Top
उत्तर प्रदेश

यूपी : कोतवाली के लॉकअप में एसओजी ने रखा था खुद की गाड़ी चुराने वाला आरोपी, चकमा देकर बदमाश हुआ फरार

Janjwar Desk
6 April 2021 12:16 PM GMT
यूपी : कोतवाली के लॉकअप में एसओजी ने रखा था खुद की गाड़ी चुराने वाला आरोपी, चकमा देकर बदमाश हुआ फरार
x
सदर कोतवाली के एक गांव निवासी बदमाश को हिरासत में लेकर पुलिस ने रविवार को बिहार सहित कई जगहों पर उसकी निशानदेही पर दबिश दी। इसके बाद शाम को एसओजी ने बदमाश को सलेमपुर कोतवाली के लॉकअप में डाल दिया....

जनज्वार, देवरिया। सदर कोतवाली परिसर से एसओजी की बोलेरो चोरी की घटना को अंजाम देने वाला मास्टरमाइंड पुलिस को चकमा देकर सलेमपुर कोतवाली से फरार हो गया। एसओजी ने उसे रविवार को हिरासत में लेकर सलेमपुर कोतवाली में रखा था। रात के समय पुलिस के पहरे पर ड्यूटी कर रहे एक सिपाही को लघुशंका करने के बहाने झांसे में लिया और भाग निकला। शातिर के भाग जाने की खबर पर पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई। काफी तलाश के बाद भी पुलिस के हाथ वह नहीं लग सका है।

सदर कोतवाली के एक गांव निवासी बदमाश को हिरासत में लेकर पुलिस ने रविवार को बिहार सहित कई जगहों पर उसकी निशानदेही पर दबिश दी। इसके बाद शाम को एसओजी ने बदमाश को सलेमपुर कोतवाली के लॉकअप में डाल दिया। सुबह एसओजी उससे एक बार फिर से पूछताछ करने के लिए पहुंची तो बदमाश कोतवाली से पुलिसकर्मियों को झांसा देकर फरार हो चुका था।

इसको लेकर काफी देर तक सलेमपुर कोतवाली के जिम्मेदारों और एसओजी के बीच बहस भी हुई। दोनों एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। पुलिस हिरासत से फरार बदमाश के बारे में जानकारी जब आला अफसरों को हुई तो जिम्मेदार पुलिस कर्मियों को फटकार लगाने लगे। जबकि दूसरी तरफ सोमवार की सुबह से ही एसओजी फरार बदमाश की तलाश में सलेमपुर और अन्य कई जगहों पर पता लगाने में जुटी रही लेकिन उसके बारे में जानकारी नहीं मिल सकी।

इसके चलते एसओजी के आगे की कार्रवाई की मंशा पर पानी फिर गया। पुलिस के लिए राहत रही कि बदमाश की जीडी में आमद नहीं हुई थी। अगर पुलिस रिकॉर्ड में गिरफ्तारी दर्ज कर ली गई होती तो दिक्कतें बढ़ जातीं। इस संबंध में एएसपी राजेश कुमार ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है। जांच की जाएगी अगर पुलिस हिरासत से भागने की पुष्टि हुई तो दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it