उत्तर प्रदेश

50 से ज्यादा बच्चों का यौन शोषण करने वाले जूनियर इंजीनियर के थानों के बाहर लगेंगे पोस्टर

Janjwar Desk
23 Nov 2020 5:56 AM GMT
50 से ज्यादा बच्चों का यौन शोषण करने वाले जूनियर इंजीनियर के थानों के बाहर लगेंगे पोस्टर
x

00 बच्चों के रेप का आरोपी जूनियर इंजीनियर

शोभा सिंह का पुरवा में जहां जेई का किराए वाला मकान है, वहां चार पहिया वाहन तो दूर मोटरसाइकिल तक मुश्किल से निकलती है। खतरनाक मंसूबों को मन में पाले जेई रामभवन सिंह सरकारी आवास को छोड़कर यहां डेरा जमाए बैठा रहा....

चित्रकूट, जनज्वार। सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए 50 से जादा बच्चों का यौन शोषण करने वाले सिंचाई विभाग के जेई रामभवन के पोस्टर पुलिस जारी करेगी। यह पोस्टर बांदा, चित्रकूट, महोबा समेत उन जिलों में चस्पां किये जायेंगे, जहां जहां जेई तैनात रहा है। पोस्टर जारी करने के लिए अब पुलिस को सीबीआई की रिपोर्ट का इंतजार है।

सिंचाई विभाग से निलंबित किया गया बच्चों के यौन शोषण का आरोपी जेई रामभवन सिंह सरकारी आवास की जगह शोभा सिंह का पुरवा में किराए का मकान लेकर रहता था। यहां ठिकाना बनाने के पीछे का मकसद ये था कि यहां आर्थिक रूप से कमजोर लोग रहते थे और तो शिकार भी आसानी से मिल जाएंगे। मोटा वेतन पाने वाले जूनियर इंजीनियर रामभवन सिंह ने इस बस्ती की एक संकरी गली में अपना अड्डा बनाया था।

शोभा सिंह का पुरवा में जहां जेई का किराए वाला मकान है, वहां चार पहिया वाहन तो दूर मोटरसाइकिल तक मुश्किल से निकलती है। खतरनाक मंसूबों को मन में पाले जेई रामभवन सिंह सरकारी आवास को छोड़कर यहां डेरा जमाए बैठा रहा। नाबालिग बच्चों और लड़कियों को हवस का शिकार बनाने वाले जेई रामभवन के पुलिस पोस्टर लगाने की तैयारी में है।

दूसरी तरफ सीबीआई ने दुष्कर्म के आरोपी जेई के खिलाफ सबूत जुटाने में और भी तेजी दिखानी शुरू कर दी है। उसके मोबाइल पर मिले दस से अधिक संदिग्ध नम्बरों को सीबीआई सर्विलांस पर लगाकर पड़ताल की जा रही है। साथ ही दो साइबर कैफे भी सीबीआई के निशाने पर हैं। मुख्यालय स्थित एक कंप्यूटर सेंटर में भी सीबीआई ने जाकर जांच-पड़ताल की है।

एडीजी प्रेम प्रकाश का कहना है कि जेई को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। बच्चों से दरिंदगी के मामले में रामभवन के पोस्टर चित्रकूट व बाँदा की सड़कों चौराहों पर लगाये जाएंगे। पोस्टर लगाने का मकसद ये है कि लोग जेई और उसके सहयोगियों की करतूतें जान सकें। सीबीआई की रिपोर्ट मिलने के बाद जेई रामभवन के पोस्टर जारी किए जाएंगे।

Next Story

विविध