राजनीति

Kanpur News : अपनी विधानसभा में एक साथ 26 मौतें होने के बावजूद Greenpark में क्रिकेट खेलते रहे BJP-MLA सांगा, लोग बोले शर्मनाक

Janjwar Desk
3 Oct 2022 5:52 PM GMT
Kanpur News : अपनी विधानसभा में एक साथ 26 मौतें होने के बावजूद Greenpark में क्रिकेट खेलते रहे BJP-MLA सांगा, लोग बोले शर्मनाक
x

Kanpur News : अपनी विधानसभा में एक साथ 26 मौतें होने के बावजूद Greenpark में क्रिकेट खेलते रहे BJP-MLA सांगा, लोग बोले शर्मनाक

Kanpur News : घाटमपुर में जिस साढ़ इलाके में शनिवार क़ो accident के बाद 26 मौतें हो गईं थीं वो एरिया विधायक सांगा की विधानसभा क्षेत्र में आता है। उनकी विधानसभा में आज ज़ब मातम, सिसकियां और रोने की आवाजों के अलावा कुछ सुनाई नहीं दे रहा तब ऐसे में विधायक जी को क्रिकेट सूझ रहा है।

मनीष दुबे की रिपोर्ट

Kanpur News : 19 मई 2022 क़ो ज्ञानवापी मस्जिद पर दिए भड़काऊ बयान के बाद चर्चा पाए भारतीय जनता पार्टी के कानपुर नगर बिठुर विधानसभा सीट से BJP विधायक अभिजीत सिंह सांगा एक बार फिर चर्चा में हैं। इस बार उनकी चर्चा क्रिकेट मैच खेलने क़ो लेकर हो रही है। क्रिकेट खेल रहे सांगा से लोग कह रहे हैं 'तुम्हें शर्म आनी चाहिए।' लोग विधायक सांगा से ऐसी तीखी बात क्यों कह रहे यह हम आपको आगे बताएंगे, उससे पहले बता दें की अभिजीत सांगा क़ो धारावाहिक महाभारत बहुत पसंद है। वह बात बात में खून खराबे और कुरुक्षेत्र सरीखी बातें अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया करते हैं।

लोग इसलिए कोस रहे विधायक सांगा क़ो

बता दें की घाटमपुर में जिस साढ़ इलाके में शनिवार क़ो accident के बाद 26 मौतें हो गईं थीं वो एरिया विधायक सांगा की विधानसभा क्षेत्र में आता है। उनकी विधानसभा में आज ज़ब मातम, सिसकियां और रोने की आवाजों के अलावा कुछ सुनाई नहीं दे रहा तब ऐसे में विधायक जी को क्रिकेट सूझ रहा है। क्या इसीलिए जनता ने उन्हें वोट किया था, की ज़ब उनपर मुसीबत पड़े तब आप क्रिकेट के मैदान में झकझकी पैदा कर रहे हैं।

कितना सुरक्षित है LED टीवी : गाजियाबाद में एलईडी टीवी में ब्लास्ट से किशोर की मौत, पूरा परिवार घायल

Greenpark में खेला गया पॉलिटिकल मैच

विधानसभा के भाजपा और समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने आज 3 अक्टूबर को ग्रीन पार्क स्टेडियम की फ्लड लाइट में 16 ओवर का एक दोस्ताना क्रिकेट मैच खेला। इसमें कानपुर नगर से मैथानी और अभिजीत सांगा ने भाजपा विधायक के रूप में भाग लिया। इन विधायकों ने हाल ही में लखनऊ में एक मैच खेला था। मैच का उद्घाटन विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने टाइम निकालकर किया। मैच की रनिंग कमेंट्री करने के लिए मशहूर कॉमेडियन अनु अवस्थी से संपर्क किया गया। विधायकों ने अगला मैच सिंगापुर में खेलने का विचार किया है।

बता दें कि बिठूर विधानसभा सीट अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है। इस संसदीय क्षेत्र के सांसद भारतीय जनता पार्टी के देवेंद्र सिंह भोले हैं। 3 लाख से अधिक मतदाताओं वाली बिठूर विधानसभा सीट पर पुरुष वोटरों की संख्या जहां 1.69 लाख है, वहीं 1.35 लाख से ज्यादा महिला मतदाता हैं। इस सीट पर बीजेपी के अभिजीत सिंह सांगा ने सपा के मुनेन्द्र शुक्ला को 21073 वोटों के बड़े अंतर से हराकर दुबारा जीत का सेहरा पहना है।

