Top
उत्तर प्रदेश

फ़िल्मी है विकास दुबे की प्रेम कहानी, बंदूक की नोंक पर रिचा निगम से विकास दुबे ने रचाई थी शादी

Janjwar Desk
9 July 2020 8:29 AM GMT
फ़िल्मी है विकास दुबे की प्रेम कहानी, बंदूक की नोंक पर रिचा निगम से विकास दुबे ने रचाई थी शादी
x
विकास की जो लवस्टोरी सामने आई है वो काफी चौंकाने वाली है, बता दें कि आज से करीब 20-21 साल पहले विकास दुबे कानपुर में शास्त्री नगर में अपनी बुआ के घर पढ़ाई करने आया था, वहीं पड़ोस में एयरफोर्स कर्मी एचपी निगम यानी की ज्ञानेंद्र के पिता का घर था, घर में ज्ञानेंद्र अपनी बहन रिचा और मां-बाप के साथ रहता था, विकास को रिचा उर्फ सोनू पहली नजर में भा गई थी

जनज्वार। आखिरकार कानपुर शूटआउट का मुख्य आरोपी विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार हो गया है, गुरुवार को विकास दुबे को उज्जैन पुलिस ने महाकाल मंदिर के बाहर से अरेस्ट किया है, उज्जैन के डीएम के मुताबिक आज सुबह विकास महाकाल मंदिर परिसर में पहुंचा, जहां उसे सुरक्षाकर्मियों ने पहचान लिया, उसे महाकाल मंदिर थाना में ले जाया गया। जहां उससे पूछताछ की जा रही है।

मालूम हो कि यूपी के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों को मारने के बाद विकास दुबे कल फरीदाबाद में दिखाई दिया था और उसके बाद उसकी गिरफ्तारी एमपी से हुई है, बता दें कि विकास दुबे यूं ही एमपी नहीं भागा था, बल्कि मध्य प्रदेश से उसका नाता काफी पुराना है ,या यूं कह लीजिए वो यहां का दामाद है, दरअसल आज से 20 साल पहले उसने यहां के शहडोल जिले के बुढ़ार कस्बे की रिचा निगम उर्फ सोनू से प्रेम विवाह किया था।

इस कुख्यात अपराधी की शादी की कहानी भी काफी डरावनी है, दरअसल रिचा का भाई ज्ञानेंद्र निगम और विकास दुबे आज से 25 साल पहले दोस्त हुआ करते थे, तब विकास जुर्म की दुनिया से दूर था, ऐसा ज्ञानेंद्र ने पुलिस को बयान दिया है, उसने बताया कि दो आपराधिक केसों में उसका विकास के साथ नाम आने के बाद वह कानपुर से बुढ़ार आ गया था और विकास का साथ छोड़ दिया था। लेकिन उसकी बहन और विकास एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे और शादी करने का फैसला कर लिया, हमलोगों ने इसका विरोध किया था, तो विकास मरने-मारने पर उतर आया था।

दरअसल विकास की जो लवस्टोरी सामने आई है वो काफी चौंकाने वाली है, बता दें कि आज से करीब 20-21 साल पहले विकास दुबे कानपुर में शास्त्री नगर में अपनी बुआ के घर पढ़ाई करने आया था, वहीं पड़ोस में एयरफोर्स कर्मी एचपी निगम यानी की ज्ञानेंद्र के पिता का घर था, घर में ज्ञानेंद्र अपनी बहन रिचा और मां-बाप के साथ रहता था, विकास को रिचा उर्फ सोनू पहली नजर में भा गई थी, धीरे-धीरे विकास और ज्ञानेंद्र में मित्रता हो गई, विकास का रिचा के घर आना-जाना शुरू हो गया था, रिचा भी विकास से प्रेम करने लगी थी और एक दिन विकास ने घरवालों के सामने रिचा से शादी करने का प्रस्ताव रखा।

लेकिन तब रिचा के माता-पिता ने इस शादी से मना कर दिया और कहा कि वो दूसरी जाति में शादी नहीं करेंगे, इसके बाद विकास को घर आने से मना कर दिया गया और रिचा को भी उससे मिलने से रोक दिया गया, जिसके बाद विकास दुबे ने घरवालों पर बंदूक तान दी और रिचा को भगाकर ले गया और कानपुर में शादी कर ली थी।

लेकिन इसके कुछ वक्त बाद ही रिचा विकास को छोड़कर अपने घर वापस आ गई थी, घरवालों से उसने माफी मांग ली थी लेकिन विकास दुबे उसे धमकाकर वापस अपने साथ ले गया, तब से ज्ञानेंद्र का विकास और रिचा से कोई संबंध नहीं है, ज्ञानेंद्र ने कहा कि बरसों से उसकी रिचा और विकास से बात नहीं हुई है। वैसे रिचा निगम, अपने बेटों के साथ लखनऊ में रहती थी लेकिन कानपुर एनकाउंटर के बाद से वो अपने बेटों के साथ फरार है।

Next Story

विविध

Share it