उत्तर प्रदेश

UP : आँखों में मिर्ची पाउडर डाल महिला की पिटाई, हुई मौत तो कोरोना मृतक बता करने जा रहे थे दफन

Janjwar Desk
1 Jun 2021 11:06 AM GMT
UP : आँखों में मिर्ची पाउडर डाल महिला की पिटाई,  हुई मौत तो कोरोना मृतक बता करने जा रहे थे दफन
x

मृतका की आंख और पीठ पर चोट के निशान मिलने के साथ सिर पर पट्टी भी बंधी थी. भारी प्रहार से उसका सिर फटने की आशंका है।

आसपास के लोगों ने बताया कि ससुराल वालों ने सलमा को एक सप्ताह से खाना नहीं दिया था। आसपास के लोग चोरी छिपे खाना दे देते थे। सलमा की 6 माह की छोटी बच्ची समेत चार बच्चे हैं...

जनज्वार, कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में किदवईनगर थाना क्षेत्र स्थित जूही लाल कॉलोनी अंबेडकरनगर बस्ती में देर रात ससुराल वालों ने महिला पर चढ़े भूत को उतारने के नाम पर इतनी यातनाए दीं कि उसकी मौत हो गई। सोमवार को बिना मायके वालों को सूचना दिए कोरोना से मौत बताकर शव को दफनाने जा रहे थे। तभी मोहल्ले वालों ने मायके वालों को सूचना दे दी।

सूचना पाकर भाई समेत पहुँचे अन्य परिजनों ने जनाजा रुकवाकर जमकर हंगामा कर दिया। शव जाने के बाद मायके वालों ने देवर राजा को जमकर पीटा। मामले में कानपुर पुलिस ने पति व देवर को हिरासत में ले लिया है।

जानकारी के मुताबिक 35 वर्षीय सलमा आफरीन का पति शाह आलम ठेले पर अंडे बेचने का काम करता है। सलमा के बड़े भाई बेकनगंज निवासी मो. अकमल ने बताया कि बहन की ससुराल में चार ननद व तीन देवर हैं। बहनों के बहकावे में आकर शाह आलम सलमा को आए दिन पीटता था। जिसके चलते सलमा मायके आ गई थी।

एक सप्ताह पहले ही वह ससुराल पहुंची थी। मो. अकमल के मुताबिक आसपास के लोगों ने उसे बताया कि रविवार देर रात करीब तीन बजे ससुराल वाले उसे पीट रहे थे। यहां तक की उसकी आंखों में मिर्च तक झोंक दी। लाल मिर्च जलाकर धुआं दिया गया। आसपास के लोगों ने पूछा तो ससुराल वालों ने बताया कि उस पर भूत सवार है, वही उतारा जा रहा है।

रविवार 30 मई की सुबह करीब 10 बजे उन लोगों ने कोरोना से मौत होने की अफवाह उड़ाई और जनाजा निकालने की तैयारी करने लगे। थाना प्रभारी राजीव सिंह ने बताया कि महिला की मौत संदिग्ध हालात में हुई है। जिसके मद्देनजर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

इंस्पेक्टर राजीव सिंह ने बताया कि मौत का कारण पोस्टमार्टम से ही स्पष्ट होगा। सलमा की आंख के पास और पीठ पर चोट के निशान भी प्राप्त हुए हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सलमा के सिर पर पट्टी भी बंधी थी, जिससे भारी वस्तु के प्रहार से उसका सिर फटने की आशंका है।

आसपास के लोगों ने बताया कि ससुराल वालों ने सलमा को एक सप्ताह से खाना नहीं दिया था। आसपास के लोग चोरी छिपे खाना दे देते थे। सलमा की 6 माह की छोटी बच्ची समेत चार बच्चे हैं। जिसमें 12 साल का कौनेन, 10 साल की जोया, 6 साल की कादरीना हैं। आरोप है कि सलमा को बच्चों से भी नहीं मिलने दिया जाता था।

Next Story

विविध

Share it