Top
उत्तर प्रदेश

अयोध्या : काॅलेज प्रशासन के खिलाफ 'आजादी' का नारा लगाने पर प्रिंसिपल की शिकायत पर छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा

Janjwar Desk
28 Dec 2020 5:23 AM GMT
अयोध्या : काॅलेज प्रशासन के खिलाफ आजादी का नारा लगाने पर प्रिंसिपल की शिकायत पर छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा
x
छात्र काॅलेज प्रशासन से छात्र संघ चुनाव कराने की मांग कर रहे थे और इस दौरान उन्होंने अपनी मांगों के समर्थन में कथित रूप से आजादी के नारे लगाए जिसके बाद प्रिंसिपल ने उन पर देशद्रोह का केस दर्ज करवा दिया...

जनज्वार। उत्तरप्रदेश के अयोध्या में छात्रों के समूह पर कथित रूप से आजादी का नारा लगाने पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। यह मुकदमा केएस साकेत डिग्री काॅलेज के प्रिंसिपल एनडी पांडेय की शिकायत पर दर्ज किया गया है।

पुलिस को प्रिंसिपल ने की अपनी शिकायत में कहा कि 16 दिसंबर को काॅलेज परिसर में लेकर रहेंगे आजादी जैसे अभद्र और राष्ट्र विरोधी नारे छात्रों के एक समूह ने लगाया। वास्तव में छात्रों ने यह प्रदर्शन काॅलेज में छात्र संघ का चुनाव नहीं कराने के विरोध में किया था। इस मामले में कहा जा रहा है कि छात्रों के नारे का मतलब प्रिंसिपल के रवैये और स्टैंड से आजादी से था और उसे राष्ट्र विरोध से जोड़ दिया गया।

प्रिंसिपल एनडी पांडेय की शिकायत पर 18 दिसंबर को सुमित तिवारी, शीश नारायण पांडेय, इमरान हाशमी, सात्विक पांडेय, मोहित यादव व मनोज मिश्र के खिलाफ एक एफआइआर दर्ज कर ली जिसमें राष्ट्रद्रोह की धाराएं भी लगायी गयीं हैं।

इन छह छात्रों पर आइपीसी सेक्शन - 124 ए (देशद्रोह), 147 (दंगा), 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में अयोध्या थाने के इंसपेक्टर आशुतोष मिश्रा ने कहा है कि वे मामले की जांच कर रहे हैं और जांच से सबकुछ स्पष्ट हो जाएगा। इस मामले में पुलिस सीसीटीवी फुटेव व वीडियो की जांच भी करेगी। पुलिस ने कहा है कि अगर वास्तव में कोई अपराध किया गया है तो उसके अनुरूप कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

प्रिंसिपल ने अपनी शिकायत में कहा है कि सात दिसंबर से काॅलेज में प्रवेश प्रक्रिया व कक्षाएं चल रही हैं। इस दौरान कुछ बाहरी लोगों, असामाजिक तत्वों व तथाकथित नेताओं ने छात्र चुनाव को लेकर मांग शुरू कर दिया। 16 दिसंबर को इन्होंने काॅलेज में प्रवेश किया और मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया। प्रिंसिपल का आरोप है कि इन्होंने काॅलेज प्रशासन एवं छात्रों से दुव्र्यवहार भी किया। प्रिंसिपल ने यह भी कहा है कि देश विरोधी नारे लगाने वाले लड़कों के कारण काॅलेज के छात्रों के भय एवं गुस्सा है।

Next Story

विविध

Share it