राजस्थान

Rajasthan में करवाचौथ के दिन सनकी आशिक ने महिला को दी खौफनाक मौत, कुल्हाड़ी से काटने के बाद शव से लिपटा घंटों पड़ा रहा हत्यारा

Janjwar Desk
25 Oct 2021 4:40 AM GMT
rajasthan crime
x

राजस्थान के जलोर में खौफनाक मर्डर (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एकतरफा प्यार में पागल आरोपी चिल्लाता रहा और महिला की गर्दन टूटने पर भी कुल्हाड़ी से वार करता रहा। जब तक महिला की मौत नहीं हो गई, उसने हमला करना नहीं रोका...

Rajasthan News (जनज्वार) : राजस्थान के जालोर स्थित आहोर में रविवार करवाचौथ के दिन सनसनीखेज वारदात हो गई। यहां एक तरफा प्यार में डूबे प्रेमी ने महिला की हत्या कर दी। उसने न सिर्फ हत्या की बल्कि महिला का दम निकलने तक कुल्हाड़ी से लगातार वार करता रहा।

बताया जा रहा कि, जब तक महिला की सांसें चलती रहीं, आरोपी चिल्लाता रहा कि, तुझे मार दूंगा। आरोपी ने महिला के कंधे, गर्दन और शरीर के अन्य हिस्सों पर इतने वार किए कि जमीन खून से लाल हो गई। आरोपी पर पागलपन इस कदर हावी था कि मौत के बाद शव से लिपट गया। पुलिस ने सनकी आशिक को मौके से गिरफ्तार कर लिया।

हत्या में दिखा सनकपन

जानकारी के मुताबिक, थांवला गांव की 32 वर्षीय महिला शांतिदेवी पत्नी शांतिलाल चौधरी मनरेगा मजदूर थी। महिला का पति शांतिलाल महाराष्ट्र में काम करता है। शांतिदेवी के दो बेटे हैं। यहां अपने ससुराल के लोगों के साथ रहती थी। शांतिदेवी रविवार 24 अक्टूबर को जोजावर नाडी में मनेरगा के काम कर गई थी। इस दौरान गांव का ही रहने वाला 21 वर्षीय गणेश पुत्र थानाराम मीणा आया। उसने महिला से कहा कि वह उससे प्यार करता है।

महिला ने इनकार किया तो गुस्से में आकर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। पागलपन में आरोपी ने कुल्हाड़ी को घुमाकर कहा कि आज तुझे जान से मारकर ही रहूंगा। आरोपी चिल्लाता रहा और महिला की गर्दन टूटने पर भी कुल्हाड़ी से वार करता रहा। जब तक महिला की मौत नहीं हो गई, उसने हमला करना नहीं रोका।

मौत के बाद शव से लिपटा रहा सनकी हत्यारा

सनकी आशिक के धारदार हथियार से वार सहकर महिला की मौके पर ही मौत हो गई। मनरेगा के अन्य श्रमिकों ने बचाने का प्रयास भी किया। मगर आरोपी ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दी। डर के मारे सभी लोग पीछे हट गए। महिला की मौत के बाद भी आरोपी का तमाशा खत्म नहीं हुआ। हत्या करने के बाद महिला के शव से लिपट गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। तब भी आरोपी शव को छोड़ने को तैयार नहीं था। पुलिस ने जबरन उसे पकड़कर हिरासत में लिया और शव को अस्पताल पहुंचाया।

एक तरफा प्यार ने ले ली महिला की जान

पुलिस ने बताया कि मामले में आरोपी थांवला गांव के रहने वाले गणेश पुत्र थानाराम मीणा को पकड़ा है। आरोपी महिला से एक तरफा प्यार करता था। कई महीनों से पीछा कर परेशान कर रहा था। महिला ने इस बारे में अपने पति शांतिलाल चौधरी को भी बताया था। पति ने आरोपी गणेश मीणा को समझाया भी था, लेकिन वह नहीं माना और अंजाम मौत तक पहुंच गया। मामले में महिला के जेठ गोमाराम पुत्र नाथूराम चौधरी ने हत्या का मामला दर्ज करवाया है। महाराष्ट्र से पति के आने पर पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

Next Story

विविध