उत्तर प्रदेश

यूपी पंचायत चुनाव 2021 : गोली, गाली और लाठियों के साए में संपन्न हुआ दूसरे चरण का मतदान

Janjwar Desk
20 April 2021 3:30 AM GMT
यूपी पंचायत चुनाव 2021 : गोली, गाली और लाठियों के साए में संपन्न हुआ दूसरे चरण का मतदान
x
प्रदेश के पंचायत चुनाव में कल 20 जिलों जिनमें कानपुर देहात, उन्नाव, मैनपुरी, बागपत, सुल्तानपुर, अमरोहा, आजमगढ़, ललितपुर, इटावा, चित्रकूट, बरेली, लखनऊ, प्रतापगढ़, वाराणसी, कन्नौज, एटा, मुजफ्फरनगर, गोंडा, फतेहपुर व हमीरपुर में मतदान हुआ। इनमें से कई जिलों में मतदान शांतिपूर्ण तो कई जिलों में पथराव, मारपीट, उपद्रव सहित मतपेटियां लूटे जाने की कोशिशें भी की गईं...

जनज्वार ब्यूरो, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चल रहे पंचायत चुनाव में कल दूसरे चरण का मतदान सम्पन्न हो गया। हंगामा, बवाल, फायरिंग, मतपेटियां लूटने की कोशिशों के साथ कल 20 जिलों में मतदान हुआ। वहीं इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कोरोना संक्रमण में पैदा हुई विस्फोटक स्थिति को लेकर प्रदेश सरकार पर तीखी टिप्पणी की है। हाईकोर्ट ने चुनाव कराने के तरीके को लेकर चुनाव आयोग व प्रदेश सरकार पर नाराजगी जाहिर की है।

प्रदेश के पंचायत चुनाव में कल 20 जिलों जिनमें कानपुर देहात, उन्नाव, मैनपुरी, बागपत, सुल्तानपुर, अमरोहा, आजमगढ़, ललितपुर, इटावा, चित्रकूट, बरेली, लखनऊ, प्रतापगढ़, वाराणसी, कन्नौज, एटा, मुजफ्फरनगर, गोंडा, फतेहपुर व हमीरपुर में मतदान हुआ। इनमें से कई जिलों में मतदान शांतिपूर्ण तो कई जिलों में पथराव, मारपीट, उपद्रव सहित मतपेटियां लूटे जाने की कोशिशें भी की गईं। तो कई जगह पुलिस को लाठियां तक चलानी पड़ीं।

राजधानी लखनऊ के आठ ब्लॉकों में शाम पांच बजे तक 65 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां ग्राम प्रधान, बीडीसी, ग्राम पंचायत और जिला पंचायत के कुल 11651 उम्मीदवार मैदान में हैं। 640 मतदान केंद्रों पर हुए मतदान में छिटपुट झड़पें भी हुईं। कई जगह मतदाता सूची में गड़बड़ी और फर्जी वोट डालने को लेकर विवाद भी हुआ। वहीं गोंडा में परसपुर मरचौर गांव में मतदान को लेकर जमकर बवाल हुआ। फर्जी वोटिंग और बूथ कैप्चरिंग को लेकर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी।

मुलायम सिंह यादव के जिला इटावा में कोरोना महामारी के बीच नेताजी ने वोट नहीं डाला। यहां सबसे अधिक मतदान 69 प्रतिशत सैफई ब्लॉक में रहा तो सबसे कम 58 फीसदी बढ़पुरा ब्लॉक में हुआ। भरथना और बढ़पुरा में मारपीट और पथराव की घटना हुई। बढ़पुरा के खेड़ा अजब सिंह बूथ पर फायरिंग भी हुई। इसके साथ ही मुलायम सिंह के पैतृक गांव में पहली बार प्रधान पद पर मतदान हुआ।

