Top
उत्तर प्रदेश

UP : प्रयागराज में देशी ठेके की शराब पीने से हुई 6 की मौत, कई अन्य की हालत गंभीर

Janjwar Desk
20 Nov 2020 6:51 PM GMT
UP : प्रयागराज में देशी ठेके की शराब पीने से हुई 6 की मौत, कई अन्य की हालत गंभीर
x
शराब पीने से 6 मौतों की घटना से ग्रामीण खासे आक्रोशित हैं। ग्रामीणों ने शराब के ठेके के बाहर जाम लगाकर खूब हंगामा किया। घटना की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर डीएम, जिला आबकारी अधिकारी और पुलिस अधिकारी पहुंचे....

जनज्वार। कोरोना से हुए लॉकडाउन के बीच जगह-जगह से जहरीली शराब पीने से कई मौतें हुयी हैं। अब देशी ठेके की शराब पीने के बाद उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 6 लोगों की मौत हो गयी है।

जानकारी के मुताबिक प्रयागराज में फूलपुर के अमिलिहा गांव में देशी ठेके की शराब पीने के बाद छह लोगों की मौत हो चुकी है। सबसे पहली मौत एक पान विक्रेता की हुयी थी। यह मौत गुरुवार 19 नवंबर की रात हुई, जबकि पांच अन्य ने शुक्रवार 20 नवंबर को दम तोड़ा था। अभी भी देशी ठेके की शराब पीने के बाद आधा दर्जन से ज्यादा लोग गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं।

शराब पीने से 6 मौतों की घटना से ग्रामीण खासे आक्रोशित हैं। ग्रामीणों ने शराब के ठेके के बाहर जाम लगाकर खूब हंगामा किया। घटना की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर डीएम, जिला आबकारी अधिकारी और पुलिस अधिकारी पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त करने के बाद घोषणा करायी कि अगर शराब पीने के बाद कोई और भी बीमार हुआ हो तो उसे तुरंत अस्पताल पहुंचायें।

पुलिस ने आरोपी शराब ठेकेदार की तलाशी अभियान के दौरान एक सेल्समैन को पकड़ा है और उससे पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि प्रयागराज के फूलपूर इलाके के अमिलिहा में संगीता देवी के नाम से देशी शराब का ठेका चलता है। ग्रामीणों के मुताबिक गुरुवार 19 नवंबर की शाम को अरवासी गांव के पान विक्रेता रामजी मौर्य और बसंत लाल ने ठेके से शराब लेकर पी थी और उसी शाम को दोनों की हालत बिगड़ गई। अस्पताल पहुंचने से पहले ही रामजी मौर्य की मौत हो गई तो परिजनों ने रात में ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया। वहीं शुक्रवार सुबह बसंत लाल ने भी दम तोड़ दिया।

वहीं देशी ठेके से शराब पीने वाले अमिलिहा गांव के शंभूनाथ, राजबहादुर और प्यारेलाल की हालत भी लगातार बिगड़ने लगी। शाम को बहुत बुरी हालत में राजबहादुर व प्रभुनाथ के परिजन दोनों को सीएचसी फूलपुर लेकर पहुंचे, मगर तब तक उनकी जान जा चुकी थी। डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

शराब पीने वाले बसंतलाल और प्यारेलाल की शुक्रवार 20 नवंबर शाम घर पर ही मौत हो गई। वहीं रात में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के चतुर्थश्रेणी कर्मचारी राजेश गौड़ की भी मौत की खबर आ गयी। अमिलिहा गांव के ही प्रभुनाथ, कोनार गांव के ताराचंद और खनसार गांव के जगदीश यादव की हालत बहुत नाजुक बनी हुई है।

जिन लोगों की शराब पीने से मौत हुयी है उनमें 42 वर्षीय राजबहादुर 53 वर्षीय शंभूनाथ, 42 वर्षीय प्यारेलाल, 65 वर्षीय बसंत लाल, 50 वर्षीय रामजी मौर्य और 40 साल के राजेश गौड़ शामिल हैं। इनके अलावा ताराचंद्र, जगदीश, प्रभुनाथ पटेल, खलील अहमद और हरिकेश की हालत नाजुक बनी हुयी है और वे अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं।

Next Story
Share it