Top
उत्तर प्रदेश

यूपी : आशनाई में हुई थी हिस्ट्रीशीटर पत्रकार की हत्या, प्रेमिका फरार और हिरासत में आधा दर्जन लोग

Janjwar Desk
4 Jan 2021 8:10 AM GMT
यूपी : आशनाई में हुई थी हिस्ट्रीशीटर पत्रकार की हत्या, प्रेमिका फरार और हिरासत में आधा दर्जन लोग
x
इस हत्याकांड में महिला सहित 5 से 6 लोग शामिल हैं। कल 3 जनवरी की देर रात कानपुर देहात से भी एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है, वहीं आशु की कथित प्रेमिका गायब हो गई है, उसका मोबाइल भी बंद हो चुका है....

जनज्वार ब्यूरो/कानपुर। 31 दिसंबर की रात लापता हुआ 32 वर्षीय हिस्ट्रीशीटर पत्रकार की आशनाई के चलते हत्या की गई थी। प्रेमिका के फोन पर वह कल्याणपुर गया था। जिस घर मे प्रेमिका ने उसे बुलाया था, वहां पहले से ही लड़की का दूसरा प्रेमी मौजूद था। पुलिस ने एक होटल संचालक सहित 6 लोगों को हिरासत में लिया है। मुख्य आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

रेलबाजार के खपरा मोहाल निवासी आशु यादव 31 दिसंबर की रात किसी का बर्थडे मनाने की कहकर घर से निकला था और लापता हो गया। शनिवार 2 जनवरी सुबह आशु का शव सीटीआई चौराहे के निकट उसकी कार में बरामद हुआ था। जिसके बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की थी। जांच में मृतक आशु का कल्याणपुर निवासी एक युवती से संबंध होने की बात सामने आई थी।

दूसरी तरफ एक होटल संचालक अमित गुप्ता का भी युवती से प्रेम प्रसंग था। अमित को आशु के बारे में जानकारी हो चुकी थी। जिसके बाद उसने आशु की हत्या को प्लान किया था। 31 दिसंबर की रात उसने लड़की से आशु को फोन कर उसके घर बुलवाया। इसी घर मे अमित अपने कई साथियों सहित पहले से ही मौजूद था। शराब के नशे में धुत हिस्ट्रीशीटर पत्रकार को पहले मौजूद लोगों ने जमकर पीटा इसके बाद गला कसकर हत्या कर दी।

हत्या के बाद आशु की ही कार से शव को सीटीआई की नहर के किनारे ठिकाने लगा दिया। इस हत्याकांड में महिला सहित 5 से 6 लोग शामिल हैं। कल 3 जनवरी की देर रात कानपुर देहात से भी एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है। वहीं आशु की कथित प्रेमिका गायब हो गई है। उसका मोबाइल भी बंद हो चुका है। युवती का मोबाइल सीतापुर के किसी सख्श के नाम से चल रहा था। कानपुर पुलिस ने सीतापुर पुलिस से भी संपर्क किया है।

खुलासे में बर्रा व नौबस्ता इंस्पेक्टर की अहम भूमिका

पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज देखे तो पता चला कि उस रात सबा दो बजे आशु अपनी कार से फजलगंज चौराहे पर था। 5 मिनट बाद वह विजय नगर पहुंचा। यहां से वह कल्याणपुर पहुंचा। साढ़े 3 बजे के लगभग आशु का मोबाइल बन्द हो गया। उस समय उसकी लोकेशन मसवानपुर में थी। साथ ही उस युवती की लोकेशन भी वहीं मिली जिससे वह बात कर रहा था। पुलिस का शक गहराया तो लड़की के नम्बर की सीडीआर खंगाली गई। अमित सहित अन्य लोगों को दबोचा गया, जिसमे उन्होंने अपना जुर्म कबूला। खुलासे में बर्रा इंस्पेक्टर हरमीत सिंह व नौबस्ता इंस्पेक्टर सतीश कुमार सिंह की भूमिका अहम रही।

एसपी साउथ दीपक भूकर ने बताया कि 'हत्याकांड की गुत्थी खुलासे के करीब है। हत्या आशनाई में किये जाने के साक्ष्य मिले हैं। कुछ लोगों को उठाकर पूछताछ की जा रही है। युवती की भूमिका सामने आ रही है। जल्दी ही खुलासा कर आरोपियों को जेल भेजा जाएगा।

Next Story

विविध

Share it