Top
उत्तर प्रदेश

पुलिसिया मिलीभगत से कानपुर में रात होते ही सुलगने लगती हैं प्रतिबंधित ग्लू फैक्ट्रियां

Janjwar Desk
29 Dec 2020 3:13 PM GMT
पुलिसिया मिलीभगत से कानपुर में रात होते ही सुलगने लगती हैं प्रतिबंधित ग्लू फैक्ट्रियां
x
एनजीटी के आदेश का पालन हुआ और फैक्ट्रियों को बंद करने का निर्देश जारी किया गया था, कुछ ही समय बीता कि सेटिंग और गेटिंग के चलते गुपचुप तरीका अपनाकर रात होते ही अवैध तरीके से इन ग्लू फैक्ट्रियों को सुलगा दिया जाता है....

जनज्वार ब्यूरो/कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में रात होते ही चमड़े की प्रतिबंधित ग्लू फैक्ट्रियां जलने लगती हैं। दरअसल चमड़े को जलाने वाली इन ग्लू फैक्ट्रियों को प्रकृति और इंसान का दुश्मन माना जाता है, जिसके चलते प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ गंगा सफाई बोर्ड के आगाह करने के बाद एनजीटी ने कानपुर की ग्लू फैक्ट्रियों को बंद करने का आदेश दिया था। बावजूद इसके रात होते ही ये फैक्ट्रियां सुलग उठती हैं।

एनजीटी के आदेश का पालन हुआ और फैक्ट्रियों को बंद करने का निर्देश जारी किया गया था। कुछ ही समय बीता कि सेटिंग और गेटिंग के चलते गुपचुप तरीका अपनाकर रात होते ही अवैध तरीके से इन ग्लू फैक्ट्रियों को सुलगा दिया जाता है। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

'जनज्वार' को मिला यह वीडियो महाराजपुर थाना क्षेत्र का है। यहां रहने वाले हाजी नसीम और कुछ दबंग दलाल पुलिस से साठ गांठ करते हुए रात के अंधेरे में ग्लू फैक्ट्री को जलाकर लगातार प्रदूषण फैलाने का काम कर रहे हैं। वहीं इस वायरल वीडियो को देखने के बाद अनदेखा करने वाली महाराजपुर थाने के थानेदार अधिकारियों को गुमराह करने का काम करने में जुट चुके हैं।

लेकिन महाराजपुर की पुलिस शायद यह भूल गई कि सच कभी छिपता नही। अब देखना यह होगा की क्या ग्लू फैक्ट्री बन्द होती है या फिर इसे चलाने वाले भी। साथ ही देखने वाली बात यह भी रहेगी कि जिले में बैठे आलाधिकारी थानेदार को भी इस कार्रवाई में शामिल करते हैं या नही।

Next Story

विविध

Share it