हाशिये का समाज

Barabanki News : दलित छात्रा पर खौलती सब्जी फेंकने के मामले में एक्शन, डीएम ने बैठाई जांच, रिपोर्ट आने के बाद प्रिंसिपल के खिलाफ होगी कार्रवाई

Janjwar Desk
10 Sep 2022 3:45 AM GMT
Barabanki News : दलित छात्रा पर खौलती सब्जी फेंकने के मामले में डीएम ने बैठाई जांच, रिपोर्ट आने के बाद प्रिंसिपल के खिलाफ होगी कार्रवाई
x

 Barabanki News : दलित छात्रा पर खौलती सब्जी फेंकने के मामले में डीएम ने बैठाई जांच, रिपोर्ट आने के बाद प्रिंसिपल के खिलाफ होगी कार्रवाई

Barabanki News : यूपी के बाराबंकी जिले के एक सरकारी से बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। एक दलित दिव्यांग अभिभावकों ने आरोप लगाया है कि उनकी बच्ची के हाथ पर विद्यालय के प्रधानाचार्य ने खौलती हुई सब्जी डाल दी।

Barabanki News : यूपी ( Uttar Pradesh ) के बाराबंकी ( Barabanki ) जिले के एक सरकारी से बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। एक दलित दिव्यांग छात्रा ( Dalit Divyang girl ) के अभिभावकों ने आरोप लगाया है कि उनकी बच्ची ( Dalit girl ) के हाथ पर विद्यालय के प्रधानाचार्य ( School Principal ) ने खौलती हुई सब्जी डाल दी। शिकायत मिलने के बाद बाराबंकी की डीएम आदर्श सिंह ने जांच के आदेश ( Probe ordered ) दिए है। बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष पांडेय मामले की जांच कर रहे हैं। वहीं एडिशनल एसपी पुर्णेंदु सिंह का कहना है कि वो डीएम के आदेश और बेसिक शिक्षा अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई करेंगे।

सरकारी स्कूल से इस तरह की घटना सामने आने के बाद से बेसिक शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा है। बाराबंकी के बीएसए जांच रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। लोगों को उम्मीद है कि जांच रिपोर्ट सामने आने क बाद प्रिंसिपल अमीन के खिलाफ कार्रवाई होगी।

बाराबंकी के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष देव पांडेय ने बताया कि घटना 29 अगस्त की है। तीन सितंबर को तहशील दिवस के दौरान इस मामले की शिकायत छात्रा की मां की थी। इस मामले की जांच जारी है। हमने स्कूल में पढ़ने वाले 800 बच्चों से बातचीत की है। ये बच्चे घटना के दिन मिड डे मील में भी शामिल थे। उन्होंने कहा है कि हम मामले की विस्तृत रिपोर्ट डीएम को बहुत जल्द सौंप देंगे।

मां ने ने प्रिंसिपल पर लगाया छूआछूत का आरोप

छात्रा ( Dalit girl ) की मां माया देवी ने बताया कि 29 अगस्त को जब बेटी रोती हुई घर पहुंची तो मैंने हाथ देखकर जलने का कारण पूछा तो उसने बताया कि स्कूल में मैंने बच्चों के लिए बनी सब्जी छू ली तो बड़े टीचर अमीन गुस्सा हो गए और भगोने में खौलती हुई सब्जी मेरे हाथ पर उड़ेल दी। परिजनों ने यह भी आरोप लगाया है कि वह दलित हैं और छुआछूत के चलते इस तरह का काम किया गया है।

दलित छात्रा पर खौलती सब्जी फेंकने का ये है पूरा मामला

यह मामला यूपी के बाराबंकी ( Barabanki ) जिले के टिकैतनगर थाना क्षेत्र में आने वाले विकासखंड पूरेडलई के प्राथमिक विद्यालय कस्बा इचौली से जुड़ा है। यहां गांव के ही रहने वाले गुटई पासी की दिव्यांग पुत्री लक्ष्मी रावत कक्षा दो की छात्रा है। छात्रा के परिजनों का आरोप है कि अमीन नाम के विद्यालय के प्रिंसिपल ने उनकी पुत्री लक्ष्मी के हाथ पर खौलती हुई सब्जी डाल दी है। खौलती सब्जी की वजह से उसका हाथ बुरी तरह से झुलस गया है। छात्रा के माता-पिता के मुताबिक जब इस बात की जानकारी छात्रा ने घर आकर उन लोगों को दी तो वह लोग स्कूल गये और प्रधानाचार्य से बात करने की कोशिश की लेकिन प्रधानाध्यापक ने उन लोगों को जातिसूचक गाली देते हुए उन लोगों को स्कूल से भगा दिया। परिजनों ने यह भी आरोप लगाया है कि वह दलित हैं और छुआछूत के चलते इस तरह का काम किया गया है। परिजनों के मुताबिक उन लोगों ने इस घटना की शिकायत कई जगह पर की लेकिन अभी तक कहीं से कोई भी कार्रवाई नहीं हुई है।

प्रिंसिपल ने छूआछूत के आरोप तो दूर घटना से ही किया इनकार

विद्यालय के प्रधानाध्यापक अमीन ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार एवं गलत बताया है। प्रिंसिपल का कहना है कि छात्रा दिव्यांग है और उसे व विद्यालक के बाकी दिव्यांग छात्रों को अलग बिठाकर खाना खिलाया जाता है। ऐसी कोई घटना विद्यालय में नहीं घटी है। साथ ही उन्होंने विद्यालय में छुआछूत के भी सभी आरोपों को गलत बताया है। विद्यालय में खाना बनाने वाला रसोंइयों ने भी कहा कि इस तरह की कोई भी घटना स्कूल में नहीं हुई है। विद्यालय में छुआछूत जैसा कुछ नहीं होता है। हमारे रसोइया भी दलित हैं उनके हाथ का खाना मैं भी खाता हूं। विद्यालय में खाना बनाने वाला रसोंइयों ने भी ऐसी किसी घटना स्कूल में होने से इंकार किया है।

Next Story

विविध