Top
उत्तर प्रदेश

पीएम मोदी के सारे ट्वीट रिट्वीट करने वाली स्मृति ईरानी हाथरस की दरिंदगी पर नहीं बोल पायीं एक भी शब्द

Janjwar Desk
3 Oct 2020 3:42 AM GMT
पीएम मोदी के सारे ट्वीट रिट्वीट करने वाली स्मृति ईरानी हाथरस की दरिंदगी पर नहीं बोल पायीं एक भी शब्द
x
स्मृति ईरानी जब विपक्ष में थीं तो सड़कों पर महिला हिंसा के खिलाफ तीखा प्रदर्शन करने वाली व उसको लेकर प्रभावी बयान देने वाली नेता की पहचान उन्होंने बनायी थी, लेकिन अबजब उनकी सरकार है तो महिला विकास मंत्री होते हुए भी ऐसे मुद्दों पर चुप हैं...

जनज्वार। भाजपा की प्रमुख महिला चेहरा व केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी हाथरस पीड़िता की मौत के पांच दिन बाद भी चुप हैं। अबतक उन्होंने अधिकृत रूप से इस मामले पर केंद्रित कोई बयान नहीं दिया है और न ही कोई ट्वीट किया है।

स्मृति ईरानी की पार्टी जब विपक्ष में थी तो महिला अधिकारों के लिए लड़ने वाली प्रमुख चेहरे के रूप में उन्होंने अपनी पहचान बनायी थी। वे बलात्कार व महिला हिंसा के कई मुद्दों पर सड़कों पर प्रदर्शन करने वाली नेता के रूप में पहचानी गईं थी। स्मृति ईरानी भाजपा के महिला मोर्चा की भी प्रमुख रह चुकी हैं। हाथरस गैंगरेप कांड व नृशंस हत्या मामले को लेकर जब पूरे देश में कोहराम मचा हुआ है और व्यापक धरना प्रदर्शन का आयोजन हो रहा है, तब भी स्मृति ईरानी चुप हैं।



स्मृति ईरानी ने इन पांच दिनों में हाथरस की घटना पर कोई ट्वीट भी नहीं किया है, जबकि वे अपने राजनैतिक बाॅस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सारे ट्वीट रिट्वीट करती हैं।

स्मृति ईरानी ने 29 सितंबर की सुबह हाथरस की दलित लड़की की सफदरगंज अस्पताल में मौत के बाद से प्रधानमंत्री मोदी से जुड़े 29 ट्वीट को रिट्वीट किया है। इसमें कई ट्वीट सीधे प्रधानमंत्री या उनके कार्यालय के हैं, जिसे उन्होंने रिट्वीट किया है।


इसके बाद उन्होंने सबसे अधिक उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जुड़े ट्वीट को रिट्वीट किया है। ईरानी ने योगी से जुड़े आठ ट्वीट को रिट्वीट किया है। जिसमें सीएम योगी के खुद के ट्वीट व उनसे जुड़े ट्वीट शामिल हैं। स्मृति ईरानी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के और उनके कार्यालय के हाथरस की घटना पर किए गए ट्वीट को रिट्वीट किया। निजी तौर पर उस पर कुछ नहीं लिखा। इसके अलावा भाजपा के कुछ अन्य प्रमुख नेताओं से जुड़े ट्वीट को भी उन्होंने रिट्वीट किया है, जिसमें रक्षामंत्री राजनाथ सिंह व भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल हैं।



स्मृति ईरानी अपनी पार्टी की सरकार के कामकाज को बेहतर बताने वाली या अपने नेताओं को सही ठहराने वाले खबरों को भी रिट्वीट करती हैं, लेकिन पांच दिनों से देश में हाथरस की घटना प्रमुख खबर बनी हुई है और उन्होंने उससे जुड़ी किसी खबर को रिट्वीट नहीं किया है।

स्मृति ईरानी इस दौरान कहीं नजर नहीं आयीं और न ही उनका बयान आया। इस कारण ट्विटर पर #WhereIsSmritiIrani ईरानी ट्रेंड कर गया। इस हैशटैग पर लोग ट्वीट कर यह पूछ रहे हैं कि स्मृति ईरानी कहां हैं। स्मृति ईरानी न सिर्फ केंद्रीय मंत्री हैं बल्कि वे उत्तरप्रदेश से ही सांसद हैं। वे लोकसभा में अमेठी का प्रतिनिधित्व करती हैं। यानी राजनैतिक रूप से भी उत्तरप्रदेश उनका गृह प्रदेश है।

हालांकि इस बीच शुक्रवार को एक अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी ने अपना वीडियो अपने ट्विटर एकाउंट पर पोस्ट किया। स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिस संबोधन का वीडियो पोस्ट था वह महिलाओं के अधिकार पर केंद्रित था। उन्होंने उस आयोजन को भारत की महिला एवं बाल किवास मंत्री के रूप में संबोधित किया था। स्मृति ईरानी ने उसमें कहा कि भारत में महिलाओं के अधिकार के लिए अहम कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा मिेंक भारत के विकास के एजेंडे में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान है और देश लैंगिक समानता के मामले में आगे बढ रहा है।


Next Story

विविध

Share it