राष्ट्रीय

UP : योगीराज में शर्मसार करता पुलिस का लट्ठतंत्र, महिला को पीटकर छाती पर चढ़ गया सुपरकॉप दारोगा

Janjwar Desk
18 July 2021 3:58 AM GMT
UP : योगीराज में शर्मसार करता पुलिस का लट्ठतंत्र, महिला को पीटकर छाती पर चढ़ गया सुपरकॉप दारोगा
x

योगी सरकार में औरतों महिलाओं की इज्जत रोज-रोज नीलाम हो रही है.

अपनी सास को बचाने आयी बहू आरती को भी चौकी इंचार्ज ने नही छोड़ा और उसको गिरा कर सीने पर चढ गये जिसका वीडियो सोशल मीडिया में तेज़ी से वायरल हो रहा है...

जनज्वार, कानपुर देहात। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में जब से अखबारों में यूपी नम्बर एक का विज्ञापन निकला है तब से प्रदेश की पुलिस को शायद यह सब हजम नहीं हो रहा है। पुलिस नहीं चाहती कि बाबा के राज में यूपी नम्बर एक रहे। जिसके चलते कानपुर देहात में चौकी इंचार्ज द्वारा झकझोर देने वाला कार्यक्रम सपन्न किया गया।

लखीमपुर खीरी में महिला की अस्मत तार-तार कर देने का मामला अभी ठंडा नहीं पड़ा और कानपुर देहात की पुखरायां चौकी क्षेत्र में दरोगा का यह वीडियो सुर्खियां बटोर रहा है। इस सामने आई घटना में खाकी ने महिलाओ की मर्यादा की सारी सीमाए तार तार कर दी है। योगी सरकार की पुलिस ने फिर अपना आपा खो दिया है।

मामला कानपुर देहात के भोगनीपुर थाने के दुर्गदासपुर गांव का है जहां भोगनीपुर कोतवाली के पुखरायां चौकी इंचार्ज महेन्द पटेल और चौकी के चार सिपाहियों ने एक परिवार पर कहर ढहा दिया। बिना महिला कांस्टेबल के पीडित के घर दबिश देने पहुंचे चौकी इंचार्ज ने गांव में रहने वाले इंद्रजीत की पत्नी श्यामा देवी को गिरा-गिरा कर मारा और पीडिता के सीने पर चढ़ गये।

दरअसल गांव दुर्गादासपुर के रहने वाले वीरेंद्र सिंह के घर चोरी हो गई थी। जिसकी उन्होने 7 जून को थाना भोगनीपुर में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट में गांव के ही रहने वाले सुरजीत सिंह पर चोरी का संदेह जताया गया था। शनिवार 17 जुलाई को चौकी इंचार्ज पुखरायां महेंद्र पटेल हमराहियों के साथ दबिश देने गये थे। गांव पहुँची पुलिस ने वहां मिले शिवम से आरोपी का घर पूछा तो उसने बताने से मना कर दिया। इसके बाद जो हुआ वह सामने है।

अपनी सास को बचाने आयी बहू आरती को भी चौकी इंचार्ज ने नही छोड़ा और उसको गिरा कर सीने पर चढ गये जिसका वीडियो सोशल मीडिया में तेज़ी से वायरल हो रहा है। आरोप है कि चौकी इंचार्ज ने शिवम को भी गिरा गिरा कर पूरे गांव के सामने मारते हुये थाने ले गये, जबकि पीडित पक्ष के विरूद्ध कोई एनसीआर तक नहीं है। इस बाबत पुलिस का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नही है

इस मामले में एसपी कानपुर देहात केशव कुमार चौधरी ने बताया कि मामले को संज्ञान में लेकर देर रात आरोपी दरोगा महेंद्र पटेल को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। लेकिन एसपी ने यह नहीं बताया कि मात्र सस्पेंड कर देने से जिस महिला की अस्मत पूरे प्रदेश ने देखी क्या इससे भर उसे न्याय मिल जाएगा। यह बड़ा सवाल रहेगा।

Next Story

विविध

Share it