Top
उत्तर प्रदेश

मुस्लिम युवक और युवती ने मर्जी से की शादी, पुलिस ने रेप का आरोप लगाकर भेज दिया जेल

Janjwar Desk
11 July 2020 10:45 AM GMT
मुस्लिम युवक और युवती ने मर्जी से की शादी, पुलिस ने रेप का आरोप लगाकर भेज दिया जेल
x
एक मुस्लिम युवक जिसने रजामंदी से शादी की थी उसे छोड़ने फंसाने के नाम रानीगंज का एक दरोगा हरीश तिवारी द्वारा एक लाख रुपये की धनराशि मांगने का ऑडियो वायरल हो रहा है....

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में पुलिसिया उत्पीड़न है कि थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला यहां के प्रतापगढ़ स्थित थाना रानीगंज का आया है। थाना रानीगंज का एक दरोगा हरीश तिवारी एक मुस्लिम युवक जिसने रजामंदी से शादी की थी उसे छोड़ने फंसाने के नाम पर एक लाख रुपये की धनराशि मांगने पर वायरल हो रहा है।

ऑडियो में दरोगा हरीश तिवारी एडवोकेट मुस्ताक से साफ-साफ लफ्जों में कहते सुना जा सकता है। सूबे के एक दरोगा अपने थाने में आये फरियादी से कह रहा है कि 'मैं थाने का दरोगा हूँ, मेरे हाथ मे सब कुछ होता है। हम जैसा चाहेंगे वैसा बयान करवा सकते हैं। आप बस पैसों कि व्यवस्था करो और हां, पैसों की व्यवस्था बढ़िया करके आना। जब आओगे तो एक-दो दिन में लड़के को छोड़ देंगे।

टेप में आगे वकील मुस्ताक कह रहा है 'साहब गरीब आदमी हैं, लॉकडाउन लगा रहा इतने पैसे नहीं दे सकते कोई कहाँ से व्यवस्था करेगा। तब दरोगा कहता है 'इसीलिए मैंने पहले 25 हजार की बात की थी। पर अब 1 लाख लूंगा। वो पीएसी का आदमी है, आपसे डबल है। हर मायने में मजबूत है। हमारे ऊपर से फ़ोन आ रहा कि दरोगा साहब आप-अपने हिसाब से देख लो। अब आप समझदार हैं, एक लाख की व्यवस्था करो। नहीं तो माँ-बाप, लड़का सब जेल जाएंगे।

मामला 29 जून 2020 का है। शाहरुख खान उर्फ अबदुल्ला व तसलीम बानो दोनो ने अपनी मर्जी से घर छोड़कर चले जाते हैं और 1 जुलाई को मुुस्लिम रीति रिवाज से शादी कर लेते हैं और एक आवेदन शपथ पत्र के साथ एसपी साहब को कोरोना महामारी के कारण रजिस्टर्ड पोस्ट से भेज देते हैं। इसके बाद इनके राजीनामे की फोटोकापी लेकर एडवोकेट मुस्ताक अहमद थाने जाते है जहॉ वो इन पेपर को दरोगा हरीश तिवारी व एसआई रानी प्रतापगढ़ को देेकर सूचित कराते हैं कि शाहरूख उर्फ अब्दुला व तस्लीम बानो दोनो ने आपसी सहमति से शादी कर ली है।

मुस्ताक उनके पेपर देते हैं जिसको हरीश तिवारी लेने से इनकार कर देते हैं और 20 हजार रुपए की डिमांड करते हैं तथा 20 हजार न पाने पर 3 जुलाई को दोनो को गिरफ्तार कर लेते हैं। गिरफ्तारी की सूचना पर मुश्ताक अहमद थाने पहुंचते हैं। इसके बाद हरीश तिवारी विपक्षी से पैसे पाकर लड़के को एनडीपीएस एक्ट (गांजे में) के अनुसार जेल भेजने की बात करते है।

जब एडवोकेट मुश्ताक इस बात की सूचना जनपद के आईजी को करते है तो आईजी एसओ को फोन कर दिशानिर्देश देते है। बावजूद इसके दरोगा हरीश तिवारी मुश्ताक को फोन कर थाने आने को कहते है। जब मुश्ताक थाने पहुंचते है तो उनसे 1 लाख रिश्वत देने की बात करते हैं, तब एडवोकेट मुश्ताक के बार बार कहने पर कि गरीब आदमी है 1 लाख रूपया कहां से लायेगा तो दरोगा हरीश ये कहते हैं कि 'चाहे खेत बेचे चाहे जो करे 50 हजार अभी जमा कराओ, 50 सुबह वरना हम सब लिख पढ़ कर देंगे।' पैसा न मिलने पर हरीश तिवारी शाहरूख उर्फ अब्दुल्ला को अपहरण और रेप के आरोप में जेल भेज देते है जहां अब्दुल्ला बिना गुनाह की सजा काट रहा है।

इस बाबत जब जनज्वार ने इस मामले में दरोगा का पक्ष जानने के लिए थाना रानीगंज प्रतापगढ़ फ़ोन किया तो किसी टॉपकॉप मोहम्मद इदरीश ने फ़ोन उठाया। उसने कहा वह गाड़ी चला रहा है, कहीं पहुंच रहा है। दो लाइन में ही मामले को पूछा गया पर वह कुछ भी बताने न बताने की असमंजस में दिख रहा था। हमने एसएसपी अभिषेक सिंह को फोन लगाया तो उनके पीआरओ ने फोन उठाकर मामले में अनभिज्ञता जताई। डीएम रूपेश कुमार को फ़ोन किया तो उन्होंने कहा कि मामला उनके संज्ञान में है और कार्रवाई चल रही है।

Next Story

विविध

Share it