Top
उत्तर प्रदेश

UP के मंदिर परिसर में पुजारी के बेटे की लाश बरामद, पुलिस ने कहा आत्महत्या का मामला

Janjwar Desk
26 Jun 2020 3:49 PM GMT
UP के मंदिर परिसर में पुजारी के बेटे की लाश बरामद, पुलिस ने कहा आत्महत्या का मामला
x
राम दीक्षित की फाइल फोटो
घटनास्थल से नहीं मिला है कोई सुसाइड नोट, पुलिस इसे प्रथमदृष्टया आत्महत्या का मामला मानकर चल रही है, पुजारी के बेटे की लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है...

जनज्वार, बरेली। उत्तर प्रदेश में बरेली के थाना बारादरी स्थित एक मंदिर के पुजारी का 30 वर्षीय बेटे की लाश आज 26 जून की सुबह फांसी के फंदे पर झूलती हुई पायी गयी। पुजारी की लाश मंदिर में ही लटक रही थी।

इसके बारे में तब पता चला जब आसपास के लोगों ने देखा कि आज सुबह से मंदिर के दरवाजे नहीं खुले हैं। पड़ोसियों ने पीछे की दीवार से कूदकर अंदर देखा तो सन्न रह गए। पुजारी के बेटे का शरीर मंदिर में लगे पंखे से लटका हुआ था।

मूल रूप से हरदोई निवासी 61 वर्षीय विजय नारायण दीक्षित बरेली के थाना बारादरी स्थित एक मंदिर में पुजारी हैं। वह यहां अपनी पत्नी और 30 वर्षीय गोद लिए पुत्र राम दीक्षित उर्फ मनीष दीक्षित के साथ मंदिर के प्रांगण में ही रहते हैं। बीती मंगलवार 23 जून को विजय नारायण दीक्षित अपनी पत्नी सहित किसी काम से हरदोई गए हुए थे। आज शुक्रवार सुबह 26 जून उन्हें थाना बारादरी पुलिस द्वारा अपने पुत्र के फांसी लगा लेने की सूचना मिली।

पुजारी नारायण दीक्षित पिछले तकरीबन 10 वर्षों से इस मंदिर के परिसर में रहकर पूजा पाठ का काम कर रहे थे, जिसमें उनका गोद लिया गया पुत्र राम भी हाथ बंटाता था। आज गुरुवार सुबह 26 जून को जब काफी समय बीत जाने के बाद भी मंदिर परिसर का दरवाजा नहीं खुला तो आस पड़ोस के लोगों को कुछ शंका हुई, जिसके बाद कुछ लोग प्रांगण के पीछे की दीवार फांदकर अंदर गए। अंदर जाकर देखा तो पुजारी के 30 वर्षीय बेटे का शव लटक रहा था।

लोगों ने इस घटना की सूचना नजदीकी थाना बारादरी में दी। मौके पर पहुंची पुलिस को मंदिर परिसर में किसी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस इसे प्रथमदृष्टया आत्महत्या का मामला मानकर ही चल रही है। 30 वर्षीय मृतक राम दीक्षित की लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

इस मामले में बारादरी थानाध्यक्ष सुतांशु शर्मा ने जनज्वार से हुई बातचीत में बताया कि प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि राम दीक्षित ने आत्महत्या की है। पूछताछ में पता चला है कि मृतक अंतमुर्खी स्वभाव का था और अपनी भावनाओं को किसी के साथ साझा नहीं करता था। लड़के के माँ-बाप हरदोई से आ चुके हैं। सभी दुखी हैं, हम पूछताछ करने की कोशिश कर रहे हैं। लड़के को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। दो बिंदुओं पर जांच चल रही है, जैसा भी होगा, कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it