Begin typing your search above and press return to search.
उत्तर प्रदेश

Kasganj Case: 3 महीने 6 दिन बाद कब्र से निकला अल्ताफ का शव, जानिए क्या है पूरा मामला

Janjwar Desk
15 Feb 2022 4:35 PM GMT
Kasganj Case: 3 महीने 6 दिन बाद कब्र से निकला अल्ताफ का शव, जानिए क्या है पूरा मामला
x

Kasganj Case: 3 महीने 6 दिन बाद कब्र से निकला अल्ताफ का शव, जानिए क्या है पूरा मामला

Kasganj Case: इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर आज 3 महीने 6 दिन बाद अल्ताफ के पार्थिव शरीर को वीडियो ग्राफी कराकर कब्र से खोदकर निकाला गया और दिल्ली में एम्स अस्पताल में भेजा गया.

Kasganj Case: इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर आज 3 महीने 6 दिन बाद अल्ताफ के पार्थिव शरीर को वीडियो ग्राफी कराकर कब्र से खोदकर निकाला गया और दिल्ली में एम्स अस्पताल में भेजा गया. जहां एम्स के डॉक्टर दुबारा अल्ताफ का पोस्टमार्टम करेंगे. अल्ताफ की कासगंज जनपद की कासगंज कोतवाली में 9 नवंबर 2021 को पुलिस हिरासत में मौत हो गयी थी. अल्ताफ के पिता ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी, उसी याचिका में ये आदेश दिया गया था.

कासगंज जनपद की कासगंज कोतवाली में पुलिस हिरासत में हुई. अल्ताफ की मौत का राज अब खुलने की उम्मीद बढ़ गयी है. हाईकोर्ट के आदेश पर आज कब्र से अल्ताफ के शव को खोदकर दुबारा पोस्टमार्टम के लिए दिल्ली एम्स में भेजा गया है. पिछले कई दिनों से अल्ताफ की कब्र की सुरक्षा में पुलिस तैनात की गई थी. कासगंज में अल्ताफ की पुलिस हिरासत में मौत का मामला फिर गरमा गया है. आज दिन में 3.30 बजे के लगभग एसपी कासगंज रोहन प्रमोद बोत्रे की मौजूदगी में कब्र से खोदकर अल्ताफ के शव को निकाला गया और ताबूत में रखकर एक एम्बुलेंस से एम्स अस्पताल नई दिल्ली को एम्स के डॉक्टरो द्वारा दुबारा पोस्टमार्टम कराने के लिए भेजा गया. शव को खोदकर निकालने की और पोस्टमार्टम के लिए दिल्ली को एम्स में भेजने की पूरी वीडियोग्राफी पुलिस द्वारा की गई.

यह है मामला

कोतवाली पुलिस की हिरासत में 9 नवंबर 2021 को 20 वर्षीय युवक अल्ताफ की मौत हुई थी। पुलिस का कहना था कि अल्ताफ ने हवालात के टायलेट में टंकी के पाइप पर जैकेट की डोरी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली, लेकिन पुलिस की यह थ्योरी परिवार के गले नहीं उतरी। उन्होंने पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगाया। अल्ताफ के शव को कब्र से बाहर निकालने की कार्रवाई के दौरान परिवार की ओर से पांच लोग मौजूद रहे। जिसमें पिता चांद मियां, दानिश, इरफान, दिलशाद एवं आजाद समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष विशाल शामिल हैं।

पुलिस पर हत्या का आरोप

मृतक अल्ताफ के परिजनों ने पुलिस पर पीट-पीटकर हत्या का आरोप लगाया था. मामले ने तूल पकड़ा तो सरकार ने न्यायिक जांच के आदेश दे दिए थे. वहीं अल्ताफ के पिता चांद मियां की ओर से मामले की जांच सीबीआई से कराने और एक करोड़ रुपए मुआवजे के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी. इसी पर मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस अंजनी कुमार मिश्रा और जस्टिस दीपक वर्मा ने बीते दिनों पूर्व राज्य सरकार को आदेश दिया है कि अल्ताफ के शव को कब्र से निकाला जाए और एम्स नई दिल्ली में दोबारा पोस्टमॉर्टम कराया जाए.

पुलिस हिरासत में हुई थी अल्ताफ की मौत

कासगंज जनपद में 9 नवंबर 2021 को कासगंज थाने में पुलिस हिरासत में अल्ताफ की मौत हो गयी थी और इस मामले में हाई कोर्ट इलाहाबाद ने 10 दिन के अंदर अल्ताफ के शव को कब्र से निकालकर दुबारा पोस्ट मार्टम कराने का कासगंज पुलिस को आदेश 10 फरवरी को दिया था. एम्स के डॉक्टर्स की टीम के द्वारा वीडियो ग्राफी में अल्ताफ का दुबारा पोस्ट मार्टम करवाने का आदेश हाई कोर्ट ने दिया था. पुलिस के अनुसार अल्ताफ ने थाने के टॉयलेट की टोंटी से जैकेट की डोरी से लटककर फांसी लगा ली थी, जबकि परिजनों ने पुलिस हिरासत में अल्ताफ की पीट पीट कर हत्या करने का आरोप लगाया था.

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दिया आदेश

इलाहाबाद हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति अंजनी कुमार मिश्रा और दीपक वर्मा की खंड पीठ ने अल्ताफ के पिता की याचिका की सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया था. अल्ताफ की दोबारा पोस्टमार्टम की प्रक्रिया के संबंध में हाईकोर्ट ने दिशा निर्देश जारी किए हैं. हाई कोर्ट के निर्देश के बाद अब अल्ताफ के पिता चांद मियां और मां फातिमा को न्याय की आस जगी है. इस मामले में अल्ताफ के पिता चांद मिया की तहरीर पर 13 नवंबर 2021 को कासगंज थाने में आईपीसी की धारा 302 के तहत पुलिस कर्मियों पर मुकदमा दर्ज हुआ था और तीन पुलिस कर्मी ससपेंड और 5 लाइन हाजिर किये गए थे. कासगंज के एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने बताया कि हाई कोर्ट के आदेश के तहत अल्ताफ के शव को कब्र से निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए दिल्ली एम्स अस्पताल भेजा गया है. अल्ताफ के पिता चांद मिया ने कहा कि अब उनको न्याय की आस जगी है. उंन्होने एम्स के डॉक्टरों से न्याय मिलने की उम्मीद जताई है.

Janjwar Desk

Janjwar Desk

    Next Story