उत्तर प्रदेश

Pilibhit News : UP के पीलीभीत में रेलवे कर्मचारी की हत्या कर शव आठ फीट गहरे गड्ढे में दफनाया, जानिए क्या है पूरा मामला

Janjwar Desk
5 Oct 2022 9:12 AM GMT
Pilibhit News : UP के पीलीभीत में रेलवे कर्मचारी की हत्या कर शव आठ फीट गहरे गड्ढे में दफनाया, जानिए क्या है पूरा मामला
x

Pilibhit News : UP के पीलीभीत में रेलवे कर्मचारी की हत्या कर शव आठ फीट गहरे गड्ढे में दफनाया, जानिए क्या है पूरा मामला

Pilibhit News : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जनपद पीलीभीत (Pilibhit) में दो दिन से लापता रेलवे (Railway) के गेटमैन (Gateman) का शव भमौरा (Bhamaura) गांव में एक मकान से बरामद किया गया।

पीलीभीत से निर्मल कांत शुक्ल की रिपोर्ट

Pilibhit News : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जनपद पीलीभीत (Pilibhit) में दो दिन से लापता रेलवे (Railway) के गेटमैन (Gateman) का शव भमौरा (Bhamaura) गांव में एक मकान से बरामद किया गया। रेलवे कर्मचारी को मारकर मकान में ही आठ फीट गहरे गड्ढे में दफन कर दिया गया। पुलिस ने मकान स्वामी व उसके परिवार की तीन महिलाओं सहित चार लोगों को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। वारदात की वजह आपसी लेनदेन बताया गया है। मृतक रेलवे कर्मचारी जनपद इटावा (Etawah) का रहने वाला था।

भमौरा रेलवे क्रॉसिंग के पास ही स्थित गेटमैन कमलेश कुमार यादव का सरकारी क्वार्टर।

इटावा जिले के गांव सिलौट अहिरवा निवासी कमलेश कुमार यादव (Kamalesh Kumar Yadav) की तैनाती पीलीभीत-टनकपुर रेल खंड पर भमौरा रेलवे क्रॉसिंग (Bhamaura Railway Crossing) पर गेटमैन के पद पर थी। कमलेश वहीं पर बने सरकारी क्वार्टर में परिवार सहित रहता था। सोमवार की शाम को वह अपनी पत्नी से न्यूरिया कस्बे की बाजार में खरीदारी करने जाने की बात कह कर गया था। वह अपने परिचित ग्राम भमौरा के ही दीनदयाल के साथ गया था। जब देर रात तक वापस क्वार्टर पर नहीं लौटा तो कमलेश की पत्नी ने उसे इधर-उधर परिचितों के यहां जाकर तलाश किया। दीनदयाल से पूछा तो उसने भी कोई जानकारी नहीं दी, तब पत्नी ने उसकी गुमशुदगी की सूचना न्यूरिया थाना पुलिस को दी।

मृतक रेलवे कर्मचारी कमलेश कुमार यादव

न्यूरिया थाना पुलिस ने गुमशुदगी की सूचना दर्ज करने के बाद रेलवे कर्मचारी की तलाश शुरू कर दी। चूंकि रेलवे कर्मचारी भमौरा गांव के दीनदयाल के साथ गया था, इसलिए पुलिस ने सबसे पहले दीनदयाल से पूछताछ शुरू की। सख्ती से पूछताछ किये जाने पर उसने सब कुछ उगल दिया। पुलिस दीनदयाल को लेकर उसके मकान पर जा पहुंची तो मकान के एक हिस्से में खुदाई करने पर 8 फीट नीचे लापता रेलवे कर्मचारी कमलेश कुमार यादव का दफन शव बरामद हुआ।

दीनदयाल की निशानदेही पर रेलवे कर्मचारी की मोटरसाइकिल व वारदात में प्रयुक्त बंका बरामद हो गया। न्यूरिया थाना पुलिस ने रेलवे कर्मचारी के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय पर भेजा। छह लोगों के विरुद्ध न्यूरिया थाने में अभियोग पंजीकृत किया गया। इस वारदात से भमौरा गांव में दहशत का माहौल है। वारदात की सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. पवित्र मोहन त्रिपाठी भमौरा गांव पहुंची और घटनास्थल का मौका मुआयना किया। अपर पुलिस अधीक्षक ने पकड़े गए दीनदयाल व उसके परिवार की महिलाओं से भी पूछताछ की।

