उत्तर प्रदेश

UP News : सीएम योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला गिरफ्तार

Janjwar Desk
14 Aug 2022 10:24 AM GMT
UP News :  सीएम योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला  गिरफ्तार
x

file photo

UP News : यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी देने वाला युवक मेवात से गिरफ्तार।

UP News : उत्तर प्रदेश ( Uttar pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( CM Yogi Adityanath ) को जान से मारने की धमकी देने वाले युवक को पुलिस ने राजस्थान ( Rajasthan ) के मेवात ( Mewat ) से गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि सीएम योगी को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। इस बाबत लखनऊ के आलमबाग इलाके में रहने वाले देवेंद्र तिवारी के घर पर एक बैग में धमकी भरी चिठी मिली थी जिसमें मुख्यमंत्री योगी और देवेंद्र तिवारी को बम से उड़ाने की बात लिखी है।

ताजा अपडेट के मुताबिक लखनऊ साइबर सेल ( Lucknow Cyber Cell ) ने राजस्थान ( Rajasthan ) के मेवात ( Mewat ) से सरफराज ( Sarfaraz ) नाम के शख्स को किया गिरफ्तार है, जिसने सीएम योगी को जान से मारने की धमकी दी थी। सरफराज ने ही डायल 112 के व्हाट्सऐप पर धमकी भरा मैसेज भेजा था। इस मामले में लखनऊ के सुशांत गोल्फ सिटी थाने में 2 अगस्त को केस दर्ज किया गया था।

दो दिन पहले भी सीएम योगी ( CM Yogi Adityanath ) को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। लखनऊ के आलमबाग इलाके में रहने वाले देवेंद्र तिवारी के घर पर एक बैग में धमकी भरी चिठी मिली थी, जिसमें मुख्यमंत्री योगी और देवेंद्र तिवारी को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। देवेंद्र ने अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कोर्ट में पीआईएल दाखिल की हुई है। उनका दावा है कि उसी को ये धमकी दी गई थी। देवेंद्र के घर पर मिली चिट्ठी में कहा गया है कि बाकी लोगों की गर्दन काटी है। तुम दोनों ;सीएम योगी और देवेंद्र को बम से उड़ाएंगे। पत्र में इस बात का भी जिक्र है कि अवैध बूचड़खानों के खिलाफ पीआईएल करने से मुसलमानों के पेट पर लात पड़ी है। साथ में लिखा है कि ओवैसी और मौलाना मदनी को तुम लोगों ने रुलाया है। उनके आंसुओं का बदला लेंगे। चिट्ठी मिलने के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

UP News : लगातार जान से मारने की धमकी मिलने के बाद से उत्तर प्रदेश पुलिस अलर्ट हो गई थी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर लिया था। पुलिस अब मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपी की तलाश कर रही। उसकी गिरफ्तारी के लिए टीमें बनाकर जांच में लगा दी गई थीं। सर्विलांस और साइबर सेल की टीम समेत पुलिस की कई अन्य टीमें मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपी के बारे में जानकारी जुटा रही थीं और धमकी देने वाले की लोकेशन को ट्रेस किया जा रहा था। इस मामले में यूपी की विस्तार से जांच जारी है। यूपी पुलिस साइबर सेल और अन्य जांच एजेंसियां धमकी देने वालों का सुराग हासिल करने में जुटी है।

Next Story

विविध