Top
उत्तर प्रदेश

UP : लूट के आरोपी युवक की जौनपुर में पुलिस कस्टडी में हुई मौत, परिजनों ने लगाया पुलिस पर हत्या का आरोप

Janjwar Desk
13 Feb 2021 4:12 AM GMT
UP :  लूट के आरोपी युवक की जौनपुर में पुलिस कस्टडी में हुई मौत, परिजनों ने लगाया पुलिस पर हत्या का आरोप
x

पुलिस कस्टडी में मरने वाला युवक कृष्णा, परिजनों ने कहा हमारे बच्चे की हुई है हत्या

कृष्णा के परिजनों का कहना है कि पुलिस कस्टडी में लिये जाने से पहले तक कृष्णा एकदम ठीक था, उसे बुरी तरह पीटा गया और बाद में पुलिस ने ही उसकी हत्या की है...

जनज्वार ब्यूरो, जौनपुरउत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के बक्शा थाना में पूछताछ के लिये लाये गये लूट के एक आरोपी कृष्णा उर्फ किशन यादव उर्फ पुजारी की गुरुवार 11 फरवरी की देर रात हुई मौत से पूरे पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया है। आनन-फानन में एसपी राजकरण नैयर ने इस मामले में बक्सा थानाध्यक्ष समेत चार कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है। मृतक का पोस्टमार्टम कराने के लिए मजिस्ट्रेट की तैनाती कर पूरे मामले की वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी।

मृतक के परिवार वाले पुलिस द्वारा कृष्णा की बुरी तरह पिटाई करके हत्या का आरोप लगा रहे हैं। कृष्णा के परिजनों का कहना है कि पुलिस कस्टडी में लिये जाने से पहले तक कृष्णा एकदम ठीक था, उसे बुरी तरह पीटा गया और बाद में पुलिस ने ही उसकी हत्या की है।

शुक्रवार 12 फरवरी को थाना परिसर से लेकर जिला अस्पताल तक पुलिस व पीएसी के जवानों के अलावा कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी राजकरण नैयर खुद घटना की तहकीकात में जुटे हुए है। एसपी ने बताया है कि निलंबन का कारण जांच प्रभावित न हो इसलिए की गई है। सुरक्षा के मद्देनजर जिला चिकित्सालय, पोस्टमार्टम घर व घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

पुलिस कस्टडी में युवा की मौत के बाद गुस्साये ग्रामीणों ने जौनपुर प्रयागराज मुख्य मार्ग को चकमिर्जापुर गांव के सामने जाम लगाकर बन्द कर दिया। पुलिस पर पथराव किया गया जिसमें एक सीओ समेत 4 पुलिसकर्मी गंभीर तौर पर चोटिल हो गए। सुबह दस बजे लगा जाम शाम 4 बजे तक लगा रहा। बाद में पूर्व सांसद धनंजय सिंह और एसपी के आश्वासन पर जाम खुलवाया जा सका। मामले में एसपी ने चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है। डीएम मनीष कुमार वर्मा ने घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए हैं।

इस सम्बंध में पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर ने मीडिया को बताया कि एक फरवरी को बख्शा थाना क्षेत्र के शिवगुलाम बाजार में एक लूट हुई थी। पुलिस ने इस मामले में किशन उर्फ कृष्णा उर्फ पुजारी यादव को 11 फरवरी की रात बक्शा थाने की पुलिस ने गिरफ्तार करके उसके पास से लूट के 64 हजार रुपये बरामद हुआ था। इसके अलग स्थानों पर लूटे गए 13 मोबाइल उसके घर से बरामद हुआ था। रात में अचानक किशन के पेट मे दर्द होने लगा। पुलिस उसे अस्पताल ले गई, जहां इलाज के दरम्यान उसकी मौत हो गई। इस मामले में जांच बैठा दिया गया है। जांच प्रभावित न हो इसके लिए थानाध्यक्ष बक्शा समेत चार पुलिस कर्मियों को निलम्बित कर दिया गया है।

लूट की घटना में शामिल होने के आरोप में पुलिस ने किया था गिरफ्तार

जौनपुर जिले के बक्शा थाना में पूछताछ के लिए 11 फरवरी 2021 को 25 वर्षीय कृष्णा उर्फ किशन यादव उर्फ पुजारी को लेकर आयी थी, जिसकी उसी दिन देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

गौरतलब है कि लूट के एक मामले में क्राइम ब्रांच की टीम चार पांच युवकों को पूछताछ के लिए बक्शा थाने लायी थी। चारों युवकों से पुलिस ने पूछताछ की। पूछताछ में थाना क्षेत्र के चकमिर्जापुर निवासी तिलकधारी यादव के 25 वर्षीय पुत्र किशन उर्फ कृष्णा यादव उर्फ पुजारी को भी पुलिस ने हिरासत में लिया गया था। देर रात किशन की हालत खराब हो गई। पुलिसकर्मी उसे आनन-फानन में रात 1 बजे बक्शा सीएचसी बेलापार नौपड़वा अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने स्थिति नाजुक देख जिला अस्पताल रेफर कर दिया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

शुक्रवार 12 फरवरी की सुबह ही बक्सा थाना पुलिस का पूरा इलाका पुलिस छावनी के रूप में तब्दील हो गया। पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर, एएसपी सिटी संजय कुमार, एएसपी देहात त्रिभुवन सिंह समेत आधा दर्जन थानों की पुलिस मौके पर बुला ली गई। उधर समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेताओं का भी जमावड़ा धीरे-धीरे मृतक के गांव में होने लगा है।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने जौनपुर के किशन यादव उर्फ पुजारी की पुलिस हिरासत में हुई मौत पर दुख जताते हुए कहा कि सरकार को अविलंब उसके परिवार को 50 लाख रुपये मदद देने की मांग की है। साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री ने मृतक के परिवार को 2 लाख रुपये की आर्थिक मदद दिए जाने की घोषणा की है।

Next Story
Share it