लेन-देन का था विवाद : एएसपी

अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. पवित्र मोहन त्रिपाठी ने बताया कि रेलवे कर्मचारी कमलेश कुमार यादव और दीनदयाल के बीच पैसों के लेनदेन का विवाद था। उसने दीनदयाल से पैसे उधार लिए थे। दीनदयाल बार-बार तगादा कर रहा था लेकिन कमलेश पैसे नहीं लौटा रहा था। बोनस मिलने पर भी उसने उधार की रकम चुकता करने में टालमटोल की। इसी रंजिश के चलते दीनदयाल ने बंका से प्रहार कर उसकी हत्या करने के बाद परिवार के अन्य सभी सदस्यों के साथ मिलकर कमलेश के शव को अपने मकान के ही एक हिस्से में गड्ढा खोदकर दफना दिया। इस मामले में दीनदयाल के अलावा इन तीनों भाइयों की पत्नियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इसके दो भाई फरार हैं, जिनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी किये जाने के निर्देश दिए गए हैं।

35,000 रुपए लिए थे उधार

पुलिस के अनुसार मृतक गेटमैन कमलेश कुमार यादव ने ने दीनदयाल से करीब एक वर्ष पहले 35,000 रूपये एक महीने बाद वापस करने का वादा कर उधार लिए थे, किन्तु दीनदयाल के बार-बार मांगने पर भी कमलेश यादव ने पैसे वापस नहीं दिये। 3 अक्टूबर को मृतक कमलेश यादव दीनदयाल के घर पर गया था। दीनदयाल ने उससे अपने रुपये वापस मांगे तो वह टाल-मटोल करने लगा तभी दीनदयाल व उसके भाई दयाराम, मोहनलाल उर्फ हीरालाल व उन तीनों की पत्नियों ने एक राय होकर पैसे वापस न करने पर कमलेश को शराब पिलाकर बांके से काटकर हत्या कर उसके शव को घर के आंगन मे नल के पास गड्डा खोदकर दबा दिया। हत्या से सम्बन्धित सामान को छिपा दिया। अभियुक्त दीनदयाल की निशानदेही पर दीनदयाल के घर के आंगन में गड्डा खोदकर मृतक कमलेश का शव तथा हत्या से सम्बन्धित सामान फील्ड यूनिट टीम की मदद से बरामद किया।

गिरफ्तार अभियुक्तगण

1. दीनदयाल पुत्र हुकुमचन्द्र

2. मीना देवी पत्नी दीनदयाल

3. सुशीला देवी पत्नी दयाराम

4. नन्ही देवी पत्नी मोहनलाल उर्फ हीरालाल निवासीगण ग्राम भमौरा थाना न्यूरिया जिला पीलीभीत


न्यूरिया पुलिस की हिरासत में गेटमैन की हत्या के चारों आरोपी।

फरार अभियुक्तगण

1. दयाराम पुत्र हुकुमचन्द्र

2. मोहनलाल उर्फ हीरालाल पुत्र हुकुमचन्द्र निवासीगण ग्राम भमौरा थाना न्यूरिया जिला पीलीभीत

बरामदगी-

1-मृतक की मोटर साईकिल

2-आलाकत्ल बांका

3-एक अदद फावडा

4- घटना के समय अभियुक्त द्वारा पहनी हुई एक अदद टीशर्ट

गिरफ्तारी/बरामदगी करने वाली टीम-

1-थानाध्यक्ष रोहित कुमार थाना न्यूरिया

2-एसओजी/सर्विलांस टीम

3- वरिष्ठ उप निरीक्षक देवेन्द्र कुमार

4- उप निरीक्षक राकेश कुमार

5- उप निरीक्षक गौतम सिंह

6-हे0का0 शाहिर हुसैन

7- कांस्टेबल अमित पांचाल

8- कांस्टेबल सौरभ राठी

9- कांस्टेबल विपुल कुमार

10- महिला कांस्टेबल आशू रानी

11- महिला कांस्टेबल ऋतुराज

Next Story

विविध