Top
उत्तर प्रदेश

UP : मिर्जापुर में बिहार के तीन युवाओं की लाशें खून से लथपथ हालत में सड़क किनारे मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी

Janjwar Desk
14 March 2021 11:49 AM GMT
UP : मिर्जापुर में बिहार के तीन युवाओं की लाशें खून से लथपथ हालत में सड़क किनारे मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी
x
पुलिस तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की कार्यवाही एवं अन्य विधिक कार्यवाही में जुट गयी है, हत्या का कारण अभी स्पष्ट नही हो पाया है कि हत्या क्यों व किसने की है...

संतोष देव गिरि की रिपोर्ट

जनज्वार ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले की चुनार कोतवाली क्षेत्र के नंदूपुर गांव में सड़क किनारे तीन युवकों के शव मिलने की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई है। गोली मारकर हत्या किये जाने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस और फोरेंसिक जांच की टीम मौके पर पहचान में जुटी है।

मृत युवाओं के जेब से मिले डीएल व डायरी पर पता रोहतास, बिहार लिखा हुआ मिला है। तीनों शव सड़क किनारे किसी चार पहिया वाहन के कवर से ढके गए थे। रविवार 14 मार्च की सुबह ग्रामीणों की नज़र पड़ी तो सभी दंग हो उठे, धीरे-धीरे यहां बात जंगल में आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई और देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई थी। तीनों के चेहरे पर धारदार हथियार के निशान भी पाए गए हैं। चुनार कोतवाली प्रभारी निरीक्षक गोपाल गुप्ता का मानना है कि हत्या के बाद तीनों के शव को सड़क किनारे फेंका गया है। एक की जेब से एक जिंदा कारतूस व दूसरे की जेब से डायरी व डीएल पाया गया है।

गौरतलब है कि आज रविवार 14 मार्च की सुबह जिले के चुनार कोतवाली अन्तर्गत अदलपुरा चौकी क्षेत्र के वाराणसी-चुनार राज्य मार्ग-74 पर सड़क के किनारे सुबह मार्निंग वाक पर निकले ग्रामीणों की नजर जब शवों पर पड़ी तो सभी सहम उठे। जिनकी सूचना पर चुनार पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंच कर नन्दूपुर में खून से लतपथ तीन शव को अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल में जुट गयी है।

मृतको में से एक व्यक्ति के पास मिले डायरी के आधार पर उसकी पहचान राज कुमार उर्फ पिन्टू यादव पुत्र घुघली यादव रोहतास (बिहार) उम्र लगभग 32 वर्ष के रुप में हुई है। मृतक राज कुमार के भाई बिटू यादव ने बताया कि 13 मार्च को शाम चार-पांच बजे उसका भाई राज कुमार जो पिन्टू कुमार पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी बाईपास रोड, सोनभद्र की स्कार्पियो गाड़ी चलाता था, वाहन स्वामी पिन्टू कुमार व पड़ोस के गांव के रहने वाले 30 वर्षीय ओम पुत्र जमीदार साव निवासी जमुआ थाना गोरारी, रोहतास (बिहार) के साथ गोरारी से निकले थे। इसके बाद उनके बारे में कोई जानकारी नहीं है।

पुलिस से लाश मिलने की खबर से उनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। मृतकों में गाड़ी मालिक पिंटू कुमार के पास है 6 हजार रुपया, ओम के जेब से एक 315 बोर का जिंदा कारतूस और स्कॉर्पियो गाड़ी चालक राजकुमार के पास से ड्राइविंग लाइसेंस और डायरी मिली है। इधर चुनार पुलिस तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की कार्यवाही एवं अन्य विधिक कार्यवाही में जुट गयी है। हत्या का कारण अभी स्पष्ट नही हो पाया है कि हत्या क्यों व किसने की है?

एक तरफ जहां मिर्जापुर जिले में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गई है, पूरा प्रशासनिक अमला उनकी अगवानी में डटा हुआ था, वहीं आज रविवार 14 मार्च को तड़के मिर्जापुर में तीन युवाओं की एक साथ लाशें बरामद होने से हड़कंप मच गया।

जानकारी के मुताबिक तीनों के शव खून से लथपथ थे, ऐसे में इस बात को बल मिलता है कि घटना को कुछ ही देर पहले यानी 13 मार्च की देर रात या फिर 14 मार्च के तड़के अंजाम दिया गया था, वह भी निर्मम तरीके से। राष्ट्रपति के कार्यक्रम से ठीक पहले हुई इस बड़ी घटना ने सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए हैं। जहां पर लाशें मिली हैं, वह इलाका मिर्जापुर-वाराणसी के बॉर्डर पर स्थित है, यहीं के नंदुपुर गांव के सिवान में लाश फेंका गयी थी।

पुलिस के मुताबिक सबकी उम्र 40 वर्ष से कम है तथा बिहार के रहने वाले हैं। यह भी पता चला है कि एक युवा सोनभद्र के रहने वाले किसी गाड़ी मालिक की स्कॉर्पियो चलाता था उसके परिजनों से संपर्क करने पर इस बात की पुष्टि हुयी है।

मृतक व्यक्तियों राजकुमार उर्फ पिंटू यादव पुत्र घुघली यादव निवासी ग्राम व थाना गोरारी जनपद रोहतास, बिहार शामिल है, जिसकी उम्र करीब-35 वर्ष है। दूसरे युवक की पहचान ओम कुमार पुत्र जमीदार साव निवासी जमुआ थाना गोरारी जनपद रोहतास, बिहार के रूप में हुई है, जिसकी उम्र करीब-30 वर्ष है। वहीं एक अन्य की पहचान पिंटू कुमार पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी अमरी तालाब करवरिया जनपद सासाराम, बिहार, उम्र करीब-40 वर्ष के तौर पर हुयी है।

Next Story

विविध

Share it