Top
उत्तर प्रदेश

यूपी: छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा प्रधानमंत्री मोदी का नाम, भ्रष्टाचार और पर्यावरण का मुद्दा उठाया

Janjwar Desk
19 Aug 2020 6:59 AM GMT
यूपी: छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा प्रधानमंत्री मोदी का नाम, भ्रष्टाचार और पर्यावरण का मुद्दा उठाया
x
परिवार के सदस्यों ने कहा कि उनकी बेटी की अंतिम इच्छा के रूप में वे यह सुनिश्चित करेंगे कि यह पत्र प्रधानमंत्री तक पहुंच जाए, इसे लेकर उन्होंने प्रशासन से संज्ञान लेने की अपील की है....

संभल (उत्तर प्रदेश)। स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले संभल में एक 16-साल की किशोरी ने खुदकुशी कर ली। खुदकुशी करने से पहले उसने 18 पन्नों का एक पत्र लिखा, जिसे पढ़ कर सभी हैरान हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे इस पत्र में किशोरी ने प्रदूषण, भ्रष्टाचार और पेड़ों को धराधर काटने जैसे मुद्दों को उठाया है।

सुसाइड नोट मंगलवार को बरामद हुआ, जिसमें किशोरी ने इन मुद्दों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने की इच्छा जताई थी। उसने प्रधानमंत्री से बढ़ती आबादी पर अंकुश लगाने, दीवाली के दौरान पटाखों पर प्रतिबंध को लागू करने और होली पर केमिलकल वाले रंगों पर प्रतिबंध लगाने का आग्रह किया।

नोट के अनुसार, वह बुजुर्ग लोगों को होने वाली समस्याओं से भी परेशान थी। उसने सुसाइड नोट में लिखा, 'मैं उस जगह पर नहीं रहना चाहती हूं जहां बच्चे अपने माता-पिता को वृद्धाश्रम भेजते हैं।'

परिवार के सदस्यों ने कहा कि उनकी बेटी की अंतिम इच्छा के रूप में वे यह सुनिश्चित करेंगे कि यह पत्र प्रधानमंत्री तक पहुंच जाए। इसे लेकर उन्होंने प्रशासन से संज्ञान लेने की अपील की है।लड़की के पिता एक किसान हैं, उन्होंने कहा, 'सुसाइड नोट में लिखी बातें मेरी बेटी की आखिरी इच्छाएं हैं। हम चाहते हैं कि यह पत्र प्रधानमंत्री तक पहुंचना चाहिए।'

गुन्नौर के एसएचओ देवेंद्र कुमार ने कहा, 'लड़की ने 14 अगस्त की रात को खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। रिवाल्वर को पुलिस ने बरामद कर लिया था और उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया और मामले की जांच जारी है।'

'मंगलवार को उसके घर में एक नोटबुक में 18 पेज का सुसाइड नोट मिला। उसके माता-पिता ने हमें बताया है कि मनावैज्ञानिक समस्याओं को लेकर उसका इलाज चल रहा था।' लड़की बबराला के एक निजी स्कूल की छात्रा थी।

Next Story

विविध

Share it