Top
उत्तर प्रदेश

शाहीनबाग प्रदर्शन पर गोली चलाने वाला कपिल गुर्जर BJP में शामिल, फिर कुछ ही घंटे में किया गया बाहर

Janjwar Desk
30 Dec 2020 1:12 PM GMT
शाहीनबाग प्रदर्शन पर गोली चलाने वाला कपिल गुर्जर BJP में शामिल, फिर कुछ ही घंटे में किया गया बाहर
x
भाजपा हाइकमान की फटकार के बाद आनन-फानन में पूरे मामले की जानकारी नहीं होने की बात कह कर कपिल गुर्जर को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया...

जनज्वार। शाहीनबाग (Shaheenbagh protest) में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ इस साल के आरंभ में प्रदर्शन करने के दौरान गोली चलाने वाले कपिल गुर्जर (Kapil Gurjar) को आज गाजियाबाद की महानगर भाजपा इकाई ने पार्टी में शामिल कर लिया। हालांकि इस मामले के तूल पकड़ने के बाद कुछ ही घंटे के अंदर उसे पार्टी से निकाल दिया गया और इस मामले में गाजियाबाद महानगर अध्यक्ष ने बयान जारी किया।

हालांकि इससे पहले भाजपा (BJP) में शामिल किए जाने के बाद कपिल गुर्जर (Kapil Gurjar) ने कहा कि वह हिंदुत्व के लिए काम करना चाहता है, इसलिए भाजपा में शामिल हुआ। उसने कहा कि इससे पहले उसका किसी और पार्टी से कोई लेना-देना नहीं था। उसने कहा कि वह आरएसएस से भी जुड़ा हुआ है।

कपिल गुर्जर (Kapil Gurjar) ने कहा कि भाजपा हिंदुत्व को मजबूत कर रही है और और हिंदुत्व को आगे ले जाना चाहती है और वह भी हिदुत्व के लिए काम करना चाहता है। कपिल गुर्जर (Kapil Gurjar) द्वारा शाहीनबाग प्रदर्शन (Shaheenbagh protest) के दौरान गोली चलाये जाने का मामला काफी गरमाया था।

हालांकि कुछ ही देर बाद भाजपा हाइकमान की फटकार के बाद गाजियाबाद महानगर इकाई ने उसे पार्टी से निष्कासित कर दिया और इस संबंध में गाजियाबाद जिला भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें यह जानकारी नहीं थी कि गुर्जर ने शाहीनबाग में गोली चलायी थी।


इस संबंध में गाजियाबाद महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा ने लिखित बयान जारी कर कहा कि आज बसपा से आए कुछ युवकों को महानगर कार्यालय में पार्टी में शामिल करवाया गया, उन कुछ व्यक्तियों में कपिल गुर्जर भी शामिल था। संजीव शर्मा ने बयान में कहा है कि उसके शाहीनबाग मामले की जानकारी नहीं थी। इसलिए इसकी जानकारी होने के बाद प्रदेश भाजपा नेतृत्व द्वारा उसका पार्टी में शामिल किया जाना तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया गया।

कपिल गुर्जर ने एक फरवरी को चलायी थी गोली

कपिल गुर्जर ने शाहीनबाग प्रदर्शन के दौरान इस साल एक फरवरी को गोली चलायी थी। उसने वहां पर लगाए गए बेरिकेड्स के पास गोली चलायी थी। इसके बाद उसने नारेबाजी की थी और कहा था कि यहां सिर्फ हिंदुओं की चलेगी। उसने हवा में दो गोली चलायी थी, हालांकि वह किसी को लगी नहीं। उसके द्वारा फायरिंग किए जाने के बाद वहां मौजूद पुलिस जवानों व सीआरपीएफ जवानों ने उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया। उस समय उसकी पहचान पूर्वी दिल्ली के दल्लूपुरा गांव के रहने वाले कपिल गुर्जर के रूप में सुनिश्चित की गयी थी। उसके द्वारा की गयी गोलीबारी के बाद शाहीनबाग प्रदर्शन को लेकर सुरक्षा बढा दी गयी थी।

गोली चलाने के बाद पुलिस की गिरफ्त में कपिल गुर्जर। फाइल फोटो।



Next Story

विविध

Share it