Top
उत्तर प्रदेश

कुख्यात विकास दुबे के आर्थिक साम्राज्य को ध्वस्त करने की तैयारी, करीबी साथी दयाशंकर अग्निहोत्री मुठभेड़ में गिरफ्तार

Janjwar Desk
5 July 2020 4:55 AM GMT
कुख्यात विकास दुबे के आर्थिक साम्राज्य को ध्वस्त करने की तैयारी, करीबी साथी दयाशंकर अग्निहोत्री मुठभेड़ में गिरफ्तार
x

गैंगस्टर विकास दुबे का साथी दयाशंकर अग्निहोत्री पुलिस मुठभेड़ में ढेर (photo : social media)

गिरफ्तार दयाशंकर अग्निहोत्री पर भी 25 हजार का इनाम होने की बात सामने आई है। बताया जाता है कि विकास ने अवैध तरीके से 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति बना ली है।

कानपुर। कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे के नजदीकी साथी दयाशंकर अग्निहोत्री को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि वह घटना वाली रात भी विकास के साथ था। वह उसका काफी करीबी था और उसकी गिरफ्तारी से कई राज खुलने की संभावना है।

बताया जाता है कि गिरफ्तार दयाशंकर अग्निहोत्री घटना वाली रात भी विकास के साथ ही था। वह भी कुख्यात अपराधी है और उसपर 25 हजार का इनाम पुलिस ने घोषित कर रखा था। पुलिस को लंबे अरसे से उसकी तलाश थी।

बताया जाता है कि 4 जुलाई की देर रात एक मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। उसके गोली लगने की बात भी सामने आ रही है।

उधर विकास के भाई दीपू दुबे के लखनऊ स्थित फ्लैट पर भी पुलिस ने छापेमारी की है। वहां सरकारी नँबर की एक कार और बुलेट मोटरसाइकिल मिली है। सरकारी नँबर की कार को विकास ने नीलामी में खरीदी थी और अबतक उसका रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर नहीं कराया था। पुलिस इस बिंदु पर भी जांच कर रही है कि फरार होने के लिए उसने कहीं ऐसे ही किसी सरकारी नँबर की गाड़ी तो इस्तेमाल नहीं किया, क्योंकि उसने कई गाड़ियां नीलामी में खरीदी हैं, इसकी सूचना सामने आई है।

पुलिस को उसके 5 नजदीकी साथियों की तलाश है, जो इसके विभिन्न कामों को देखते थे। इस बीच विकास के गांव में सन्नाटा पसरा है और ज्यादातर घरों में लोग ताले लगाकर दूसरी जगह चले गए हैं।

उसके नेपाल भागने की संभावना के मद्देनजर यूपी के नेपाल सीमा के जिलों को एलर्ट कर दिया गया है। सीमा पर हर आने-जानेवाले की सख्ती से जांच की जा रही है।

पुलिस विकास के आर्थिक साम्राज्य को भी ध्वस्त करना चाहती है। बताया जाता है कि विकास के पास 100 करोड़ से भी ज्यादा की संपत्ति है, जो उसने अवैध तरीके से अर्जित की है। गांव में ही उसके डेढ़-दो सौ बीघा जमीन होने की बात सामने आई है। वहीं कानपुर शहर में भी उसके कई प्लॉट बताए जाते हैं। उसका मुख्य धंधा जमीनों पर जबरन कब्जा ही था। जानकारी के अनुसार पुलिस अब उसके नामी-बेनामी संपत्तियों और बैंक खातों की खोज में लग गई है। बताया जाता है कि विकास ने अपने नाम पर कोई संपत्ति नहीं की है, बल्कि उसने अपने रिश्तेदारों और परिचितों के नाम पर संपत्ति ली है।

Next Story

विविध

Share it