एटा में प्रधान प्रत्याशी ने वोटिंग के दौरान एक युवक को गोली मार दी। बताया जा रहा है कि युवक ने रूपये लेकर वोट देने से मना किया तो प्रधान ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे गोली मार दी। बरेली के भोजीपुरा स्थित बिबियापुर में प्रधानी चुनाव की रंजिश में जमकर फायरिंग हुई। यहां के प्रधान किरन गंगवार के पति नरेंद्र गंगवार की गला रेतकर हत्या कर दी गई। जिसके बाद चली गोलियों में महिला व बच्चे सहित कुल चार लोग घायल हो गए।

प्रतापगढ़ में सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी तोड़ देने के साथ मतपत्र भी लूटकर जला दिए गए। यहां मतदान शुरू होते ही फर्जी वोटिंग भी शुरू हो गई। लालगंज के खंडवा ग्राम पंचायत में फर्जी वोटिंग को लेकर बवाल हो गया। ग्रामीणों ने पुलिसकर्मियों से अभद्रता करते हुए सेक्टर मजिस्ट्रेट का वाहन तोड़ दिया। चित्रकूट में पहाड़ी ब्लॉक के बसहर गांव में प्रत्याशी का निशान ना होने से साढ़े 11 बजे तक मतदान रूका रहा।जनपद में शाम तक 65 प्रतिशत मतदान हुा।

जनपद कन्नौज में फर्जी मतदान को लेकर जमकर बवाल हुआ। पुलिस पर हमला कर दिया गया। गुरसहायगंज के डुडवा में फर्जी मतदान को लेकर पुलिस ने एक युवक को पीट दिया। जिसके बाद पुलिस पर भीड़ ने हमला बोल दिया। पथराव में एक दरोगा व दो सिपाही घायल हो गए। वाराणसी में मतदान के दौरान कई जगह हंगामा, नोंकझोंक व झड़पें देखने को मिलीं। चिरईगांव ब्लॉक में जिला पंचायत सेक्टर 4 की प्रत्याशी सुशीला की हार्टअटैक से मौत हो गई।

सुल्तानपुर के कूरेभार भटकोला गांव के बूथ पर एक प्रत्याशी ने दूसरे पर फायरिंग कर दी। करौंदीकला के कम्मरपुर में दो लोगों में जमकर मारपीट के बाद भारी बवाल हो गया। मतदान के दौरान कइ प्रत्याशियों के वोटिंग निशान में गड़बड़ी को लेकर कई घण्टे मतदान बाधित रहा। फर्जी वोटिंग व मतदान में हेरफेर की शिकायतों को लेकर दिनभर पुलिस व अधिकारी दौड़ते रहे। मैनपुरी में मतदान को दौरान हिंसक झड़प हो गई। जिसमें चार लोग घायल हो गए। जमकर हुई पत्थरबाजी में दो तरफ के 6 लेग घायल हो गए।

अमरोहा में कई जगह पर हिंसा हुई। मतपत्र लूटा गया तो मतदान कर्मियों से भी मारपीट की गई। मारपीट करने के बाद उपद्रवी फायरिंग करते हुए भाग गए। पुलिस बल के पहुँचने के बाद आधा घण्टे के बाद पुना मतदान शुरू हो सका। आजमगढ़ में फर्जी वोटिंग को लेकर कई जगह बवाल मचा। पुलिस को लाठियां भांजकर लोगों को खदेड़ना पड़ा। वहीं एक जगह बैलट बॉक्स में पानी डाल देने का मामला भी सामने आया है। बवाल में आधा दर्जन से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है।

ललितपुर में मतपेटी लूटने का प्रयास किया गया इसके साथ ही डीएम व एसपी की गाड़ियों पर पथराव भी हुआ। गाड़ियां छतिग्रस्त होने के साथ कई लोगों को चोटें भी आई हैं। इस सबके बीच जिले में 80.95 प्रतिशत मतदान पड़ा। लखीमपुर खीरी में मतदान कर्मी एक अध्यापिका की मौत हो गई। मोहम्मदी के खजुरिया में डीएम-एसपी की मौजूदगी में वोट डाले गए। जिले के मितौली, इसानगर के कई इलाकों में देरी से मतदान शुरू हो सका।

Next Story

विविध

Share it