स्वास्थ्य

Agra News: फतेहपुर सीकरी के गांव देवरी में रहस्यमयी बीमारी से दो बच्चों की मौत, अभी भी कई बीमार

Janjwar Desk
24 Aug 2022 4:42 AM GMT
Agra News: फतेहपुर सीकरी के गांव देवरी में रहस्यमयी बीमारी से दो बच्चों की मौत, अभी भी कई बीमार
x

Agra News: फतेहपुर सीकरी के गांव देवरी में रहस्यमयी बीमारी से दो बच्चों की मौत, अभी भी कई बीमार

Agra News: यूपी के आगरा के फतेहपुर सीकरी ब्लाक क्षेत्र के देवनारी गांव में रहस्यम बीमारी से दो बच्चों की मौत हो गई। अभी कई बीमार है,जिन बच्चों की मौत हुई पेट दर्द से कराह रहे थे। इससे स्वास्थ्य महकमें में हड़कंप मच गया।

Agra News: यूपी के आगरा के फतेहपुर सीकरी ब्लाक क्षेत्र के देवनारी गांव में रहस्यम बीमारी से दो बच्चों की मौत हो गई। अभी कई बीमार है,जिन बच्चों की मौत हुई पेट दर्द से कराह रहे थे। इससे स्वास्थ्य महकमें में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची, कोविड-19, फागिंग, एंटी लार्वा का छिडकाव के साथ करीब दो सौ लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर दवाएं वितरित की गई। पानी का नमूना लेकर जांच को भेजा गया है।

देवनारी गांव में रहस्यमय बीमारी के चलते बीते तीन दिन में दो बच्चों की मौत हो गई। पेट दर्द से पीड़ित कई अन्य बच्चे व एक महिला अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती हैं। दो बच्चों की मौत और अन्य ग्रामीणों के बीमार होने की जानकारी से स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया। 23 अगस्त मंगलवार को आनन-फानन विभाग ने चिकित्सकों की टीम भेजकर गांव में स्वास्थ्य कैंप लगाया, जिसमें ग्रामीणों को जागरूक करने के साथ जांच करने के बाद उन्हें दवाएं भी वितरित की गईं।

इन बच्चों की हुई मौत

जितेंद्र सिंह के 12 वर्षीय बेटे अभिषेक को 20 अगस्त की सुबह पांच बजे पेट में दर्द और सांस लेने में दिक्कत होने पर परिजन उसे अस्पताल ले गए। वहां परीक्षण के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं, रामेश्वर की सात वर्षीय बेटी चंचल की 22 अगस्त की सुबह पेट में दर्द और सांस लेने में दिक्कत पर अस्पताल में ले जाते वक्त मृत्यु हो गई।

महिला और युवक, तीन बच्चे बीमार

गांव के गोविंदा (12 ) पुत्र गोपाल, मोहित (12 ) पुत्र जगदीश, शिवप्रकाश (11) पुत्र सतीश, शनि पुत्र धर्मेंद्र, उदय सिंह (35 ) पुत्र पन्नालाल, कुमरदेई (35) पत्नी बनवारी को भी 22-23 अगस्त में पेट दर्द की शिकायत होने पर निजी अस्पतालों में इलाज के ले जाया गया, जहां से उन्हें आगरा व भरतपुर रेफर कर दिया गया। इस रहस्यमयी बीमारी से लोग भयभीत है।

चिकित्सकों की टीम गांव पहुंची बीमारों को दवायें दी

स्वास्थ्य विभाग की टीम देवनारी पहुंची। मृत बच्चों के परिवारीजनों व अन्य ग्रामीणों की मलेरिया, कोविड-19 समेत अन्य जांच की। गांव में फागिंग व एंटी लार्वा का छिड़काव कराया गया। गांव में शिविर लगाकर करीब दो ग्रामीणों की स्वास्थ्य जांच कर दवाएं वितरित की गईं। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अभिषेक परिहार ने बताया कि गांव में स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है और उक्त संबंध में आलाअधिकारियों को अवगत करा दिया गया है।

जांच के बाद स्पष्ट होगी बीमारी

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अरुण श्रीवास्तव के मुताबिक एक बच्चे को उल्टियां हो रही थीं, आशंका है कि खाने की नली चोक होने से बच्चे की मौत हुई। पानी के नमूने की जांच और बाकी जांचों के बाद स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। बताया देवनारी स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी गई जो सात दिन तक कैंप करेगी।

Next Story

विविध