राजस्थान

राजस्थान की मीणा जनजाति पर सुदर्शनधारी सुरेश चह्वाणके की जहरीली हुई जुबान, उठने लगी गिरफ्तारी की मांग

Janjwar Desk
29 July 2021 4:39 AM GMT
राजस्थान की मीणा जनजाति पर सुदर्शनधारी सुरेश चह्वाणके की जहरीली हुई जुबान, उठने लगी गिरफ्तारी की मांग
x

सुदर्शन न्यूज के संपादक द्वारा बोले गये अपमानजनक शब्द के बाद मीणा समुदाय में आक्रोश है.

सुदर्शन के संपादक सुरेश चह्वाणके एक कॉलर के सवालों का जवाब दे रहे थे, इसी दौरान उन्होंने मीणा समाज को लेकर एक अभद्र टिप्पणी कर दी। सुरेश चह्वाणके की टिप्पणी वाली वीडियो जैसी ही सोशल मीडिया पर आई, वायरल हो गई...

जनज्वार ब्यूरो। सुदर्शन न्यूज के संपादक और एंकर सुरेश चह्वाण हमेशा विवादों में बने रहते हैं। विवादित टिप्पणियों के कारण सुरेश चह्वाणके के खिलाफ सोशल मीडिया पर गिरफ्तारी के लिए ट्रेंड चलाया जा रहा है। इस बार ये विवाद राजस्थान के मीणा समुदाय पर टिप्पणी के कारण उत्पन्न हुआ है।

एक शो के दौरान सुदर्शन के संपादक सुरेश चह्वाणके एक कॉलर के सवालों का जवाब दे रहे थे, इसी दौरान उन्होंने मीणा समाज को लेकर एक अभद्र टिप्पणी कर दी। सुरेश चह्वाणके की टिप्पणी वाली वीडियो जैसी ही सोशल मीडिया पर आई, वायरल हो गई। जिसके बाद मीणा समाज के लोग इस वीडियो को देखकर नाराज हो गया और गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

पूर्व आईएस सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट कर कहा कि सुदर्शन न्यूज के एडिटर इन चीफ सुरेश चव्हाणके द्वारा अपने TV शो में राजस्थान की सम्मानित मीणा जनजाति को अपमानित करने वाली यदि कोई टिप्पणी की गई है तो वह बेहद निंदनीय है। मैं कड़ी कानूनी कार्यवाही की मांग का समर्थन करता हूं।

ट्राइबल आर्मी के संस्थापक हंसराज मीणा ने ट्वीट कर कहा; 'सुदर्शन न्यूज का संपादक सुरेश चव्हानके राजस्थान की मीणा जनजाति के बारे में अपमानजनक भाषा प्रयोग करके बोलता है जब मैं मीणा बोलूं तो ** समझ लेना। इस व्यक्ति पर अभी तक कानूनी कार्यवाही क्यों नहीं? आज शाम तक इसकी गिरफ्तारी हो जानी चाहिए।'

इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए वरिष्ठ पत्रकार अंजीत अंजुम कहते हैं; 'ये आदमी जहर का पुतला है। पोर-पोर में नफरत भरी है इसके। मोदी राज में ऐसे लोग बेलगाम हैं। छुट्टे घूमकर सड़ान्ध फैला रहे हैं। नफरत की बुनियाद पर चैनल चलाकर खुद को संपादक कहते हैं जबकि ऐसे चैनल तुरंत बंद होने चाहिए।'

बता दें कि सुरेश चह्वाणके हमेशा अपने बयानों और शो को लेकर विवादों में घिरे रहते हैं। कई मामलों में तो कोर्ट से भी उन्हें झटका लग चुका है। अप्रैल 2017 में लखनऊ एयरपोर्ट से सुरेश चह्वाणके को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था। इनपर दो समुदायों के बीच में नफरत फैलाने और सुदर्शन के जरिए अफवाह फैलाने का आरोप लगा था। महाराष्ट्र के शिरडी में पैदा हुए सुरेश चव्हाणके पिछले 12 साल से ये चैनल चला रहे हैं। पहले ये चैनल पुणे से चलता था, जो बाद में यह नोएडा शिफ्ट हो गया।

Next Story

विविध

Share it