Top
उत्तर प्रदेश

अभी-अभी : सांसदों संग राहुल हाथरस के लिए रवाना, प्रियंका गांधी खुद चला रहीं कार

Janjwar Desk
3 Oct 2020 9:42 AM GMT
अभी-अभी : सांसदों संग राहुल हाथरस के लिए रवाना, प्रियंका गांधी खुद चला रहीं कार
x
कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीड़ित परिवार से मिलने के लिए सांसदों के साथ दिल्ली स्थित कांग्रेस कार्यालय से हाथरस के लिए रवाना हो गए हैं। उनके दौरे को देखते हुए डीएनडी फ्लाइवे पर बैरिकेडिंग लगाकर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। राहुल के दौरे से पहले बीजेपी की बयानबाजी तेज हो गई है।

जनज्वार। कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीड़ित परिवार से मिलने के लिए सांसदों के साथ दिल्ली स्थित कांग्रेस कार्यालय से हाथरस के लिए रवाना हो गए हैं। उनके दौरे को देखते हुए डीएनडी फ्लाइवे पर बैरिकेडिंग लगाकर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। राहुल के दौरे से पहले बीजेपी की बयानबाजी तेज हो गई है। स्मृति इरानी ने राहुल के हाथरस दौरे को पॉलिटिकल स्टंट करार दिया तो वहीं योगी के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने निशाना साधते हुए कहा कि राहुल और प्रियंका ने हाथरस को टूरिस्ट स्पॉट बना दिया है। सीएम योगी से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंंत्री रामदास आठवले ने हाथरस डीएम पर कार्रवाई की बात कही है। वहीं लखनऊ में यूपी कांग्रेस चीफ अजय लल्लू को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है।

हाथरस के लिए रवाना होने से पहले प्रियंका गांधी ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'अगर इस बार नहीं मिल पाए तो अगली बार हम फिर कोशिश करेंगे।' राहुल गांधी और दूसरे कांग्रेस सांसद भी उनके साथ मौजूद हैं।'

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, 'यूपी में कोई सिस्टम बचा है क्या? जबसे यह सरकार सत्ता में आई है वहां कई केस हो चुके हैं। पहले वहां लिचिंग और विपक्षी नेताओं की हत्या के मामले आते थे और उनके खिलाफ ही केस कर दिया जाता था। यूपी में अब यह नया नहीं बल्कि रूटीन हो गया है।'

डीएनडी बॉर्डर पर कमिश्नर आलोक सिंह भी पहुंच चुके हैं। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और नेताओं की भारी भीड़ यहां मौजूद है। राहुल के आने का इंतजार किया जा रहा है। वहीं आम लोगों को बैरिकेडिंग पार करने से रोक दिया गया है। डीएनडी बॉर्डर पर 2 किमी लंबा जाम लग गया है।

एक तरफ राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेसी हाथरस कूच की तैयारी में हैं तो वहीं दिल्ली नोएडा डायरेक्ट फ्लाइवे (डीएनडी) में सुरक्षाबलों का पहरा है। उधर दिल्ली में कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने कहा, 'हमारा मकसद सिर्फ परिवार से मिलना और उनकी शिकायतें सुनना है।'

Next Story

विविध

Share it