भाजपा विधायक पर हैं कई मुकदमें

साल 2017 में बिठूर से विधायक बने अभिजीत सिंह सांगा के खिलाफ कई गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। सिर्फ कानपुर ही नहीं कई जिलों में अपराधी मुकदमा अभी भी चल रहे हैं। राजनीति की शुरुआत समाजवादी पार्टी से करने के बाद कांग्रेस से विधायकी का चुनाव लड़ चुके सांगा साल 2017 में भाजपा में शामिल हुए थे। राजनीतिक पहचान उनको कांग्रेस से मिली थी। उनपर कुल 5 आपराधिक मुकदमें होने बताये जाते हैं।

Political Career : राजनितिक करियर

अभिजीत सिंह सांगा भाजपा के फायरब्रांड नेता माने जाते हैं। उनके बयान कई बार चर्चाओं में रहे हैं। 2 अगस्त 1983 में कानपुर के बिठूर में अभिजीत सिंह सांगा का जन्म हुआ था। उन्होंने कानपुर के वीएसएसडी कॉलेज से ग्रैजुएशन किया। इसी दौरान वह छात्र राजनीति से जुड़े। अभिजीत सिंह सांगा समाजवादी पार्टी से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की। अभिजीत सिंह सांगा की मां समाजवादी पार्टी से ब्लॉक प्रमुख रही हैं। कुछ समय बाद अभिजीत ने सपा छोड़ दी और कांग्रेस जॉइन की।

चुनाव से पहले थामा कमल

2012 में अभिजीत सिंह कांग्रेस में शामिल हुए। पार्टी की टिकट पर बिठूर विधानसभा का चुनाव लड़ा लेकिन हार गए। तब से कांग्रेस में ही सक्रिय रहे। जनवरी 2017 में यूपी विधानसभ चुनाव से ठीक कुछ दिन पहले अभिजीत ने बीजेपी जॉइन कर ली।

दूसरी बार विधायक बने हैं सांगा

स्वतंत्रता सेनानी नानाराव और तात्या टोपे की धरती बिठुर से विधायक अभिजीत सिंह सांगा को कट्टर नेता के रूप में देखा जाता है। दरअसल, बिठुर हिंदू धर्मावलंबियों की आस्था का केंद्र है। इसे भगवान ब्रह्मा का निवास स्थान भी माना जाता है। ऐसे में अभिजीत को इस वर्ग के बीच काफी पॉपुलर माना जाता है। वर्ष 2017 में भाजपा ने अभिजीत सिंह सांगा को खड़ा किया। उन्होंने सपा के मुनींद्र शुक्ला को 58,987 वोटों के अंतर से हराया। वहीं, यूपी चुनाव 2022 में सांगा ने मुनींद्र शुक्ला को 21,073 वोटों से मात दी थी। सांगा इस क्षेत्र में काफी पॉपुलर माने जाते हैं।

विवादित ब्यानबाजी

अभिजीत सिंह सांगा भाजपा के फायरब्रांड नेता माने जाते हैं। उनके बयान कई बार चर्चाओं में रहे हैं। इस बार उन्होंने अयोध्या के बाद काशी और मथुरा विवाद पर बड़ा बयान दे दिया था। एमएलए अभिजीत ने ट्वीट कर कहा कि, 'दुर्योधन ने पांच गांव नहीं दिए थे तो उन्हें पूरा राज्य खोना पड़ा था। हमने तीन मंदिर मांगे थे। तुमने नहीं माने। अब तैयार रहो, सारे मंदिर वापस लेंगे। अभिजीत सिंह सांगा के ट्वीट ने अब सियासी हलचल बढ़ा दी है।'

बिठूर में ताजिया दफनाने क़ो लेकर उगला जहर

अभिजीत सिंह सांगा अपने विवादित बयानों के लिए खासे चर्चित रहे हैं। उन्होंने किसान आंदोलन के दौरान 1984 जैसे दंगे वाली टिप्पणी कर विवाद खड़ा कर दिया था। तजिया को लेकर भी उनका विवादित बयान सामने आया था। इसमें उन्होंने कहा था कि देश में मोदी और प्रदेश में योगी की सरकार हहै। किसी के माई के लाल में दम हो तो बिठुर में तजिया दफना के दिखा के दिखाए। यहां तजिया नहीं इरादे दफन कर दिए जाएंगे। अब उनका मस्जिदों को लेकर बयान चर्चा में है।

ज्ञानवपी पर दिया ये ज्ञान

ने ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर चल रहे विवाद के बीच भड़काऊ बयान दिया है। उन्होंने महाभारत के कौरवों की राज्यसभा में भगवान श्रीकृष्ण की ओर से दिए गए पांच गांवों को दिए जाने के प्रस्ताव से पूरे विवाद को जोड़कर पेश किया है। साथ ही, सांगा ने कहा है कि अब तो सारे मंदिर वापस लेंगे। अभिजीत सिंह सांगा अपने विवादित बयानों के लिए खासे चर्चित रहे हैं।

Next Story