Top
राष्ट्रीय

अर्णब गोस्वामी व बार्क सीइओ रहे पार्थाे दासगुप्ता का वाट्सएप चैट लीक, प्रशांत भूषण ने शेयर कर कहा - 'जेल भेजवाने के लिए काफी'

Janjwar Desk
16 Jan 2021 5:20 AM GMT
अर्णब गोस्वामी व बार्क सीइओ रहे पार्थाे दासगुप्ता का वाट्सएप चैट लीक, प्रशांत भूषण ने शेयर कर कहा - जेल भेजवाने के लिए काफी
x
अर्णब गोस्वामी व बार्क के पूर्व सीइओ पार्थाे दासगुप्ता के बीच यह वाट्सएप चैट टीआरपी को लेकर है, इसमें भाजपा की मदद किए जाने की भी बात कही गयी है...

जनज्वार। रिपब्लिक टीवी के हेड अर्णब गोस्वामी का बर्क के सीइओ के साथ कथित वाट्सएप चैट लीक हुआ है। इसका स्नैपशाट्स प्रसिद्ध वकील व सामाजिक कार्यकर्ता प्रशांत भूषण ने अपने ट्विटर एकाउंट पर शेयर किया है। उन्होंने इसके साथ ही लिखा है कि यह चैट अर्णब को लंबे समय के लिए जेल भेजवाने के लिए काफी है।

अर्णब गोस्वामी और बार्क के पूर्व सीइओ पार्थाे दासगुप्ता के बीच चैट के इस स्क्रीनशाट्स को शेयर करते हुए प्रशांत भूषण ने लिखा है कि इस स्क्रीनशाट्स से अर्णब गोस्वामी की राजनीतिक गलियारों में पहुंच और तमाम साजिशों का पता लगता है। उन्होंने लिखा है कि इससे यह पता चलता है कि किस तरह से मीडिया और अपने पद का दुरुपयोग किया गया है। उन्होंने लिखा है कि कानून के रास्ते पर चलने वाले किसी भी देश में लंबे समय तक जेल भेजने के लिए काफी है।

अर्णब गोस्वामी और बार्क के सीइओ के कथित प्रशांत भूषण द्वारा शेयर किए गए स्क्रीनशाट्स को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।

यह चैट 25 मार्च 2019 का है और इसमें दोनों के बीच बातचीत में रजत नाम के एक शख्स का बार-बार उल्लेख दिख रहा है। चैट से पता चलता है कि यह बातचीत टीवी इंडस्ट्री की रेटिंग, ट्राई, मीडिया जगत कि किसी और हस्ती व भाजपा को लेकर हो रही है।

अर्णब गोस्वामी की अगुवाई वाले न्यूज चैनल रिपब्लिक द्वारा टीआरपी स्कैम किए जाने का मामला पिछले साल अक्टूबर में सामने आया था। इस मामले में बार्क के पूर्व सीइओ पार्थाे दासगुप्ता की भूमिका पर भी सवाल उठा और उनकी अर्णब से मिलीभगत बतायी गयी। अर्णब गोस्वामी अपने चैनल के लिए अधिक विज्ञापन दर हासिल करने के लिए उसकी टीआरपी बढाकर दिखाने के लिए रिश्वत देने के आरोपी हैं। मुंबई पुलिस ने इस मामले का खुलासा किया था।

मुंबई पुलिस ने टीआरपी घोटाले को लेकर 25 नवंबर को दायर किए गए पूरक आरोप पत्र में पार्थाे दासगुप्ता का नाम भी शामिल किया है। इस बातचीत में अर्णब गोस्वामी प्रधानमंत्री कार्यालय समेत राजनीतिक नेतृत्व के जरिए दासगुप्ता को मदद का आश्वासन देते हैं। अर्णब गोस्वामी इसमें एक जगह यहां तक कहते हैं कि सारे मंत्री हमारे साथ हैं। 200 पन्नों के पूरक आरोपत्र में अर्णब गोस्वामी और पार्थाे दासगुप्ता के बीच कथित वाट्सएप को भी शामिल किया गया है।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, इस बातचीत में पूर्व सूचना एवं प्रसादरण राज्य मंत्री राज्यवर्द्धन राठौर का भी जिक्र है, हालांकि राठौर ने इस पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है। दासगुप्ता के वकील अर्जुन सिंह ठाकुर ने कहा है कि दो लोगों को बीच की बातचीत को अपने हितों में लीक किया गया है। टीआरपी घोटाला मामले में पुलिस ने पार्थाे व दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है।

Next Story

विविध

Share it