Top
उत्तर प्रदेश

UP : मजदूरों से भरा ट्राला कानपुर में हुआ भीषण सड़क हादसे का शिकार, 6 मजदूरों की मौके पर मौत, कई की हालत गंभीर

Janjwar Desk
2 March 2021 10:07 AM GMT
UP : मजदूरों से भरा ट्राला कानपुर में हुआ भीषण सड़क हादसे का शिकार, 6 मजदूरों की मौके पर मौत, कई की हालत गंभीर
x
हाईवे पर एक तेज रफ्तार ट्राला अनियंत्रित होकर पलट गया। ट्राले में सवार 22 लोग उसके नीचे दब गए, इस हादसे में 6 लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, 16 मजदूरों को काफी मशक्कत के बाद निकाला जा सका....

जनज्वार, कानपुर। आरटीओ के दलालों और भ्रष्ट अधिकारियों की दलाली से पास बगैर फिटनेस डग्गामार वाहन सड़क पर फर्राटा भर रहे हैं। यही डग्गामार वाहन मौत की सवारी बनकर सड़कों पर दौड़ते दिखाई पड़ते हैं और दुर्घटनाओं को दावत देते हैं। इसी तरह का एक मामला फिर से देखने को मिला। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में इस वक्त की बड़ी खबर भीषण सड़क हादसे के रूप में निकलकर सामने आ रही है। इस सड़क हादसे में 6 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि 22 लोग घायल हुए हैं। इलाकाई लोगों में घटना के बाद सनसनी का माहौल है।

घटना की सूचना पाकर पुलिस के तमाम आलाधिकारी मौके पर जमा हो गए। प्रशासनिक लोगो ने मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भिजवा दिया है। साथ ही गंभीर रूप से घायल लोगो को जिला अस्पताल रेफर कराया जा रहा है। पुलिस ने इस पूरे मामले की छानबीन शुरू कर दी है। वहीं सूत्रों की मानें तो डग्गामार ट्राला मौत की सवारी बनकर सड़क पर तांडव कर रहा था, जिस पर कुल 22 लोग सवार थे। एकाएक अनियंत्रित होने के बाद ट्राला पलट गया जिसने एक बड़े सड़क हादसे का रूप ले लिया।

जानकारी के मुताबिक ये सड़क हादसा आज मंगलवार 2 मार्च की सुबह कानपुर देहात की भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र में हुआ है। बताया जा रहा है कि हाईवे पर एक तेज रफ्तार ट्राला अनियंत्रित होकर पलट गया। ट्राले में सवार 22 लोग उसके नीचे दब गए। इस हादसे में 6 लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। 16 मजदूरों को काफी मशक्कत के बाद निकाला जा सका। इनमें से आठ मजदूरों को गंभीर चोटें आई हैं, जिनमें से एक की हालत नाजुक बनी हुई है। अन्य 8 को मामूली चोटें आई हैं, जिन्हें प्राथमिक उपचार देने के बाद उनके परिजनों के साथ जा चुके हैं।

दुर्घटनाग्रस्त हुए ट्राले में सवार प्रत्यक्षदर्शी महिला मजदूर श्यामा देवी के मुताबिक सभी मजदूर हमीरपुर जिले के रहने वाले हैं, जो इटावा की ओर जा रहे थे। इन सभी को इटावा में कोयला छनाई का काम मिला था, जिसके लिए यह सभी हमीरपुर से निकले थे। महिला के अनुसार, ट्राला चालक तेज आवाज में गाने बजा रहा था और गाड़ी चला भी गलत ढंग से रहा था।

हादसे में जान गवाने वालों में मासूम बच्चे भी शामिल हैं। हादसा होते ही मौके पर चीख-पुकार मच गई। आनन-फानन में हाईवे के राहगीरों ने वाहनों से लोगों को निकालना शुरू किया और पूरे मामले की सूचना भोगनीपुर कोतवाली पुलिस को दी। सूचना मिलते ही भोगनीपुर पुलिस थाना फोर्स के साथ मौके पर पहुंची और आला अधिकारियों को भी घटना की जानकारी दी।

कानपुर सड़क हादसा में घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए पुखरायां के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया है, जहां से उन्हें कानपुर देहात के माती जिला अस्पताल में रेफर किया गया। पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुटी हुई है, अब देखने वाली बात यह होगी कि क्या कुछ तथ्य निकल कर सामने आताा है।

Next Story

विविध

Share it