उत्तर प्रदेश

Farm Laws Repealed : AIMIM प्रमुख ओवैसी ने पीएम मोदी को कहा सबसे बड़ा 'एक्टिंगबाज', बॉलीवुड में होते तो सभी अवॉर्ड जीत जाते

Janjwar Desk
21 Nov 2021 2:18 PM GMT
Farm Laws Repealed : AIMIM प्रमुख ओवैसी ने पीएम मोदी को कहा सबसे बड़ा एक्टिंगबाज, बॉलीवुड में होते तो सभी अवॉर्ड जीत जाते
x
Farm Laws Repealed : जब मोदी जी ने देखा मेरी इमेज में कमी आ रही है, मुझे किसानों का दुश्मन करार दिया जाएगा तो उन्होंने 2024 के चुनाव के लिए कानून वापस ले लिया।

Farm Laws Repealed : आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी आज उत्तर प्रदेश दौरे पर थे। आज वो भाजपा के खिलाफ आक्रामक तेवर में दिखे। पीएम मोदी ( PM Modi ), कलराज मिश्रा से लेकर साक्षी महराज तक को अपने आक्रोश का शिकार बनाया। बाराबंकी ( Barabanki ) में एक सियासी रैली को संबोधित करते हुए AIMIM के चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi ) ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा है कि मोदी देश के सबसे बड़े नौटंकीबाज प्रधानमंत्री हैं। गनीमत है कि वे पॉलिटिक्स में आ गए वरना बेचारे फिल्म इंडस्ट्री ( Bollywood ) वालों का क्या होता! सारे अवार्ड तो मोदी जी जीत जाते।

असदुद्दीन ओवैसी ने लोगों से कहा कि आपको पता है न ... किसानों के तीनों कानून वापस लेने के बाद प्रधानमंत्री ने क्या कहा - उन्होंने कहा कि मेरी तपस्या में कमी रह गई, उससे साफ तौर से जाहिर हो रहा है कि आखिर हमारे देश के प्रधानमंत्री कितने बड़े एक्टिंगबाज हैं। हाय मोदी जी! क्या एक्टिंग करते हो, आपने कहा - हमारी तपस्या में कमी थी। अरे 750 किसान मर गए फिर भी किसानों ने अपनी जमीन नहीं छोड़ी. डटे रहे, तपस्या उसे कहते हैं और आप कहते हैं कि मेरी तपस्या में कोई कमी रह गई।



आपने किसानों पर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए

मोदी जी खुद को हीरो बनाने में आप कभी कोई कसर नहीं छोड़ते हो। हर चीज अपने पर ले लेते हैं। मेरी तपस्या में कोई कमी रह गई। अरे कौन सी तपस्या करी आपने? 300 एमपी के ऊपर आपने गलत काले कानून बना दिए। आपने उन किसानों पर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। कहीं खालिस्तानी तो कहीं ISI का एजेंट है, पैसा आता है, अरे सब बकवास। अरे इसके बाद फिर देख लिया कि मेरी इमेज में कमी आ रही है, मेरे खिलाफ है, तो मोदी ने महसूस कर लिया कि मुझे किसानों का दुश्मन करार दिया जाएगा और आखिर मोदी ने 2024 के चुनाव के लिए कानून वापस ले लिया।

CAA और NRC भी वापस लीजिए

ओवैसी का कहना है कि हकीकत यह है कि कृषि कानूनों को लेकर हो रहे आंदोलन से मोदी जी का इमेज खराब हो रहा था। साथ ही साथ उन्हें यह भी अनुमान था कि चुनाव में इसका सियासी नुकसान उठाना पड़ेगा। इसीलिए मजबूरी में इस कानून को वापस लेने का ऐलान किया है। ओवैसी ने कहा कि CAA और NRC भी असंवैधानिक है। उसे भी केंद्र सरकार को वापस लेना चाहिए।

कास्ट वोट के लिए अजय मिश्रा को मंत्रिपरिषद से नहीं हटाते

बाराबंकी में लखीमपुर की घटना का जिक्र करते ओवैसी ने कहा कि दरअसल केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी को मंत्रीमंडल से पीएम इसलिए नहीं हटा रहे हैं क्योंकि अपर कास्ट का वोट चाहिए। वोट के आग किसानों की कोई वैल्यू वो नहीं मानते।

कलराज और साक्षी को बताया कंफ्यूज करने वाला नेता

राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और बीजेपी सांसद साक्षी महाराज की ओर से कृषि कानून वापस लाने वाले बयान पर पलटवार करते हुए ओवैसी ने कहा कि बीजेपी ऐसी पार्टी है जिसका मंत्री या एमपी आउट ऑफ द लाइन नहीं बोल सकता। जो इस तरह के बयान दे रहे हैं उनको या तो प्रधानमंत्री की इजाजत है या फिर किसानों को कंफ्यूज करने का मंसूबा बना रहे हैं।

अगर प्रधानमंत्री अपने मंत्री और सांसद की जबान को रोक नहीं पा रहे हैं तो बेहतर है कि उनकी सरकार फौरन अध्यादेश लाए और कानून को वापस ले। बीजेपी अपने फायदे के लिए तो अध्यादेश लाती ही है। संसद का मजाक उड़ाती है, तो चलिए इस बार सही काम कर दीजिए।

Next Story

विविध