Top
उत्तर प्रदेश

UP : बुलंदशहर में चायवाले ने आर्थिक तंगी की वजह से परिवार समेत खाया जहर, पत्नी की मौत 2 की हालत नाजुक

Janjwar Desk
21 Oct 2020 3:09 AM GMT
UP : बुलंदशहर में चायवाले ने आर्थिक तंगी की वजह से परिवार समेत खाया जहर, पत्नी की मौत 2 की हालत नाजुक
x
बलबीर चाय की दुकान से होने वाली कमाई से घर का खर्चा तक नहीं चल पा रहा था, उनके सामने खाने तक के लाले पड़े थे। 19 अक्टूबर की देर रात बलवीर ने जहरीली दवा का एक कैप्सूल पहले खुद खाया और फिर अपनी पत्नी व पुत्र को भी कैप्सूल खिला दिया...

जनज्वार। कोरोना से हुए लॉकडाउन ने गरीब वर्ग की कमर तोड़कर रख दी है। लॉकडाउन के बाद मजदूर वर्ग की तस्वीरें और वीडियो देख यह समझा जा सकता है कि उनकी हालत इस रोग में कितनी भयावह हो गयी है। वहीं आर्थिक तंगी के कारण कोरोना के बाद से बड़ी संख्या में आत्महत्याओं का सिलसिला शुरू हुआ, जो अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि सरकार दावा करती है कि बड़ी तादाद में गरीबों—मजदूरों को मदद दी गयी है।

लॉकडाउन के बाद से आर्थिक तंगी झेल रहे बुलंदशहर में एक चायवाले ने परिवार समेत 19 अक्टूबर को जहर खा लिया। चाय की दुकान चलाने वाले अधेड़ ने पत्नी व बेटे समेत जहरीली दवा खाकर आत्महत्या करने की कोशिश कर ली। अस्पताल में इलाज के दौरान पत्नी की मौत हो गई, जबकि चाय विक्रेता और उसके बेटे को गम्भीर स्थिति में मेरठ के जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

गौरतलब है कि देहात कोतवाली क्षेत्र के गांव काहिरा निवासी 55 वर्षीय बलबीर की भूड़ चौराहे के पास चाय की दुकान है। कुछ साल पहले दुकान शुरू करने के बाद बलवीर अपनी पत्नी 52 वर्षीय रामवती और 11 वर्षीय पुत्र दिन्नी उर्फ दीपक को भी अपने साथ ले आया था। तीनो भूड़ चौराहे में दुकान के पास ही रहने लगे थे। बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के बाद से ही चाय की दुकान का काम काफी मंदा चल रहा था।

आसपास रहने वाले लोग इस मामले में कहते हैं, बलबीर चाय की दुकान से होने वाली कमाई से घर का खर्चा तक नहीं चल पा रहा था। उनके सामने खाने तक के लाले पड़े थे। सोमवार 19 अक्टूबर की देर रात बलवीर ने जहरीली दवा का एक कैप्सूल पहले खुद खाया और फिर अपनी पत्नी व पुत्र को भी कैप्सूल खिला दिया। इसके बाद तीनों सो गए।

सुबह घर का दरवाजा अपने समय से न खुलने पर कुछ लोग वहां पहुंचे। लोगों के पहुंचते ही अचानक दीपक बदहवास हालत में उल्टियां करता हुआ बाहर आया। उसने लोगों को बताया कि मां और पिता बेहोश हालत में हैं, लोगों ने पुलिस को सूचना देते हुए परिवार को जिला अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में बलवीर की पत्नी रामवती की मौत हो गई, जबकि बलवीर और पुत्र दीपक को मेरठ रेफर कर दिया गया है।

इस मामले में एसएसपी संतोष कुमार सिंह का कहना है कि 'पहले बलवीर ने खुद कोई दवा खाई और फिर पत्नी एवं पुत्र को भी खिला दी। अस्पताल में पत्नी की मौत हो गई, जबकि बलवीर और उसके पुत्र को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। बलवीर के होश में आने के बाद उससे पूछताछ के बाद ही घटना की तह तक पहुंचा जा सकेगा।

Next Story

विविध

Share it