंग शब्द का प्रयोग नहीं किया और कहा कि यह शब्द कांग्रेस द्वारा उछाला गया है और जैसलमर में इनके विधायकों पर सुरक्षा टीम द्वारा नजर रखी जा रही है।

इसबीच, पीसीसी की पूर्व उपाध्यक्ष अर्चना शर्मा ने आईएएनएस से कहा कि भाजपा कांग्रेस पर आरोप लगा रही थी, जबकि उनके पार्टी में ही विवाद है, इसलिए वे अपने विधायकों को गुजरात भेज रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it