राष्ट्रीय

UP : थानेदार पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर महिला सिपाही ने की सुसाइड की कोशिश, वायरल हुआ वीडियो

Janjwar Desk
6 July 2021 9:21 AM GMT
UP : थानेदार पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर महिला सिपाही ने की सुसाइड की कोशिश, वायरल हुआ वीडियो
x

यूपी के कासगंज में महिला सिपाही ने अपने थानेदार पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर खुदखुशी का प्रयास किया है.

घटना दोपहर लगभग एक बजे की है। थाना सहावर में तैनात महिला आरक्षी वैशाली पुंढीर ने परिसर में स्थित अपने कमरे में फांसी लगाकर जान देने की कोशिश की। सुसाइड से पहले सिपाही ने वीडियो सोशल मीडिया पर डाला...

जनज्वार, लखनऊ। यूपी में सरकार जिला पंचायत, ब्लॉक प्रमुख जीतने की रणनीति बना रही और इधर अपराध कानून-व्यवस्था का चीरहरण कर रहा है। और अब तो थाना चोकी के भीतर वर्दीवाली तक सुरक्षित नहीं रह पा रही हैं। मामला कासगंज के थाना सहावर से सामने आया है जहां महिला सिपाही ने अपने थानेदार पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

सोमवार 5 जुलाई की दोपहर कासगंज में उस समय कौतुहल मच गया, जब एक महिला सिपाही ने थाना प्रभारी पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर सुसाइड का प्रयास किया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। महिला सिपाही ने आत्मघाती कदम उठाने से पहले वीडियो वायरल करने के साथ एक नोट भी लिखा है। वहीं दूसरी तरफ थाना प्रभारी ने सभी आरोपों से इनकार किया है।

घटना दोपहर लगभग एक बजे की है। थाना सहावर में तैनात महिला आरक्षी वैशाली पुंढीर ने परिसर में स्थित अपने कमरे में फांसी लगाकर जान देने की कोशिश की। सुसाइड से पहले सिपाही ने वीडियो सोशल मीडिया पर डाला। बात की जानकारी साथी महिला पुलिसकर्मियों को हुई। सभी वैशाली पुंढीर की मदद को दौड़ी और उसे खुदकुशी करने से रोक लिया।

महिला सिपाही को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वह खतरे से बाहर है। महिला सिपाही का आरेप है कि थाना प्रभारी पिछले एक महिने से उसका उत्पीड़न कर रहे हैं। दुर्व्यवहार करते हैं। उनके उत्पीड़न से तंग आकर जान देना चाहती थी। मामले की भनक जब पुलिस अफसरों को लगी तो हल्ला मच गया। सीओ शैलेंद्र परिहार भी थाने पहुंचे।

सीओ ने थाना प्रभारी राजेश कुमार मीणा से जानकारी ली। जिसके बाद वह महिला सिपाही का हाल जानने स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। वहां उन्होंने पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। वहीं दूसरी तरफ थाना प्रभारी राजेश कुमार मीणा ने अपने ऊपर लगे आरोपों को निराधार बताया है। मामला जो भी हो, लेकिन इस घटना के बाद से पूरे पुलिस महकमे में खलबली है।

फांसी की कोशिश के बाद खतरे से बाहर महिला सिपाही
फांसी की कोशिश के बाद खतरे से बाहर महिला सिपाही

महिला सिपाही वैशाली पुंढीर का कहना है कि 'सोमवार को वह बैंक ड्यूटी पर थी, लेकिन स्वास्थ्य खराब होने के कारण कमरे पर वापस आ गई थी, लेकिन मुझे गैर हाजिर दिखा दिया गया। जब थाना प्रभारी को यह बात बताई गई तो उन्होंने अनसुना कर दिया और मेरी कोई बात नहीं सुनी। जिससे मैंने आत्महत्या करने की कोशिश की थी।'

कथित आरोपी थाना प्रभारी राजेश कुमार मीणा ने बताया कि 'महिला सिपाही की ड्यूटी सोमवार को बैंक में थी। निरीक्षण के दौरान वह बैंक में अनुपस्थित पाई गईं। उनसे अनुपस्थिति का कारण मांगा गया तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाईं। जब उनकी गैर हाजिरी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई तो महिला आरक्षी ने दबाव बनाने के लिए इस तरह की कोशिश की है।'

सीओ सहावर शैलेंद्र परिहार ने कहा कि थाना प्रभारी एवं महिला सिपाही के बीच किसी बात को लेकर तनाव हो गया था। महिला सिपाही ने आत्महत्या करने की कोशिश की है। जांच में पता चला कि महिला सिपाही बैंक ड्यूटी पर थीं, लेकिन थाना प्रभारी के निरीक्षण में अनुपस्थित मिलीं। महिला आरक्षी का कहना है कि स्वास्थ्य खराब होने के बाद कमरे पर चली गईं थीं। उच्चाधिकारियों से जो भी दिशा निर्देश मिलेंगे उसके अनुसार आगे की जांच करेंगे।

Next Story

विविध

Share it