उत्तर प्रदेश

Allahabad University : ताराचद हॉस्टल में छात्र आशीष ने किया सुसाइड, AU प्रशासन का दावा नहीं था 'हमारा छात्र-अवैध रूप से रह रहा था'

Janjwar Desk
21 Sep 2022 6:23 AM GMT
इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के ताराचद हॉस्टल में छात्र आशीष ने किया सुसाइड, घटना का फीस वृद्धि से कोई संबंध नहीं
x

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के ताराचद हॉस्टल में छात्र आशीष ने किया सुसाइड, घटना का फीस वृद्धि से कोई संबंध नहीं

Allahabad University Prayagraj : घटना की सूचना मिलने के तत्काल बाद ताराचंद छात्रावास पहुंची पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। कुछ छात्र इस घटना को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी ( Allahabad University ) में फीस वृद्धि से जोड़कर भी देख रहे हैं। इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

Allahabad University Prayagraj : यूपी के प्रयागराज ( Prayagraj ) जिले के इलाहाबाद विश्वविद्यालय ( Allahabad University ) से एक दुखद घटना सामने आई है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद हॉस्टल ( Allahabad university Trachand Hostel ) में मंगलवार शाम छात्र आशीष तिवारी ने फांसी ( Student suicide ) लगाकर जान दे दी। 23 वर्षीय छात्र का शव फंदे से लटके होने की खबर पाकर छात्रावास और विश्वविद्यालय कैंपस में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस अधिकारी फोरेंसिक टीम के साथ पहुंच गए। पुलिस ने कमरा चेक किया लेकिन सुसाइड नोट नहीं मिला।

पुलिस ने मोबाइल अपने कब्जे में लिया

हॉटीकल्चर के छात्र आशीष तिवारी ने पंखे के फंदे से लटककर जान क्यों दी, यह स्पष्ट नहीं है। हालांकि साथी छात्रों का कहना है कि आशीष डिप्रेशन में था। छात्र के मोबाइल को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

परीक्षा को लेकर डिप्रेशन में था या मामला कुछ और है!

फतेहपुर जिले के ललौली गांव का रहने वाला छात्र आशीष तिवारी पुत्र सत्यनारायण तिवारी कुलभाष्कर आश्रम पीजी कालेज से हार्टिकल्चर द्वितीय वर्ष का छात्र था। ताराचंद छात्रावास के कमरा नंबर जी-208 में वह तुषार कुमार सरोज के साथ रहकर पढ़ाई करता था। मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे अश्वनी नाम का छात्र कमरे पर पहुंचा। दरवाजा खटखटाने पर कोई जवाब नहीं आया। खिड़की से देखा तो आशीष गमछे के सहारे पंखे के चुल्ले से लटका था।

आशीष के आत्महत्या ( Student Ashish suicide ) की खबर से इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में खलबली मच गई। छात्रों की भीड़ जमा हो गई। सूचना पाकर एसपी सिटी, सीओए इंस्पेक्टर चौकी प्रभारी पहुंच गए। छात्रों के सामने दरवाजे की कुंडी तोड़ी गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है लेकिन आत्महत्या का स्पष्ट कारण कोई नहीं बता सका। पुलिस का कहना है कि कमरे से हार्टिकल्चर द्वितीय का प्रश्न पत्र मिला है। माना जा रहा है कि वह परीक्षा को लेकर डिप्रेशन में था।

इलाहाबाद विवि का छात्र नहीं था आशीष, हॉस्टल में कैसे रह रहा था

ताराचंद छात्रावास में आशीष के सुसाइड का मामला सामने आने के बाद से इस बात की चर्चा भी जोरों पर है कि आशीष तिवारी किस आधार पर वहां रह रहा था। इस घटना को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में फीस वृद्धि से जोड़कर भी देखा जा रहा है। हालांकि पुलिस ने इस बात से इनकार किया है। बता दें कि इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में पिछले कई दिनों से फीस वृद्धि के विरोध में बवाल चल रहा था। इसी में छात्र की आत्महत्या की खबर आई तो इस बात की चर्चा भी जोरों पर है कि कहीं उसने फीस वृद्धि के विरोध में तो आत्महत्या नहीं कर ली। सोशल मीडिया पर मैसेज चलने लगे कि आशीष तिवारी ने फीस वृद्धि के विरोध में आत्मघाती कदम उठाया है।

दरअसल, आशीष छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर से संबंद्ध कुलभाष्कर आश्रम पीजी कालेज का छात्र था। वह इलाहाबाद विश्वविद्यालय का छात्र नहीं था। कई छात्रों का कहना है कि आशुतोष के कमरे में उसका मोबाइल तरीके से रखा मिला जिससे लगा कि उसने लाइव वीडियो बनाया हो। यह भी कहा गया कि वह किसी से वीडियो कॉल पर बात करता रहा था। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

अवैध रूप से रह रहा था, मामले की जांच शुरू : PRO

इलाहाबाद विश्वविद्यालय ( Allhabad University ) के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. जया कपूर का कहना है कि मृतक छात्र ने ताराचंद छात्रावास में आत्महत्या की है। वह विश्वविद्यालय का छात्र नहीं है। वह अवैध रूप से रह रहा था। इसकी जांच की जा रही है। इस प्रकरण का फीस वृद्धि से कोई संबंध नहीं है।

Next Story

विविध