Top
राष्ट्रीय

महाराष्ट्र के अस्पताल में कर्मचारियों ने भागकर बचा ली अपनी जान, 10 नवजात मर गये जलकर

Janjwar Desk
9 Jan 2021 2:45 AM GMT
महाराष्ट्र के अस्पताल में कर्मचारियों ने भागकर बचा ली अपनी जान, 10 नवजात मर गये जलकर
x

photo : social media

आग लगने के बाद अस्पताल के कर्मियों ने जहां भाग कर अपनी जान बचा ली वहीं नवजात बच्चे जल कर मर गए...

जनज्वार। महाराष्ट्र के भंडारा जिले के एक अस्पताल में आग लगने से 10 बच्चों की मौत हो गयी। यह आग भंडारा जिले के जिला जनरल अस्पताल के सिक न्यू बाॅर्न केयर यूनिट (SNCU) में लगी जिसमें 10 नवजात बच्चों की जलने से मौत हो गयी।

भंडारा जिले के सिविल सर्जन प्रमोद खंडाती ने कहा है कि जिला अस्पताल के SNCU में आग शनिवार तड़के करीब 2 बजे लगी जिसमें जलने से 10 बच्चों की मौत हो गयी है।

आग लगने की वजह शार्टसर्किट बताया जा रहा है। यूनिट में देर रात ड्यूटी पर तैनात मेडिकल कर्मियों ने धुआं निकलते दिखा जिसके बाद इसकी सूचना उन्होंने अस्पताल प्रबंधन को दी और खुद की जान भाग कर बचायी। हालांकि नवजात बच्चों को इस हादसे से नहीं बचाया गया और 10 बच्चों की जलकर मौत हो गयी।

सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में 17 बच्चे भर्ती थे। यूनिट में धुआं निकलता देख कर नर्स व कर्मी दौड़ कर पहुंचे लेकिन तबतक आग अधिक फैल गयी थी और उन्होंने खुद की जान भाग कर बचायी और 10 बच्चे मर गए।

सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में वैसे बच्चों को रखा जाता है जो जन्म के बाद शारीरिक रूप से कमजोर व कम वजन के होते हैं। डाॅक्टरों की विशेष देखरेख में उन्हें सामान्य किया जाता है और फिर माता-पिता को सौंपा जाता है।

बच्चों की मौत के बाद उनके परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। अगलगी के बाद फायर बिग्रेड को सूचना दी गयी और उसके बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया जिसमें सात बच्चों को बचा लिया गया।

घटना के बाद सुबह-सुबह भंडारा के डीएम, एसपी व सिविल सर्जन ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया है। वहीं, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फोन पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे से बात की है। इसके साथ ही उन्होंने भंडारा के डीएम व एसपी से बात कर पूरे मामले की जानकारी ली है और जांच का आदेश दिया है।


Next Story

विविध

Share it