Top
राष्ट्रीय

सुशांत केस : नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो की टीम रिया चक्रवर्ती के भाई व सैमुअल मिरांडा को पूछताछ के लिए ले गई

Janjwar Desk
4 Sep 2020 3:34 AM GMT
सुशांत केस : नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो की टीम रिया चक्रवर्ती के भाई व सैमुअल मिरांडा को पूछताछ के लिए ले गई
x

सैमुअल मिरांडा को एनसीबी ने हिरासत में ले लिया और उसे अपने कार्यालय ले गई।

एनसीबी सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की ड्रग एंगल से जांच कर रही है। इस मामले में अभिनेत्री, उनके भाई व सुशांत के निजी स्टाफ पर आरोल लगे हैं और वे जांच के दायरे में हैं...

जनज्वार। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच कर रही विभिन्न जांच एजेंसियों में एक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की एक टीम शुक्रवार सुबह मुंबई में अभिनेत्री रिया चक्रवती व सैमुअल मिरांडा के घर जांच के लिए पहुंची है। यह एजेंसी इस मामले की ड्रग कनेक्शन एंगल से जांच कर रही है। रिया चक्रवती दिवंगत अभिनेता की गर्लफ्रेंड रही हैं जबकि सैमुअल मिरांडा सुशांत का निजी स्टाफ था। एनसीबी की टीम बाद में रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती व सैमुअल मिरांडा को अपने साथ ले गई।

एनसीबी की टीम ने इस मामले में पहले दो ड्रग पैडलर को गिरफ्तार किया है, जिनसे पूछताछ के बाद यह कार्रवाई की गई है। कहा जा रहा है कि उनमें से पूछताछ में एक ने रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक व सैमुअल का नाम लिया है।


एनडीपीएस एक्ट के तहत रिया चक्रवती व सैमुअल मिरांडा के घरों की तलाशी ली जा रही है। जानकारी के अनुसार, रिया चक्रवती के लैपटाॅप, हार्ड डिस्क की जांच की जा रही है। उनकी कार की भी तलाशी ली गई है। एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मलहोत्रा ने कहा है कि यह शौविक व सैमुअल के घर की जांच एक प्रक्रिया के तहत हो रही है। मुंबई पुलिस की टीम भी एनसीबी के साथ मौजूद है।


अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को मौत हो गई थी। शुरुआत में इसे आत्महत्या बताया गया लेकिन अब उनके पिता के वकील द्वारा इसे हत्या बताया जा रहा है। सीबीआइ, प्रवर्तन निदेशालय व एनसीबी तीन अलग-अलग एजेंसियां इस मामले की जांच कर रही है। इडी इस मामले की मनी लाउंड्रिंग के एंगल से तो एनसीबी ड्रग कनेक्शन के एंगल से जांच कर रही है।


जांच के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक बयान जारी कर कहा कि शौविक चक्रवर्ती व सैमुअल मिरांडा के घरों की तलाशी ली गई। दोनों को जांच में शामिल होने के लिए सम्मन दिया गया है।वहीं, सैमुअल मिरांडा को एनसीबी की अभ्म अपने साथ मुंबई स्थित नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के कार्यालय ले आयी। उनके घर की तलाशी लिए जाने के बाद नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट, 1985 के तहत उन्हें हिरासत में लिया गया है।


Next Story

विविध

Share it