राष्ट्रीय

Crime News: मिर्जापुर-बालिकाओं का नर कंकाल मिलने के बाद घर से फरार मां का जंगल में पेड़ पर लटका मिला शव

Janjwar Desk
24 Sep 2021 5:38 PM GMT
Crime News: मिर्जापुर-बालिकाओं का नर कंकाल मिलने के बाद घर से फरार मां का जंगल में पेड़ पर लटका मिला शव
x

(पेड़ पर मिला रेप पीड़िता का लटका हुआ शव)

Crime News: महिला जिस पेड़ पर साड़ी के फंदे से लटकी मिली है उसके नीचे उसका मोबाइल फोन टूटे फ़ूटे अवस्था में बिना सिम कार्ड के मिला है....

Crime News जनज्वार। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जनपद (Mirzapur Distt.) के अंतिम छोर पर स्थित हलिया थाना क्षेत्र के बेलाही गांव (Belahi Village) में बेलन नदी से 5 सौ मीटर दूर मुरचहवा जंगल में पेड़ की डाली पर महिला का शव लटका मिलने पर क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गई। शुक्रवार जंगल में भेड़ बकरियों को चराने के लिए गए चरवाहों ने जंगल (Jungle) में जिगना के पेड़ में महिला का शव लटकते हुए देखकर हक्का बक्का रह गए। जंगल से भागकर चरवाहों ने गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को घटना की जानकारी दी। ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस को घटना की जानकारी दी।

सीओ लालगंज उमाशंकर सिंह प्रभारी निरीक्षक राजकुमार सिंह चौकी प्रभारी मतवार रामनगीना यादव (Matwar Ramnagina Yadav) महिला पुलिस के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और शव की शिनाख्त कराने में जुट गए। घटना की सूचना पाकर मोरचहवा जंगल में पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह (Ajay Kumar Singh) भी डाग स्क्वायड व फोरेंसिक टीम के साथ पहुंचकर घटनास्थल की जांच पड़ताल की।

महिला (Women) जिस पेड़ पर साड़ी के फंदे से लटकी मिली है उसके नीचे उसका मोबाइल (Mobile Phone) फोन टूटे फ़ूटे अवस्था में बिना सिम कार्ड के मिला है। पेड़ के नीचे मोबाइल फोन और महिला के चप्पल को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। बीते 22 सितम्बर को हर्रा जंगल में तीन बालिकाओं का नर कंकाल मिलने के बाद बालिकाओं की मां सीमा एक दिन पूर्व 21 सितम्बर को घर से फरार हो गई थी जिसे लेकर बालिकाओं की हत्या में मां का हाथ होने का अंदेशा जताया जा रहा था।

बीते 16 अगस्त को घर से तीनों बालिकाओं को लेकर मां सीमा इंदौर के लिए निकली थी इंदौर पहुंचने पर कहीं काम नही मिलने पर तीनों बेटियों के साथ सीमा इंदौर स्टेशन पर रहकर गुजारा कर रही थी कि पांच दिन बाद बेलाही गांव में पहुंचे सीमा के भाई ने बहन और भांजियों को घर में नही दिखाई देने पर जीजा देवीदास कोल से पूछताछ की तो बताया कि सीमा तीनों बेटियों को लेकर बाहर कमाने के लिए चली गई है।

भाई रमाकांत कोल ने बहन सीमा को फोन किया तो सीमा ने बताया कि वह पति से कहासुनी होने के बाद तीनों बेटियों को लेकर इंदौर चली आई है। भाई ने बेटियों को लेकर घर आने के लिए कहा सीमा कोल तीनों बेटियों को प्रयागराज (Prayagraj) के कोरांव की साथ में गई सुनीता कोल को सौंपकर अकेले घर चली आई। भाई रमाकांत कोल व पति को जब इस बात की जानकारी हुई तो सीमा को लेकर तीनों बेटियों को लेने के लिए इंदौर के लिए निकल पड़े।

इंदौर स्टेशन पर पहुंचने के बाद सीमा ने पति और भाई के साथ बेटियों तथा सुनीता कौल की काफी खोजबीन की लेकिन तीनों बालिकाओं के नही मिलने पर थक-हारकर पति व भाई के साथ घर वापस लौट आई। सीमा कोल ने इस संबंध में बीते 2 सितम्बर को हलिया थाने में बेटियों की गुमशुदगी की तहरीर भी दी थी लेकिन पुलिस ने इंदौर का मामला कहकर मामले को गंभीरता से नही लिया।

