Top
राष्ट्रीय

रामदेव की कोरोना की दवा पर आयुष मंत्रालय ने लगाया ब्रेक, पूछा कैसे यह कोरोना से लड़ने में कारगर है बताएं

Janjwar Desk
23 Jun 2020 6:26 PM GMT
रामदेव की कोरोना की दवा पर आयुष मंत्रालय ने लगाया ब्रेक, पूछा कैसे यह कोरोना से लड़ने में कारगर है बताएं

आयुष मंत्रालय ने रामदेव की कोरोना के इलाज के दावे वाली दवा कोरोनिल के प्रचार प्रसार पर रोक लगा दी है...

जनज्वार, नई दिल्ली। आयुष मंत्रालय ने योग गुरु बाबा रामदेव की कोरोना की दवा पर रोक लगा दी है। आयुष मंत्रालय ने आचार्य बालकृष्ण की नेतृत्व वाली कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड द्वारा मंगलवार को लांच की गई कोरोना की दवा कोरोनिल व अन्य का प्रचार प्रसार नहीं करने को कहा है। इसके साथ ही मंत्रालय ने पूछा है कि यह बताएं कि कैसे यह दवा कोरोना बीमारी से लड़ने में कारगर है।

रामदेव व बालकृष्ण ने मंगलवार को बड़े हंगामेदार ढंग से कोरोना के उपचार के दावे वाली दवा लांच की और इसकी एक किट भी जारी की जिसमें तीन अलग-अलग तरह की दवाएं हैं।



पतंजलि आयुर्वेद के चेयरमैन आचार्य बालकृष्ण ने ट्वीट कर कहा है कि यह स्थिति कम्युनिकेशन गैप के कारण बनी और कंपनी ने आयुष मंत्रालय को जानकारी दे दी। उन्होंने दावा किया कि कि क्लीनिकल ट्रायल के जितने मानक हैं, उसका इस दवा में 100 प्रतिशत पालन किया गया है।

उधर, रामदेव ने एक ट्वीट को रिट्वीट किया कि जिसमें यह अपील लोगों से की गई है कि कृपया धीरज रखिए, कोरोना से न डरें, कृपया सात दिनों तक धैर्य रखिए. हमारे पतंजलि मेगा स्टोर, चिकित्सालय, आरोग्य केंद्र जाकर हंगामा न करें। अगले सप्ताह आर्डरमी एप के माध्यम से घर डिलवरी भी होगी। ऐसी संभावना है कि रामदेव ने जिनके ट्वीट को रिट्वीट किया वे उनके कोई निकट सहयोगी हों।


आयुष मंत्रालय ने पूछा है कि वह जल्द दवा का नाम और उसके घटक के बारे में बताए जिसका कोरोना के इलाज में उपयोग का दावा किया जा रहा है। मंत्रालय ने इसके साथ ही नमूने का आकार, स्थान, अस्पताल जहां अध्ययन किया गया है, की जानकारी मांगी है।

Next Story

विविध

Share it