राष्ट्रीय

Tata Steel Explosion : जमशेदपुर के टाटा स्टील प्लांट में हुआ जोरदार धमाका, 3 कर्मचारी जख्मी; हेमंत सोरेन ने ये कहा

Janjwar Desk
7 May 2022 11:08 AM GMT
Tata Steel Blast News : जमशेदपुर के टाटा स्टील प्लांट में हुआ जोरदार धमाका, 3 कर्मचारी जख्मी; हेमंत सोरेन ने ये कहा
x

Tata Steel Blast News : जमशेदपुर के टाटा स्टील प्लांट में हुआ जोरदार धमाका, 3 कर्मचारी जख्मी; हेमंत सोरेन ने ये कहा

Tata Steel Explosion : टाटा कॉरपोरेट कम्युनिकेशन की ओर से जानकारी देते हुए बताया गया है कि जब धमाका हुआ तब बंद पड़े बैट्री नंबर 5 एरिया में उसे हटाने का काम चल रहा था। इस दौरान अचानक धमाका हो गया...

Tata Steel Explosion : जमशेदपुर के टाटा स्टील कोक प्लांट में शनिवार की सुबह करीब सवा दस बजे 10.20 बजे जोरदार धमाका (Tata Steel Explosion) हुआ। खबरों के मुताबिक इस धमाके में दो ठेकाकर्मी घायल हो गये हैं, जबकि टाटा स्टील (TATA STEEL Plant) का एक कर्मचारी धमाके में (Tata Steel Explosion) बेहोश हो गए हैं। तीनों घायलों को इलाज के लिए टीएमएच में भर्ती कराया गया है। इस खबर की पुष्टि टाटा कॉरपोरेट कम्युनिकेशन की ओर से कर दी गयी है। आपको बता दें कि जब यह धमाका (Tata Steel Explosion) हुआ उस समय प्लांट के बैट्री नंबर 5 एरिया में काम चल रहा था। इस दौरान जोरदार धमाका हुआ, धमाके के बाद वहां के कर्मचारियों और मजदूरों के बीच अफरातफरी की स्थिति बन गयी। उधर, झारखंड के मुख्यमंत्री सीएम हेमंत सोरेन ने भी इस मामले में ट्वीट किया है कि जिला प्रशासन टाटा स्टील प्रबंधन के साथ सामंजस्य बिठाकर घायलों के इलाज में जुटा है।

लंबे समय से बंद पड़ा था बैट्री नंबर 5 का एरिया, हटाने की चल रही थी कार्रवाई

घटना के बारे में टाटा कॉरपोरेट कम्युनिकेशन की ओर से जानकारी देते हुए बताया गया है कि जब धमाका हुआ तब बंद पड़े बैट्री नंबर 5 एरिया में उसे हटाने का काम चल रहा था। इस दौरान अचानक धमाका (Tata Steel Explosion) हो गया। धमाके की चपेट में आने से वहां काम कर रहे दो कैजुवल मजदूरों के पैर में चोट आयी है। उसी समय कुछ दूरी पर खड़ा टाटा स्टील का एक कर्मचारी गैस रिसाव से बेहोश हो गया। घटना के बाद तत्काल तीनों जख्मियों को इलाज के लिए टीएमएच में भर्ती कराया गया है।

घटना के बाद पहुंची एंबुलेंस व फायर ब्रिगेड की टीम

टाटा स्टील के प्लांट में विस्फोट के बाद एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव कार्य का मोर्चा संभाल लिया। राहत की बात यह रही कि इस विस्फोट (Tata Steel Explosion) में किसी जान-माल की क्षति नहीं हुई है। इस दौरान एक बड़ा हादसा टल गया है। खबरों के मुताबिक इस धमाके की आवाज को दूर-दराज के लोगों ने भी सुना था।

फरवरी महीने से ही बंद था बैट्री नंबर 5 एरिया

बैट्री नंबर 5 एरिया के बारे में बताया जा रहा है कि वह बीते फरवरी महीने से ही बंद पड़ा हुआ है। अब उसे वहां से हटाने का काम टाटा स्टील की ओर से करवाया जा रहा था। जहां पर बैट्री एरिया बनाया जाता है वहां कोयला उतारने के बाद उससे लोहा को गलाने का काम किया जाता है। इस तरह के कई बैट्री एरिया टाटा स्टील प्लांट के परिसर में बने हुए हैं.

Next Story

विविध