उत्तर प्रदेश

जनज्वार इम्पैक्ट: सांसद Anurag Sharma की बैठक में खुली आदर्श गांव की पोल, जनज्वार ने ग्राउंड रिपोर्ट कर दिखाई थी ग्रामीणों की परेशानी

Janjwar Desk
30 Dec 2021 6:30 AM GMT
जनज्वार इम्पैक्ट: सांसद Anurag Sharma की बैठक में खुली आदर्श गांव की पोल, जनज्वार ने ग्राउंड रिपोर्ट कर दिखाई थी ग्रामीणों की परेशानी
x
Jhansi Local News: जनप्रतिनिधियों की उदासीनता और सरकारी अफसरों की लालफीताशाही ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की मंशा को नाकाम साबित कर दिया है। योजना के तहत गोद लिए गए अधिकांश गांव को मूलभूत सुविधाएं तक नसीब नहीं हो सकी हैं।

झांसी से लक्ष्मी नारायण शर्मा की रिपोर्ट

Jhansi Local News: जनप्रतिनिधियों की उदासीनता और सरकारी अफसरों की लालफीताशाही ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की मंशा को नाकाम साबित कर दिया है। योजना के तहत गोद लिए गए अधिकांश गांव को मूलभूत सुविधाएं तक नसीब नहीं हो सकी हैं। योजना के तहत चयनित झांसी जिले के ग्राम सरवां में हुए विकास कार्यों की जानकारी लेने के लिए झांसी-ललितपुर के सांसद अनुराग शर्मा ने बैठक की तो गांव की असली तस्वीर सामने आ गई।

गांव की बदहाली पर पर्दा डालने के लिए अफसर बहाने बनाते दिखाई दिए तो सांसद ने अफसरों पर गुस्सा दिखाया। झांसी के सांसद आदर्श गांव की बदहाली की खबर कुछ समय पूर्व जनज्वार ने प्रकाशित की थी।


चौथे चरण में चयनित हुआ सरवां गांव

सांसद झांसी-ललितपुर अनुराग शर्मा की अध्यक्षता में सांसद आदर्श ग्राम योजना के चौथे चरण में चयनित बबीना विकास खण्ड के ग्राम सरवां में कराये गये विकास कार्यों की प्रगति जानने के लिए मंगलवार को समीक्षा बैठक की गयी। इस बैठक में जिला विकास अधिकारी ने सांसद को बताया कि सांसद आदर्श ग्राम सरवां में कराये जाने वाले विकास कार्यों की संबंधित 15 विभागों द्वारा विभागीय योजनाओं की भारत सरकार द्वारा निर्धारित पोर्टल पर ग्राम विकास योजना शत प्रतिशत कराये जाने के निर्देश दिये गये थे।

Ground Report : ऊबड़-खाबड़ सड़कों पर बहती नालियों से परेशान हैं सांसद अनुराग शर्मा के गोद लिए सरवां गांव के लोग

इनमें से अब तक मात्र 02 विभागों द्वारा ही वीडीपी का कार्य ऑनलाइन पूर्ण कराया गया है। यह सुनकर सांसद ने गहरी नाराजगी जाहिर की और मुख्य विकास अधिकारी एवं जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि 13 विभागीय अधिकारियों को निर्धारित समय में वीडीपी का कार्य पूर्ण कराये जाने के लिए निर्देश दिए जाएं।


सभी विभागों के काम आधे-अधूरे

ग्राम सरवां में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी एवं परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के कामों में भी लक्ष्य के हिसाब से प्रगति न होने पर सांसद ने नाराजगी जाहिर की। साथ ही यह निर्देश दिया कि माह जनवरी तक लक्ष्य को शत प्रतिशत पूरा कर लिया जाए। परियोजना अधिकारी नेडा ने सांसद से कहा कि उनके पास बजट उपलब्ध नही है। इस पर सांसद ने सुझाव दिया कि सोलर स्ट्रीट लाइट का काम ग्राम पंचायत से करा लिया जाए। गांव में साधन सहकारी समिति का निमार्ण कार्य रूका हुआ है और ओपन जिम व खेल मैदान का कार्य अधूरा है। सांसद ने इन अधूरे कार्यों को जल्द पूरा कराये जाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही गांव की समस्याओं का निराकरण किये जाने के लिए संबंधित ग्राम पंचायत अधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी को भी निर्देश दिये।


जनज्वार ने की थी ग्राउंड रिपोर्ट

सरवां गांव की बदहाली की ग्राउंड रिपोर्ट कुछ समय पहले जनज्वार ने प्रकाशित की थी। उस दौरान जब झाँसी जिले के बबीना ब्लॉक के सरवां गांव जनज्वार की टीम पहुंची तो पूरे गांव की टूटी सड़कें और सड़कों पर बहती नालियां इस गांव की दुर्दशा की कहानी बयां करती दिखाई दी। खुद ग्राम प्रधान ने भी माना कि गांव के विकास को लेकर जो उम्मीदें थीं, वे पूरी नहीं हुई। पेयजल संकट, किसानों की समस्या, स्वास्थ्य केंद्र की समस्या जैसी तमाम समस्याएं लोगों ने बताईं। अधिकांश लोगों ने यही राय जाहिर की थी कि आदर्श गांव के लिए चयनित होने के बावजूद तस्वीर में कोई बदलाव नहीं आया। सांसद की अध्यक्षता में अभी हुई बैठक में वे सारी बातें और समस्याएं सामने आईं जिनका सामना गांव के लोग कर रहे हैं और जनज्वार ने जिसे प्रकाशित किया था। अब देखने वाली बात यह होगी कि सांसद की नाराजगी और अफसरों को मिले निर्देश से बदहाल पड़े गांव की तस्वीर में बदलाव आने में कितना वक्त लगता है।

Next Story

विविध

Share it