उत्तर प्रदेश

यूपी : कुत्ते के भौंकने पर दलितों और ठाकुरों में खूनी संघर्ष, आंबेडकर प्रतिमा भी क्षतिग्रस्त

Janjwar Desk
18 Jan 2021 8:36 AM GMT
यूपी : कुत्ते के भौंकने पर दलितों और ठाकुरों में खूनी संघर्ष, आंबेडकर प्रतिमा भी क्षतिग्रस्त
x
भारी बवाल और झड़प में दलित समाज के कई लोग घायल हुए हैं, गांव मे तनाव को देखते हुए कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई, फिलहाल गांव में तनाव व्याप्त है.....

जनज्वार ब्यूरो/अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक कुत्ते के भौंकने पर विवाद इतना बढ़ गया कि गांव में संघर्ष सहित पथराव और फायरिंग हो गई। इस बवाल में कई लोग जख्मी हुए हैं। इस बीच गांव में आंबेडकर प्रतिमा को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। तनाव बढ़ने के बाद गांव में कड़े सुरक्षा बंदोबस्त किये गए है, साथ ही पीएसी को भी तैनात किया गया है।

अलीगढ़ के इगलास विधानसभा क्षेत्र में लोधा थाना इलाके में बड़ौला हाजी गांव है। जहां कुत्ते के विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर बवाल हो गया। आरोप है कि एक पक्ष के लोगों ने पहले दलित समुदाय के लोगों से मारपीट की तथा फिर गांव में मौजूद आंबेडकर की प्रतिमा को भी नुकसान पहुंचाया गया। विवाद ने तूल पकड़ लिया और दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए।

भारी बवाल और झड़प में दलित समाज के कई लोग घायल हुए हैं। गांव मे तनाव को देखते हुए कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। फिलहाल गांव में तनाव व्याप्त है। हालात को देखते हुए पीएसी भी तैनात कर दी गई है। गांव में तत्काल एसडीएम और सीओ समेत तमाम पुलिस फोर्स पहुंच गई। दोनों ही पक्षों की तरफ से तहरीर दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के मुताबिक लोधा क्षेत्र के गांव बडोला हाजी में दलित परिवार का किशोर वीरू अपने खेत की तरफ जा रहा था। इसी दौरान ठाकुर पक्ष का एक युवक गौरव अपने कुत्ते को टहला रहा था। वीरू ने गौरव से कुत्ते को अलग करने के लिए कहा। जिसपर गौरव ने वीरू से गाली-गलौच शुरू कर दी। इस बात पर वीरू अपने घर आया और उसने अपनी मां को पूरी बात बताई।

वीरू की मां ठाकुर पक्ष के गौरव के घर पर गई और उसने इस बात की शिकायत की। आरोप है कि इसके बाद ठाकुर पक्ष के लगभग 10 लोग गाड़ियों पर सवार होकर पहुंचे और दलित समुदाय के घर पर तोड़फोड़ कर दी। झगड़ा इतना बढ़ा कि दोनों ही तरफ से पथराव हो गया। आरोप है कि ठाकुर पक्ष के लोगों ने गांव में मौजूद आंबेडकर की मूर्ति को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।


वहीं ठाकुर पक्ष ने भी दलित पक्ष पर मारपीट और पथराव करने का आरोप लगाया है। गांव में आंबेडकर की मूर्ति क्षतिग्रस्त होने के बाद उपजे तनाव के हालात को देखते हुए तत्काल मौके पर एसडीएम कोल, पुलिस क्षेत्राधिकारी गभाना भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

एसडीएम अनीता यादव ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली थी कि बच्चों में आपसी मारपीट हो गई थी। एक पक्ष अभी बता रहा था कि वह खेत में जा रहे थे और इसी बात से लेकर आपस में बहस हुई थी। बाद में दोनों पक्षों में झगड़ा बढ़ गया। उसके बाद यह सूचना दी गई कि आंबेडकर की मूर्ति भी तोड़ दी गई है।

गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी फोर्स के साथ पीएसी भी तैनात की गई है। तहरीर में भी उन्होंने ही लिखकर दिया है कि हमारे बच्चों के बीच झगड़ा हुआ था। गांव में मूर्ति क्षतिग्रस्त हुई है। घटनास्थल पर मौजूद एसडीएम कोल और सीओ से बीएसपी जिलाध्यक्ष रतनदीप सिंह ने बाबा साहब आंबेडकर की नई प्रतिमा लगाने की मांग की।

इसके साथ ही आरोपियों की गिरफ्तारी और एनएसए के तहत कार्रवाई की मांग जिला प्रशासन से की गई है। पुलिस क्षेत्राधिकारी कर्मवीर सिंह का कहना है कि लोधा थाना क्षेत्र के गांव बड़ौला हाजी में बच्चों में विवाद हुआ था। मूर्ति क्षतिग्रस्त हुई है और मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कानूनी कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it