Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस के पीड़ित परिवार से मिले राहुल- प्रियंका, मृतका के पिता और भाइयों के साथ खुद को कमरे में किया बंद

Janjwar Desk
3 Oct 2020 3:51 PM GMT
हाथरस के पीड़ित परिवार से मिले राहुल- प्रियंका, मृतका के पिता और भाइयों के साथ खुद को कमरे में किया बंद
x
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक हम लड़ेंगे, परिवार न्यायिक जांच चाहता है.....

हाथरस। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। इस दौरान प्रियंका ने पीड़िता की मां को गले लगा कर ढांढस बढ़ाया और कहा कि इस संकट की घड़ी में कांग्रेस आपके साथ है। राहुल गांधी मृतका के पिता और भाइयों को कमरे में ले गए और कमरे को बंद कर लिया। इस दौरान मीडियाकर्मियों को बाहर कर दिया गया।

जानकारी के मुताबिक कांग्रेस नेताओं ने मृतका के परिजनों से करीब एक घंटे तक बातचीत की। इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा, 'हम अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे। परिवार आखिरी बार अपनी बच्ची का चेहरा नहीं देख पाया। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक हम लड़ेंगे। परिवार न्यायिक जांच चाहता है।'

राहुल और प्रियंका गांधी समेत 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति मिली। यूपी सरकार ने उन्हें इजाजत दी। प्रशासन ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को हाथरस जाने और पीड़िता के परिवार से मिलने की अनुमति कुछ शर्तों पर दी।


राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पहले भी हाथरस के पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे लेकिन उन्हें आधे रास्ते में ही रोक दिया गया था। इस दौरान उनके साथ धक्का-मुक्की भी की गई थी और वह जमीन पर गिर पड़े थे। शनिवार को उन्हें आखिरकार मिलने की अनुमति दे दी गई। बता दें कि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत तमाम विपक्ष के नेता हाथरस के जघन्य गैंगरेप और हत्याकांड को लेकर सरकार पर हमलावर हैं।

इससे पहले राहुल गांधी कई ट्वीट्स कर सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, 'यूपी प्रशासन सच छुपाने के लिए दरिंदगी पे उतर चुका है। ना तो हमें, ना मीडिया को पीड़िता के परिवार को मिलने दिया और ना उन्हें बाहर आने दे रहे हैं, ऊपर से परिवारजनों के साथ मार-पीट और बर्बरता। कोई भी भारतीय ऐसे बरताव का समर्थन नहीं कर सकता।'

एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा था, 'इस प्यारी बच्ची और उसके परिवार के साथ UP सरकार और उसकी पुलिस द्वारा किया जा रहा व्यवहार मुझे स्वीकार नहीं। किसी भी हिन्दुस्तानी को ये स्वीकार नहीं करना चाहिए।' शनिवार को एक नए ट्वीट में उन्होंने कहा था, 'दुनिया की कोई भी ताक़त मुझे हाथरस के इस दुखी परिवार से मिलकर उनका दर्द बांटने से नहीं रोक सकती।'

Next Story

विविध

Share it