Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस गैंगरेप: पीड़िता का भाई बोला- हमारा फ़ोन टेप करवा रहे हैं जिलाधिकारी

Janjwar Desk
2 Oct 2020 4:43 AM GMT
हाथरस गैंगरेप: पीड़िता का भाई बोला- हमारा फ़ोन टेप करवा रहे हैं जिलाधिकारी
x
परिजनों सहित भाई का कहना है कि हम जांच से संतुष्ट नहीं हैं। हम केस की सीबीआई जांच चाहते हैं, मेरी बहन की मौत हो गई, प्रशासन ने बिना उनका चेहरा दिखाए अंतिम संस्कार कर दिया, उन्हें कैसे लगता है कि हम संतुष्ट होंगे.....

हाथरस। यूपी के हाथरस में गैंगरेप पीड़िता के परिजनों की तरफ से जिलाधिकारी प्रवीण कुमार पर आरोपों की बौछार जारी है। अब पीड़िता के भाई ने कहा कि हमें लगता है कि हमारा फोन टैप किया जा रहा है, क्योंकि जब भी हम किसी रिपोर्टर से बात करते हैं, डीएम को इसकी सूचना तुरन्त मिल जाती है। पीड़िता के भाई ने मीडिया से बात करते हुए ये आरोप लगाया है।

परिजनों सहित भाई का कहना है कि हम जांच से संतुष्ट नहीं हैं। हम केस की सीबीआई जांच चाहते हैं। मेरी बहन की मौत हो गई। प्रशासन ने बिना उनका चेहरा दिखाए अंतिम संस्कार कर दिया। उन्हें कैसे लगता है कि हम संतुष्ट होंगे। पीड़िता के भाई ने कहा कि मीडिया को अंदर आने नहीं दिया जा रहा है। गांव में हर तरफ पुलिस है। हमारे घर के अंदर पुलिस है। चारों तरफ पुलिस ने हमे दबाने के लिए पहरा बिठा रखा है।

गौरतलब है कि कल हाथरस के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें डीएम पीड़ित परिवार को धमकी देते दिख रहे हैं। हाथरस के डीएम कह रहे हैं कि मीडिया वाले आज हैं कल चले जाएंगे, लेकिन प्रशासन को यहीं रहना है। हाथरस के पीड़ित परिवार का कहना है कि उनको धमकाया जा रहा है। केस को रफा-दफा करने के लिए दवाब डाला जा रहा है।

कल के वायरल वीडियो में हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार पीड़िता के परिवार से कह रहे हैं कि आप अपनी विश्वसनीयता खत्म मत कीजिए, मीडिया वाले आधे चले गए हैं। कल सुबह आधे और निकल जाएंगे। दो-चार बचेंगे, कल शाम तक कोई नहीं दिखेगा। हम आपके साथ खड़े हैं। अब आपकी इच्छा है कि आपको बयान बदलना है या नहीं।

तो वहीं पीड़िता की भाभी ने कहा कि हमसे बोला गया कि तुम्हारी लड़की अगर कोरोना से मर जाती तो मुआवजा मिल जाता क्या। हमें धमकियां मिल रही हैं। पापा को धमकाया जा रहा है। उस वक्त हालात ऐसे थे कि जो मन में आ रहा था हम लोग बोल रहे थे। अब ये लोग हमें यहां रहने नहीं देंगे। मीडिया के हटते ही ये लोग हम लोगों को यहां से भगा देना चाहते हैं।

Next Story

विविध

Share it