Top
राष्ट्रीय

पश्चिम बंगाल में भाजपा विधायक देबेंद्र नाथ राय का शव फंदे से लटका मिला, भाजपा बोली - तृणमूल ने करायी हत्या

Janjwar Desk
13 July 2020 6:19 AM GMT
पश्चिम बंगाल में भाजपा विधायक देबेंद्र नाथ राय का शव फंदे से लटका मिला, भाजपा बोली - तृणमूल ने करायी हत्या
x
भारतीय जनता पार्टी ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए सीबीआइ जांच की मांग की है...

जनज्वार। राजनीतिक हिंसा के लिए चर्चित पश्चिम बंगाल में फिर एक बार ऐसी घटना घटित हुई है। पश्चिम बंगाल की हेमताबाद विधानसभा सीट से भाजपा विधायक देबेंद्र नाथ राय का शव सोमवार (13 July) की सुबह फांसी के फंदे से लटका हुआ मिला है। उनका शव उत्तर दीनाजपुर जिले में उनके गांव में स्थित घर के पास इस हालत में मिला है। पश्चिम बंगाल भाजपा ने हत्या की आरोप लगाया है और जांच की मांग की है।


पश्चिम बंगाल भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने कहा है कि हम देबेंद्र नाथ राय की हत्या की सीबीआइ जांच की मांग करते हैं। इस हत्या के पीछे तृणमूल कांग्रेस के होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि हत्या कर उनके शव को ऐसे लटका दिया गया है जैसे उन्होंने आत्महत्या की हो। उन्होंने कहा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसकी सीबीआइ जांच का आदेश दें।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने भी इस घटना की निंदा की है।

भाजपा के प्रभारी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इस घटना की ंिनंदा करते हुए ट्विटर पर इसे निंदनीय व कायरतापूर्ण कृत्य बताया। उन्होंने लिखा कि ममता बनर्जी के राज में भाजपा नेताओं की हत्या का दौर थम नहीं रहा है। सीपीएम छोड़ भजपा में आये हेमताबाद के विधायक देबेंद्र नाथ राय की हत्या कर दी गई। उनका शव फांसी पर लटका मिला।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि लोकतंत्र को कैसे कुचला जाता है कि पश्चिम बंगाल की ममता सरकार इसका जीवंत उदाहरण है। राजनीतिक मतभेदों को हिंसक तरीके से दबाया जा रहा है, लेकिन लोकतंत्र का ये मखौल ज्यादा दिन का नहीं है। आखिर ममता राज का फैसला जनता ही करेगी।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्विटर पर लिखा कि भाजपा विधायक देवेंद्र नाथ राय की संदिग्ध हत्या आहत करने वाली व निंदनीय है। ममता सरकार में गुंडा राज और कानून व्यवस्था की विफलता को यह बतलाता है। लोग भविष्य में इस सरकार को माफ नहीं करेंगे। हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं।

विधायक के मौत मामले में पश्चिम बंगाल पुलिस का बयान आया है। पुलिस ने ट्विटर पर कहा है कि उन्होंने खुदकुशी की है और सूसाइड नोट मिला है, जिसमें दो लोगों के नाम का उल्लेख है। पुलिस ने कहा है कि पोस्टमार्टम कराया जा रहा है और फोरेंसिक टीम से जांच करायी जा रही है। पश्चिम बंगाल पुलिस ने लोगों से आग्रह किया है कि वे इस मामले में अटकलें नहीं लगाएं।



Next Story

विविध

Share it