Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस गैंगरेप केस: अखिलेश यादव की मांग- DM और SP के खिलाफ दर्ज हो FIR

Janjwar Desk
3 Oct 2020 5:43 AM GMT
हाथरस गैंगरेप केस: अखिलेश यादव की मांग- DM और SP के खिलाफ दर्ज हो FIR
x
सपा अध्यक्ष ने ट्वीट कर लिखा, 'आज 'हाथरस की बेटी' के लिए 'मौन व्रत' रखने और धरने पर बैठने जा रहे सपा के वरिष्ठ नेताओं व विधायकों को भाजपा सरकार ने गिरफ्तार करके बापू-शास्त्री की जंयती के दिन सत्य की आवाज अहिंसक तरीके से दबाई है। निंदनीय।' उन्होंने कहा कि सपा हाथरस के डीएम, एसपी पर FIR की मांग करती है।

जनज्वार। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में गैंगरेप पीड़िता के दम तोड़ने के बाद देश भर में आक्रोश का माहौल है। वहीं पीड़िता के परिजनों को इंसाफ दिलाने के लिए समूचा विपक्ष एक सुर में पीएम मोदी और सीएम योगी पर हमलावर है। इस बीच समाजवादी पार्टी (SP) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीट कर प्रदेश के डीएम और एसपी के खिलाफ एफआईआर की मांग की है।

अखिलेश ने की निंदा

सपा अध्यक्ष ने ट्वीट कर लिखा, 'आज 'हाथरस की बेटी' के लिए 'मौन व्रत' रखने और धरने पर बैठने जा रहे सपा के वरिष्ठ नेताओं व विधायकों को भाजपा सरकार ने गिरफ्तार करके बापू-शास्त्री की जंयती के दिन सत्य की आवाज अहिंसक तरीके से दबाई है। निंदनीय।' उन्होंने कहा कि सपा हाथरस के डीएम, एसपी पर FIR की मांग करती है।

योगी सरकार पर बोला हमला

समाजवादी पार्टी कार्यालय की ओर से जारी ट्वीट में कहा गया, 'लखनऊ में शांतिपूर्ण पैदल मार्च कर रहे सपा विधायकों को पुलिस द्वारा दमनकारी सत्ता के इशारे पर रोकना निंदनीय! बापू ने सदा अहिंसा का वरण किया, हाथरस में हैवानियत की शिकार बेटी के समर्थन में और भाजपा सरकार के अत्याचार के खिलाफ गांधी प्रतिमा तक मार्च निकाल रहे विधायकों को अहंकारी, डरी हुई सरकार ने रोका।'

सपा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका

दरअसल, हाथरस कांड और कृषि संबंधी नए कानून के विरोध में मौन व्रत पर बैठने के लिए जा रहे समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं को शुक्रवार को हजरतगंज इलाके में पुलिस ने आगे नहीं जाने दिया। कई सपा विधायक और वरिष्ठ पार्टी नेता पार्टी कार्यालय से जुलूस के रूप में पार्टी कार्यालय से निकले और हजरतगंज चौराहे तक पहुंचे जहां पुलिस ने मार्ग अवरोधक लगा रखे थे। जब सपा कार्यकर्ताओं ने हजरतंगज स्थित गांधी प्रतिमा तक जाने का प्रयास किया तो उन्हें रोक दिया गया।

क्या था मामला?

दरअसल, 14 सितंबर को चार पुरुषों ने हाथरस के एक गांव में युवती से सामूहिक बलात्कार किया था। अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया था। उसकी हालत और खराब होने के बाद उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भेजा गया, जहां उसने मंगलवार को दम तोड़ दिया।

Next Story

विविध

Share it