राष्ट्रीय

Rahul Bhatt Murder: कश्मीरी पंडित की हत्या के बाद आतंकियों ने एसपीओ रियाज अहमद को मारी गोली

Janjwar Desk
13 May 2022 12:56 PM GMT
Rahul Bhatt Murder: कश्मीरी पंडित की हत्या के बाद आतंकियों ने एसपीओ रियाज अहमद को मारी गोली
x

Rahul Bhatt Murder: कश्मीरी पंडित की हत्या के बाद आतंकियों ने एसपीओ रियाज अहमद को मारी गोली

Rahul Bhatt Murder: जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर आतंकी घटनाएं तेज हो गई हैं। कल कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या के बाद आज आतंकियों ने पुलिस कांस्टेबल रियाज अहमद ठोकर की गोली मारकर हत्या कर दी।

Rahul Bhatt Murder: जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर आतंकी घटनाएं तेज हो गई हैं। कल कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या के बाद आज आतंकियों ने पुलिस कांस्टेबल रियाज अहमद ठोकर की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकियों ने ये हमला रियाज के घर पर किया था, जिसमें वो गंभीर रुप से घायल हो गए थे। जिसके बाद रियाज अहमद को अस्पताल में भर्ती कराया गया था यहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। ये घटना घाटी के पुलवामा के गुदूरा इलाके में हुई है। कश्मीर में पिछले 24 घंटों के भीतर टारगेट किलिंग की ये दूसरी घटना है।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि आतंकवादियों ने शुक्रवार सुबह गुदूरा में कांस्टेबल रेयाज अहमद ठोकर के घर पर उन्हें गोली मार दी। इसमें वो गंभीर रूप से जख्मी हो गए जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती काराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट कर कहा, "आतंकवादी ने पुलिस कांस्टेबल रेयाज अहमद थोकर पुत्र अली मोहम्मद पर उनके गुडरू, पुलवामा स्थित आवास पर गोलीबारी की। उन्हें अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। एरिया की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चालाय जा रहा है।"

इससे पहले जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आतंकवादियों ने गुरूवार को कश्मीरी पंडित समुदाय से संबंध रखने वाले एक सरकारी कर्मचारी की उसके कार्यालय में गोली मारकर हत्या कर दी। अधिकारियों ने यहां यह जानकारी दी। इस घटना की विभिन्न राजनीतिक दलों ने निंदा की है।

अधिकारियों ने बताया कि दो बंदूकधारी चदूरा इलाके में स्थित तहसील कार्यालय में दाखिल हुए और लिपिक राहुल भट को गोली मार दी। उन्होंने बताया कि भट की तैनाती प्रवसियों के लिए शुरू विशेष रोजगार पैकेज के तहत की गई थी।

गुरुवार की रात 36 वर्षीय कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या के बाद देर रात तक प्रदर्शन होता रहा। कैम्प में रह रहे कश्मीरी पंडितों ने हत्या के खिलाफ सड़क पर जाम लगाकर केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इसके साथ ही, केन्द्र सरकार के ऊपर विफलता का आरोप लगाया। कई जगहों पर कैंडल जलाकर विरोध प्रदर्शन किया गया।

Next Story