राष्ट्रीय

रांचीः मोरहाबादी में नहीं दिखा टाइम्स स्क्वायर सा नजारा-14 करोड़ बर्बाद, अब 5.50 करोड़ से बनेगा नाइट मार्केट

Janjwar Desk
8 July 2021 4:48 AM GMT
रांचीः मोरहाबादी में नहीं दिखा टाइम्स स्क्वायर सा नजारा-14 करोड़ बर्बाद, अब 5.50 करोड़ से बनेगा नाइट मार्केट
x

रांची े मोरहाबादी मैदान के सौंदर्यीकरण की योजना

रांची के मोरहाबादी मैदान को टाइम्स स्क्वायर के जैसा विकसित करने के नाम पर पहले 14 करोड़ की सरकारी राशि फूंक दी गयी, अब 25 साल पुराने बाजार को तोड़कर 250 नई दुकानें और नाइट मार्केट बनाने की योजना है

रांची जनज्वार। रांची के मोरहाबादी मैदान के सौंदर्यीकरण के नाम पर करोड़ रुपये पानी की तरह बहा दिये गये। लेकिन इसका लाभ नहीं मिलने के बाद भी प्रशासन का मन नहीं भरा है। अब नाइट मार्केट बनाने की तैयारी हो रही है। बता दें कि न्यूयार्क शहर के टाइम्स स्क्वायर की तर्ज पर मोरहाबादी मैदान के सौंदर्यीकरण पर 14 करोड़ रुपए फूंक दिए गए। रघुवर दास की सरकार के समय जुडको ने मोरहाबादी मैदान में 9 एलईडी स्क्रीन लगाने और स्टेज के सौंदर्यीकरण पर ये रकम फूंक डाली, लेकिन इसका कोई लाभ जनता को नहीं मिला। अब एक बार फिर मोरहाबादी मैदान के सौंदर्यीकरण की कवायद तेज हो गई है। इस बार रांची नगर निगम मोरहाबादी मैदान की सूरत बदलने का जिम्मा उठायेगा। इस बार नगर निगम मोराहाबादी मैदान के चारों ओर पेवर्स ब्लॉक लगाएगा और लैंड स्केपिंग करके इसे रमणिक बनाएगा। और इस पर करीब 5।85 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। बुधवार 7 जुलाई को रांची नगर निगम ने मोरहाबादी मैदान सौंदर्यीकरण का टेंडर निकाला है। 28 जुलाई को टेंडर फाइनल होगा।

25 साल पुराने मार्केट को तोड़ बनेगी 250 नई दुकानें

रांची नगर निगम के डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार, मोरहाबादी मैदान से किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं होगी। नये प्रोजेक्ट के तहत पूर्व सीएम शिबू सोरेन के आवास के सामने से फुटबॉल स्टेडियम तक रोड पर डिवाइडर बनाया जाएगा। मैदान के चारों ओर की सड़क पर 3 किमी लंबा साइकिल ट्रैक बनाने की योजना है। इसकी चौड़ाई करीब 10 फुट होगी। साथ ही मोरहाबादी में 25 वर्ष पहले बने मार्केट को तोड़कर 250 दुकानें बनाई जाएगी,जिसे वहां के स्ट्रीट वेंडर को आवंटित किया जाएगा। मोरहाबादी मैदान के एक किनारे नाइट मार्केट भी बनाया जाएगा, जो शाम 7 बजे के बाद खुलेगा और रात 12 बजे बंद होगा। इसके लिए चारों ओर रंग-बिरंगे लाइट के साथ लोगों के बैठने की भी व्यवस्था होगी।

मैदान में जहां-तहां कार-बाइक लगाने की मनाही होगी। एक किनारे वाहनों के लिए पार्किंग बनेगा, जहां वाहन लगाकर लोग पैदल ही मैदान के किनारे मॉर्निंग-इवनिंग वॉक कर सकेंगे। गाड़ियों के लिए पार्किंग स्थल बनेगा, जिसमें 100 फोर व्हीलर औऱ 100 टू व्हीलर पार्क हो सकेंगे। इलाके को हरा-भरा रखने के लिए लैंड स्केपिंग करके 2 हजार पौधे लगाये जाने की योजना है। आकर्षक सजावट के साथ-साथ बच्चों के लिए बनेगा इंटरटेनमेंट जोन, पार्क में बच्चों के मनोरंजन के लिए झूले लगाए जाएंगे।

नगर निगम के नये प्रोजेक्ट की जानकारी देते हुए नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने कहा कि मोरहाबादी मैदान पूरे शहर के फेफड़ा के सामान है। इसे संरक्षित रखते हुए इसके सौदर्यीकरण के लिए डीपीआर तैयार हो गया है। अगले महीने से काम शुरू कराया जाएगा। रांची के लोगों को पहले नाइट मार्केट का तोहफा मिलेगा। वहीं साइकिल प्रेमियों सहित मॉर्निंग-इवनिंग वॉकर भी वाहनों से अलग वॉकिंग का अनुभव लेंगे। इधर रांची की मेयर आशा लकड़ा इसके खिलाफ है। आशा लकड़ा ने केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री को पत्र सौंपकर 15वें वित्त आयोग के फंड के दुरुपयोग को रोकने की गुहार लगाई है।

Next Story

विविध

Share it