बीते 21 सितम्बर को सीमा कोल (Seema Kaul) की चचेरी बहन ने भाई रमाकांत कोल को फोनकर बताया कि चरवाहों ने गांव में बताया है कि हर्रा जंगल में तीन नर कंकाल मिले हैं। चरवाहों के बताए स्थान पर 21 सितम्बर को बालिकाओं के पिता देवीदास कोल व मामा रमाकांत कोल ने हर्रा जंगल में पहुंचकर तीनों नर कंकालों को देखा और नर कंकाल के पास पड़े कपड़ों से बालिकाओं की शिनाख्त की और घर आकर घटना की जानकारी सीमा को दिया उसी दिन रात में ही सीमा घर से अचानक गायब हो गई।

दूसरे दिन पति देवीदास और भाई रमाकांत ने हलिया थाने पहुंचकर नर कंकाल मिलने की सूचना दी और बताया कि नर कंकाल के पास मिले कपड़े उसकी बेटियों के हैं। मौके पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक टीम ने मामले की जांच पड़ताल की और नर कंकालों को पोस्टमार्टम व डीएनए जांच के लिए ले गई।

सीमा का शव जंगल में जिगना के पेड़ पर जमीन से 20 फीट ऊपर फंदे से कैसे लटका?

बेलाही गांव निवासी सीमा कोल बेटियां के नर कंकाल मिलने की जानकारी होने पर बीते 21 सितम्बर की रात अचानक गायब हो गई और घर से दस किलोमीटर दूर जंगल में पेड़ पर साड़ी के फंदे से लटकी मिली। यदि सीमा को आत्महत्या ही करना था तो इतनी दूर जंगल में जाकर क्यों करती वह भी जमीन से करीब बीस फीट ऊपर पेड़ पर जिस पेड़ पर आसानी से चढ़ा भी नही जा सकता। कहीं न कहीं सीमा कोल की हत्या कर शव को पेड़ पर लटका दिया गया है। लेकिन पुलिस इसे आत्म हत्या का रूप देने में लगी हुई है।

जिस पेड़ पर सीमा का शव लटका मिला है उस पर आसानी से चढ़ा भी नही जा सकता था। जबकि पुलिस वालों को भी फंदे से लटकी सीमा के शव को नीचे उतारने में मशक्कत करनी पड़ी। हर्रा जंगल में तीन बालिकाओं का नर कंकाल मिलने के तीसरे दिन घर से गायब मां की लाश बेलाही गांव से दस किलोमीटर दूर मोरचहवा जंगल में पेड़ से लटका मिला कहीं न कहीं आमजन की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रहा है। जिसे लेकर पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान भी लग रहा है।

बालिकाओं के नर कंकाल मिलने की गुत्थी अभी सुलझी नही कि मां का पेड़ से लटकता शव मिल गया। सीमा कोल की तहरीर मिलने के बाद यदि पुलिस सक्रियता के साथ मामले की जांच पड़ताल में जुटी होती तो शायद आज यह नजारा देखने को नही मिलता।

मौके पर मोरचहवा जंगल पहुंचे पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह (Ajay Singh) ने बताया कि प्रथमदृष्टया महिला द्वारा आत्म हत्या किए जाने की बात लग रही है। लेकिन महिला का शव जिस डाली में साड़ी के फंदे से लटका हुआ है वह जमीन से करीब बीस फीट ऊपर है और यह बात हजम नही हो रही है। फिलहाल पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है अब पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही घटना के कारणों का पता चल सकेगा।

पुलिस अभी तक बालिकाओं के नर कंकाल मिलने की ही गुत्थी सुलझाने में लगी थी कि अब घर से फरार मां का जंगल में पेड़ से लटका शव बरामद होने पर मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया महिला द्वारा आत्म हत्या किया जाना लग रहा है फिलहाल मामले की गहराई से छानबीन की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही घटना के सही कारणों का पता चल पाएगा।

Next Story

विविध

Share it