उत्तर प्रदेश

चौतरफा किरकिरी के बाद रेप मामले में सजायाफ्ता कुलदीप सेंगर की पत्नी का भाजपा ने काटा टिकट, पैरोकारों में पसरी मायूसी

Janjwar Desk
11 April 2021 12:58 PM GMT
चौतरफा किरकिरी के बाद रेप मामले में सजायाफ्ता कुलदीप सेंगर की पत्नी का भाजपा ने काटा टिकट, पैरोकारों में पसरी मायूसी
x
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने आज इसकी जानकारी दी। संगीता सेंगर उन्‍नाव जिला पंचायत की निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष हैं.....

जनज्वार, उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव से सजायाफ्ता रेपिस्ट पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर का टिकट भाजपा ने आज रविवार को काट दिया है। इससे पहले 8 अप्रैल को पार्टी की ओर से घोषित उन्नाव जिला पंचायत चुनाव के उम्मीदवारों की सूची में संगीता सेंगर को वार्ड नम्बर 22 फतेहपुर चौरासी तृतीय से उम्मीदवार घोषित किया गया था।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने आज इसकी जानकारी दी। संगीता सेंगर उन्‍नाव जिला पंचायत की निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। वहीं कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी को टिकट देने का मामला मीडिया में तूल पकड़ने और पीड़िता के परिवार की ओर से इसका विरोध करने के बाद पार्टी ने अपना निर्णय बदलते हुए संगीता का टिकट काट दिया है। उनकी जगह नए उम्मीदवार का नाम जल्द घोषित किया जाएगा।

बता दें कि उन्नाव में तीसरे चरण का चुनाव होना है। जिसके लिए 13 अप्रैल से नामांकन दाखिल किए जाएंगे। संगीता सेंगर का टिकट काटे जाने के बाद जहां विधायक की पत्नी को झटका लगा है वहीं भाजपा के उन नेताओं को भी कहीं ना कहीं झटका लगा होगा जो इस टिकट को दिलाये जाने के पैरोकार रहे थे, खासकर साक्षी महाराज।

बताते चलें कि उन्नाव के बांगरमऊ से विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर पर साल 2017 में उन्नाव की ही एक लड़की ने जबरन बलात्कार किये जाने का आरोप लगाया था। तमाम रस्साकसी के बाद साल 2019 में कुलदीप सिंह सेंगर को तमाम मजबूरी में भाजपा ने पार्टी से बाहर कर दिया था। जिसके बाद विधायक की सदस्यता भी रद्द कर दी गई थी। विधायक जेल में है और आखिरी सांस तक जेल में ही रहेगा।

Next Story

विविध